सीधी, नईदुनिया प्रतिनिधि। सतना जिले के मैहर सिविल अस्पताल की एक तस्वीर वायरल हो रही है। तस्वीर में एक पीड़ित बालिका जमीन पर बैठ कर खून चढ़वा रही थी और मां खून की थैली पकड़े खड़ी है। पीड़ित बालिका का नाम संतोषी केवट है। बताया गया है कि 15 साल की संतोषी का हीमोग्लोबिन कम था, जिसके कारण उसे ब्लड चढ़ाया गया, लेकिन अस्पताल में बेड खाली नहीं तो तैनात स्टाफ ने जमीन में बैठाकर ही खून चढ़ा दिया और मां को थैली पकड़ा दी।

ब्लड ट्रांसफ्यूजन किये जाने का फोटो सोशल मीडिया में वायरल होने पर कलेक्टर अनुराग वर्मा ने घटना को संज्ञान में लेकर सीएमएचओ डा अशोक कुमार अवधिया को मौके पर पहुंच कर जांच करने के निर्देश दिए।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अवधिया ने बताया कि 15 वर्षीय बालिका संतोषी केवट को हीमोग्लोबिन अत्यंत कम होने पर मैहर अस्पताल में बिस्तर अनुपलब्ध होने से जमीन में बेड लगाकर ब्लड ट्रांसफ्यूजन किया जा रहा था। मौके पर पहुंच कर बालिका को बेड की व्यवस्था करवाई गई और ट्रांसफ्यूजन किये जाने के बाद बालिका अपने घर चली गई है।

ब्लड ट्रांसफ्यूजन की मरीज को उचित व्यवस्था नहीं करने पर मैहर अस्पताल के प्रभारी डॉ प्रदीप निगम की एक वेतन वृद्धि और स्टाफ नर्स अंजू सिंह की दो वेतन वृद्धि तत्काल प्रभाव से रोकने के निर्देश दिए गए हैं।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close