तीन से चार किमी जाकर 50-60 बच्चों की 2 घंटे ले रहे कक्षाएं

लॉकडाउन में पढ़ाई न हो प्रभावित, इसलिए की पहल

100 सीधी। मोटरसाइकिल में लगे बोर्ड को पढ़ाते शिक्षक।

101 सीधी।छात्रों को पढ़ाते शिक्षक।

नीलांबुज पांडे

सीधी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। लॉकडाउन शुरू होने से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही थी ऐसे में एक शिक्षक मोटरसाइकिल में बोर्ड, लाउडस्पीकर लगाकर रोजाना 3 से 4 किमी एरिया में जाकर बच्चों को पढ़ाने का काम कर रहे हैं। शिक्षक के इस अनूठी पहल पर राज्य शिक्षा केंद्र ने भी उन्हें बधाई दी है। इस पहल से रोजाना करीब 50 से 60 बच्चे डेढ़ से 2 घंटे की पढ़ाई कर रहे हैं।

शिक्षक शरद पांडे बताते हैं कि शुरुआती लॉकडाउन में बच्चों की पढ़ाई पूरी तरह से प्रभावित हो रही थी। लॉकडाउन 4 लगते ही मुझे ऐसा लगा कि बच्चों की पढ़ाई को लेकर तरीका बदला जाए ताकि बच्चों की पढ़ाई प्रभावित ना हो। ऐसे में एक बोर्ड, लाउडस्पीकर और कुछ किताबें मोटरसाइकिल में स्टैंड बनाकर बच्चों की पढ़ाई के लिए स्थान चिन्हित किया। शाहपुर स्कूल के नवजीवन एक, दो, तीन और चार सेक्टर को चिन्हित किया गया। इंस्पेक्टरों के आसपास रहने वाले बच्चों को और उनके माता-पिता से पहले इस बात की जानकारी दी गई। अभिभावकों से राय मशवरा भी लिया गया। बच्चों और अभिभावकों के पढ़ाई के प्रति जिज्ञासा को देख अपने बनाए गए रूठ के हिसाब से बच्चों तक पहुंचना शुरू किया। बच्चों को विज्ञान, अंग्रेजी के अलावा उन्हें जिस सब्जेक्ट में परेशानी होती है उसे भी बताने की पूरी कोशिश की जा रही है। बोर्ड पर लिखने और समझाने से सभी छात्रों को एक साथ समझा दिया जाता है वही खुले स्थान पर सुनाई नहीं देने की स्थिति में लाउडस्पीकर का भी प्रयोग करते हैं ताकि बच्चों को पढ़ाई में कोई असुविधा नहीं हो।

खुद के पैसे से खरीदा सामग्री

शरद पांडे शिक्षक बताते हैं कि शुरुआती समय में पढ़ाई के लिए जब हम घर से निकले तो देखा कि बोर्ड और स्पीकर के बगैर बच्चों को पढ़ाई कर आना एक महज दिखावा रह जाएगा। ऐसे में खुद मैंने एक बोर्ड और लाउडस्पीकर खरीदा जिससे बच्चों को बोर्ड में आसानी से समझाया जा रहा है तो वहीं आवश्यकता के अनुसार स्पीकर का भी प्रयोग कर लेते हैं।

इनका कहना

लॉकडाउन में बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही थी ऐसे में मुझे लगा कि बच्चों के लिए ऐसा कुछ इंतजाम किया जाए ताकि उन्हें बढ़ाया जा सके। मोटरसाइकिल में बोर्ड बनाया स्पीकर लेकर चार मोहल्ले चिन्हित किए जहां 15 से 20 बच्चों को शारीरिक दूरी बनाकर पढ़ाया जा रहा है। मेरा प्रयास होगा कि जब तक लॉकडाउन का असर होगा तब तक मैं इन बच्चों को लगातार पढ़ाता रहूंगा।

शरद पांडे, शिक्षक

लॉकडाउन के दौरान मार्च महीने में हम लोग एकदम शिक्षा से दूर हो गए थे लेकिन अब लगातार पढ़ाई हो रही है। विज्ञान और गणित विषय के अलावा जरूरत पड़ने पर हर विषय समझाया और बताया जा रहा है।

प्रीति साकेत

छात्रा कक्षा आठवीं

शरद पांडे शिक्षक शाहपुर घूम घूम कर बच्चों को पढ़ाने का काम कर रहे हैं। बच्चों की पढ़ाई प्रभावित ना हो ऐसे में उनका यह कदम सराहनीय है।

बृजेश मिश्रा

जिला शिक्षा अधिकारी सिंगरौली

अब किराए के मकान में नहीं रहेगा आंगनबाड़ी केंद्रः शकुंतला

कुपोषण को मिटाने में आंगनबाड़ी केंद्रों भूमिका

102 सीधी। आंगनबाड़ी केंद्र का लोकार्पण करती शकुंतला धर्मेंद्र सिंह परिहार जनपद अध्यक्ष।

सीधी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आंगनबाड़ी केंद्र मोहल्ले में साफ-सुथरा और सजा हुआ होना चाहिए। यहां नवजात शिशु से लेकर छोटे बच्चों का टीकाकरण, पोषण आहार के साथ उन्हें खेल-खेल शिक्षा की भी व्यवस्था होती है। मेरा प्रयास होगा कि जनपद पंचायत सीधी क्षेत्र के प्रत्येक ग्राम पंचायत जहां किराए के मकान में आंगनबाड़ी केंद्र चल रहे हैं उन्हें स्वयं का आंगनबाड़ी केंद्र मिल सके। गुरुवार को जनपद पंचायत सीधी के बभनी गांव में गरीब कल्याण योजना अभियान के तहत नवनिर्मित आंगनबाड़ी केंद्र लोकार्पण के दौरान शकुंतला धर्मेंद्र सिंह परिहार जनपद अध्यक्ष सीधी ने कहा। बता दें कि शिवराज सिंह चौहान वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए यह कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

धर्मेंद्र सिंह परिहार विधायक प्रतिनिधि ने कहा कि शिवराज सिंह की सरकार हमेशा से गांव में रहने वाले हर व्यक्ति का ख्याल और उनके जरूरतों को पूरा करने का प्रयास कर रही है। चाहे वह आंगनबाड़ी केंद्र, समुदायिक भवन, सर्वजनिक शौचालय के साथ कई ऐसी योजनाएं क्रियान्वित की जा रही। इन योजनाओं को पूरा करने का प्रयास शकुंतला सिंह परिहार जनपद अध्यक्ष द्वारा किया जा रहा है।

कार्यक्रम में राकेश गौतम, राजीव मिश्रा जनपद पंचायत सीईओ, संदीप सिंह गहरवार, संतोष पांडे, उमाशंकर यादव, रण बहादुर सिंह सेंगर, ललन सिंह, संजय सिंह, राजेश द्विवेदी, दिनेश द्विवेदी, विनोद सिंह परिहार, किरण विश्वकर्मा सरपंच, निर्मला चतुर्वेदी उपसरपंच, भोले प्रसाद के साथ भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

996 लाडली लक्ष्मी हितग्राहियों को बांटी 24 लाख रुपये से अधिक की छात्रवृत्ति

15 नव निर्मित आंगनबाड़ी भवनों का किया ई-लोकार्पण

103 सीधी। कलेक्ट्रेट सभागार में 15 नव निर्मित आंगनबाड़ी भवनों का किया ई-लोकार्पण।

सीधी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में पोषण महोत्सव का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सीधी जिले के 15 नव निर्मित आंगनबाड़ी केंद्रों सहित प्रदेश की नव निर्मित 601 आंगनबाड़ी भवनों का ई-लोकार्पण किया गया। मुख्यमंत्री चौहान द्वारा ई-लाडली लक्ष्मी प्रमाण पत्रों का वितरण तथा 6वीं एवं 9वीं कक्षा में प्रवेश प्राप्त करने वाली लाडली लक्ष्मी योजना की हितग्राहियों को छात्रवृत्ति का वितरण किया गया। सीधी जिले की कक्षा 6वीं में प्रवेश करने वाली 791 लाडली लक्ष्मी को 2 हजार रुपये प्रत्येक के मान से 15 लाख 82 हजार रुपये तथा कक्षा 9वीं में प्रवेश करने वाली 205 लाडली लक्ष्मी को 4 हजार रुपये प्रत्येक के मान से 8 लाख 20 हजार रुपये की छात्रवृत्ति प्रदाय किये गये। इसके साथ ही सीधी जिले अंतर्गत 2079 ई-लाडली प्रमाण पत्र का वितरण किया गया। इस अवसर पर प्रदेश को कुपोषण मुक्त करने का संकल्प लिया गया। प्रदेश के सभी अति कम वजन एवं कम वजन के बधाों के पोषण स्तर में सुधार के लिए दुग्ध वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्यमंत्री द्वारा किया गया।

जिला स्तरीय कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विधायक धौहनी कुंवर सिंह टेकाम द्वारा जिला स्तरीय पोषण प्रबंधन रणनीति का विमोचन किया गया। कलेक्टर रवींद्र कुमार चौधरी ने कहा कि कुपोषण को दूर करना एक बड़ी चुनौती है। इसे दूर करने के लिए एक रणनीति के अंतर्गत कार्य करने की आवश्यकता है। कलेक्टर चौधरी ने कहा कि इसके लिए एक कोर टीम का निर्माण किया जाएगा जो जिले में कुपोषित बधाों की संख्या के आधार पर स्थानों का चिन्हांकन करेगी तथा एरिया आधारित अप्रोच द्वारा कुपोषण पर प्रहार किया जाएगा।

जिला कार्यक्रम अधिकारी अवधेश सिंह ने बताया कि ग्राम एवं नगरीय क्षेत्र के वार्ड की स्वास्थ्य, पोषण कार्य योजना का वाचन सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में किया गया। प्रत्येक ग्राम तथा नगरीय क्षेत्र के कुपोषण की रोकथाम एवं निवारण हेतु प्रयास किए जाने के लिए पोषण संकल्प सभी आंगनबाड़ी में किया गया। आंगनवाड़ी केंद्रों में विभाग के सहयोग से फलों एवं सब्जियों के पौधारोपण कर 100 पोषण वाटिका का निर्माण आंगनबाड़ी में प्रारंभ किया गया। 23309 कुपोषित एवं अति गंभीर कुपोषित बधाों को ग्रामीण विकास विभाग के सहयोग से दूध वितरण का कार्यक्रम प्रारंभ किया गया। प्रधानमंत्री मातृवदना योजना अंतर्गत 4153 प्रथम गर्भवती महिलाओं को प्रथम किश्त की राशि एक हजार रुपये के मान से उनके बैंक खाते में भुगतान किया गया।

जिले में मिले 14 नए कोरोना संक्रमित, नौ लोगों ने जीती कोरोना से जंग

कुल संक्रमित 574, डिस्चार्ज 400, एक्टिव केस 174, मौत 2

सीधी (नईदुनिया)। जिले में14 लोग पॉजिटिव पाए गए है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएल मिश्रा द्वारा जानकारी दी गई है। रैपिड एंटीजन किट द्वारा दक्षिण करौंदिया से 1, जिला अस्पताल से 1, आजाद नगर से 1, निगरी से 1, अमिलिया से 1,सिहावल से 1 कुल 6 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। तथा ट्रू नाट लैब जिला अस्पताल सीधी की जांच में जिला जेल से 2, प्रेम नगर सीधी से 2 कुल 4 है। देर शाम को प्राप्त वायरोलॉजी लैब रीवा मेडिकल कॉलेज से 4 लोगों की पॉजिटिव रिपोर्ट आई है जिसमें 2 चुरहट से है, 1 हरदिहा से और दढ़िया से 1 हैं। उन्होंने बताया कि उक्त सभी पॉजिटिव केस को आइसोलेशन में रखा गया है। कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और कंटेन्मेंट एरिया बनाने की कार्रवाई की जा रही है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिश्रा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से 9 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। सभी को अपने घर पर होम आइसोलेशन में एक सप्ताह रहने के लिए समझाइश देते हुए आवश्यक दवाओं के सेवन करने के लिए दवा प्रदान की गई है तथा सभी आवश्यक सावधानियां रखने की सलाह दी गई है।

अब जिले में कुल 576 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। अब तक 400 व्यक्तियों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। अब जिले में कुल एक्टिव केस 174 हो गए हैं। अभी तक 199 कंटेनमेंट एरिया बनाए गए हैं जिसमें से 148 कंटेनमेंट एरिया से मुक्त हो चुके हैं और 51 कंटेनमेंट एरिया अभी एक्टिव है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020