सतना, नईदुनिया प्रतिनिधि, Navratri 2020। आज शारदीय नवरात्र का छठवां दिन है। नवरात्र का यह दिन मां कात्यायनी को समर्पित होता है। पुराणों के अनुसार महिषासुर का वध करने वाली देवी मां कात्यायनी को महिषासुर मर्दनी के नाम से भी पुकारते हैं। भक्त मां के इस रूप से अपने सभी कष्टों को दूर करने का वर मांगते हैं। इसी रूप के दर्शन करने आज छठवें दिन सुबह चार बजे से मैहर धाम में भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया। त्रिकूट पर्वत विराजमान मैहर स्थित जगत जननी मां शारदा देवी का नवरात्र के षष्टी पर प्रात: कालीन कात्यायनी श्रृंगार किया गया।

रोपवे से पहुंच रहे प्रतिदिन पांच हजार भक्त: जगत जननी मां शरद के दिव्य दर्शन एवं महाआरती में शामिल होने सुबह से ही लोग पहुंचने लगे हैं। लोग रोपवे से भी जल्द दर्शन कर लौट रहे हैं। रोपवे प्रबंधन के अनुसार इन दिनों पांच से छह हजार श्रद्धालु रोजाना रोपवे से मां के दर्शन करने जा रहे हैं।

स्कैनर से हो रही गिनती

नवरात्र मेला मां शारदा देवी मंदिर दर्शन करने वाले यात्रियों की भारी भीड़ उमड़ रही है। हालांकि यह संख्या बीते साल की अपेक्षा कम है लेकिन प्रशासनिक आंकड़ों के अनुसार मां शारदा देवी मंदिर दर्शन करने गरीब 34 से 40 हजार की संख्या में श्रद्धालु प्रतिदिन माता के दरबार पर मत्था टेक रहे हैं। उन्हें प्रशासनिक सुरक्षा व्यवस्था के साथ सुरक्षित कोविड-19 के संक्रमण की जांच के बाद मंदिर दर्शन करने सुरक्षित पहुंचाया जा रहा है। शारदा प्रबंधक समिति मंदिर गेट में स्कैनर से श्रद्धालुओं की स्कैनिंग करा रही है। मैहर एसडीएम सुरेश अग्रवाल ने बताया कि स्कैनिंग से लोगों के शरीर का तापमान जांच कर ही लोगों को मंदिर में प्रवेश दिया जा रहा है। इसी से लोगों की गिनती भी हो रही है।

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस