पन्ना (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अंतराष्ट्रीय शरद पूर्णिमा महोत्सव को लेकर जहां पूनम की जागनी की रात रास रंग में डूबे रहे श्रद्घालु तो वहीं दूसरे दिन भी सुबह से सांस्कृतिक कार्यक्रम होने के पश्चात जागनी की रात में गरबा रास के साथ-साथ रास मंडल के सामने चल रहे भजनों में श्रद्घालु सुंदर साथ जमकर झुमते रहे।

मालूम हो कि पद्मावती पुरी पन्ना धाम में अंतर्राष्ट्रीय शरद पूर्णिमा उत्सव बड़े ही उत्साह और प्रेम के साथ मनाया जाता है इस उत्सव में शामिल होने के लिए पूनम की रात में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सपरिवार शामिल हुए थे। निरंतर 5 दिनों तक चलने वाले इस महाराज के आयोजन में देश के कोने-कोने से लोग आकर अपनी भागीदारी दिखाते हैं और यहां चल रहे अनंत प्रेम रस में डूबे नजर आते हैं। वही देश के कोने-कोने से आए धर्माचार्य और संतो का समागम से वातावरण और धार्मिक हो जाता है । श्री प्राणनाथजी मंदिर प्रांगण के ब्रह्म चबूतरे पर चहू और रास के रमैया के जयकारों से मंदिर प्रांगण के साथ साथ पन्ना शहर गूज उठता है। अखण्ड मुक्तिदाता निष्कलंक बुद्घ अवतार श्री प्राणनाथ जी 5 दिनों तक चलने वाले इस महारास में सुन्दरसाथ के साथ साक्षात उन्हें रासमण्डल में परमधाम के वास्तविक सुख व अध्यात्मिक दृष्टिकोण से रत करते हुए उनका जीवन धन्य करते हैं। अखण्ड मुक्तिदाता निष्कलंक बुद्घ अवतार श्री प्राणनाथ जी 5 दिनों तक चलने वाले इस महारास में सुन्दरसाथ के साथ साक्षात उन्हें रासमण्डल में परमधाम के वास्तविक सुख व अध्यात्मिक द्रष्टिकोण से रत करते हुए उनका जीवन धन्य करेंगे।

ढोलक और मजीरो की ताल पर गरबा करते हैं युवक युक्तियां

रात भर चलने वाले में गरबा में युवक युक्तियां ढोलक और मजीरो की ताल पर बहुत आकर्षक ढंग से नृत्य करते दिखते हैं विभिन्न पोशाकों में सजे धजे लो लोग अपने धनी के रंग में रंगे हुए दिखते हैं सारी सुध बुध छोड;कर अपनी मस्ती में मस्त होकर गरबा नृत्य करते हुए पूरी रात बिताते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local