सीहोर। नगर पालिका क्षेत्र के 35 वार्डों में चुनाव प्रचार ने जोर पकड़ लिया है। अधिकतर वार्ड में प्रत्याशी व समर्थक घर-घर दस्तक दे रहे हैं, वहीं वाहनों से भी प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार चल रहा है। वैसे तो नगर में अस बार 149 प्रत्याशी मैदान में है, लेकिन अब तक सिर्फ 61 प्रत्याशियों ने ही वाहन की अनुमति ली हैं। अधिकांश प्रत्याशी मतदाओं के घर-घर पहुंचकर अपने पक्ष में मतदान की अपील कर रहे हैं। वहीं कुछ वार्डों में दिग्गज भी ढोल-ढमाकों के साथ प्रचार में उतर रहे हैं। अध्यक्ष के लिए अप्रत्यक्ष प्रणाली होने से कमजोर वार्ड भी प्रमुख दलों के नेता वोट मांगते हुए नजर आ रहे हैं।

नगरीय निर्वाचन 2022 के तहत नगरीय निकाय के चुनाव दो चरणों में सम्पन्ना कराए जाएंगे। प्रथम चरण का मतदान 6 जुलाई को सीहोर और द्वितीय चरण का मतदान 13 जुलाई को आष्टा में सुबह 7 से शाम 5 बजे तक होगा। प्रथम चरण की मतगणना और परिणामों की घोषणा 17 जुलाई को, दूसरे चरण की मतगणना और परिणामों की घोषणा 18 जुलाई को सुबह 9 बजे से होगी। मतदान ईवीएम के माध्यम से होगा। नगरीय निकाय के चुनावों में जिले के सभी 9 नगरीय निकायो से कुल 1 लाख 94 हजार 524 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। सीहोर नगर में 42 हजार 569 पुरुष, 41 हजार 57 महिला तथा 6 अन्य मतदाता मतदान करेंगे। जो नगर के 35 वार्डों के मैदान में उतरे 149 प्रत्याशी में से अपनी पसंद का प्रत्याशी चुनेंगे। अभी तक सीहोर अनुविभाग कार्यालय से 61 वाहनों की अनुमति ली है, जिनमें मारूती, जीप, कार, मैजिक, आटो, ई-रिक्सा सहित अन्य वाहन शामिल हैं। हालांकि निर्दलीय व छोटे वार्ड के प्रत्याशी चुनवी खर्च बचाने पैदल ही जनसंपर्क कर रहे हैं।

हिसाब में उलझे पार्षद

इस बार अप्रत्यक्ष प्रणाली से चुनाव होने के कारण पार्षदों को भी चुनाव खर्च का हिसाब देना है। जिसके चलते उन्हें एक रजिस्टर दिया गया है, जिसमें प्रतिदिन का खर्च अंकित करना है, जिसमें बिल-बाउचर भी लगाना अनिवार्य है। ऐसे में पार्षद प्रचार के साथ ही हिसाब में उलझा हुआ नजर आ रहा है। इतना ही नहीं हिसाब कम बने इसलिए सोच-समझकर ही खर्च किया जा रहा है।

पार्षद के लिए यह है दरें निर्धारित

निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी अनुसार माइक्रोफोन और एम्लीफायर के साथ लाउडस्पीकर का भाड़ा, जिसमें माईक और एम्लीफायर दो स्पीकर के साथ का भाड़ा 2000 रुपये प्रतिदिन एवं माईक और एम्लीफायर चार स्पीकर के साथ का भाड़ा 3000 रुपये प्रतिदिन निर्धारित किया गया है। इसी प्रकार 15 वाय 15 के पंडाल का भाड़ा तीन रुपये वर्ग फिट, वाटरप्रुफ पंडाल का 10 रुपये वर्ग फिट, सुपर स्ट्रक्चर पंडाल का 25 वर्ग फिट निर्धारित किया गया है। कपड़े के फ्लेक्स, बैनर आदि के लिए कपड़े पर 25 रुपये वर्ग फिट, फ्लेक्स 10 रुपये प्रति स्क्वायर फिट, पम्पलेट 6 वाय 8 इंच सादे 250 रुपये के हजार एवं पम्पलेट 6 वाय 8 इंच रंगीन 1750 रुपये के हजार, कपडों के झण्डे 14 रुपये स्क्वायर फिट, पोस्टर्स 5250 रुपये प्रति हजार 18 वाय 23, लोहे के फ्रेम में होर्डिंग्स 15 रुपये प्रति स्वकायर फिट एवं लकड़ी के फ्रेम में होर्डिंग्स 10 रुपये प्रति स्वकायर फिट, लकड़ी के कट-आउट 12 रुपये स्क्वायर फिट, कपड़े के कट-आउट 25 रुपये स्क्वायर फिट, प्लास्टिक के कट-आउट 15 रुपये स्क्वायर फिट, दरवाजे खड़े करना 750 रुपये प्रतिदिन एवं आर्च खड़े करना 500 रुपये प्रतिदिन निर्धारित किए गए है। इसके साथ ही अन्य 9 अन्य सामग्रियों के विभिन्ना प्रकारों की व्यय सीमा भी निर्धारित की गई है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close