फोटो 18 लाड़कु ई।

लाड़कु ई। ग्राम पंचायत बसंतपुर में हमीदगंज इंडेन ग्रामीण वितरक घोघरा द्वारा एलपीजी पंचायत का आयोजन कि या गया, जिसमें एजेंसी संचालक जितेंद्र पवार द्वारा महिलाओं को गैस के उपयोग के बारे में जानकारी दी गई व खाना बनाते समय क्या -क्या सावधानी बरतनी चाहिए उसके बारे में बताया गया। इस दौरान महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन का वितरण भी कि या गया।

00000000000000

कॉलेज भवन में बनी बाउंड्रीवॉल, छात्राओं की सुरक्षा बढ़ी

-फोटो 22 रेहटी। कॉलेज भवन में बाउंड्रीबाल का निर्माण कराया गया। नवदुनिया

रेहटी। लंबे समय से की जा रही कॉलेज में बाउंड्रीबॉल की मांग अब पूरी हो गई है। कॉलेज में बाउंड्रीबॉल बनने से अब छात्राएं सुरक्षित महसूस करेंगी। नगर परिषद अध्यक्ष सुनीता हरिनारायण चौहान ने पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान से इसके लिए राशि स्वीकृत करवाई। जिसका टैंडर होने के बाद ठेके दार उत्तम सिंह चौहान द्वारा 50 लाख की लागत से बाउंड्रीबॉल का निर्माण कराया गया। बाउंड्रीबॉल के निर्माण होने से छात्राओं ने राहत की सांस ली है।

कॉलेज भवन में करीब 50 लाख की लागत से चारों तरफ बाउंड्रीबॉल बन जाने से यहां छात्राएं अब निडर होकर पढ़ाई कर सकें गी। जहां पहले कॉलेज भवन के चारों ओर खुला मैदान होने से छात्राओं को हमेशा ही डर बना रहता था। छात्रा रागिनी विश्वकर्मा, जया ने बताया कि कॉलेज में बाउंड्रीबॉल का होना बहुत जरुरी था। अब बाउंड्रीबॉल पूर्ण होने से छात्राओं के लिए सुरक्षा प्रदान करेंगी। वहीं कईं मनचलों का सामना भी नहीं करना पड़ेगा।

नई छात्राओं को मिलेगा लाभ

नई शिक्षा सत्र शुरू होने वाला है। ऐसे में कॉलेज में एडमिशन लेने वाली छात्राओं को बाउंड्रीबॉल का लाभ मिलेगा। जहां पहले कॉलेज भवन में बाउंड्रीबॉल नहीं होने से हमेशा ही छात्राओं के बीच चर्चा का विषय बना रहता था कि कॉलेज में छात्राओं के लिए सुरक्षा कोई इंतजाम नहीं हैं। ऐसे में इस वर्ष कॉलेज में एडमिशन लेने वाली छात्राओं को बाउंड्रीबॉल बन जाने से उनकी सुरक्षा पर जो खतरा बना रहता था अब वह पूरी तरह से खत्म हो चुका है।

पहले स्वयं करना पड़ती थी सुरक्षा

स्कू ल की प्राचार्या अंजली गढ़वाल ने बताया कि पहले बाउंड्रीबॉल नहीं होने से हमें छात्राओं की सुरक्षा मुझे स्वयं करना पड़ता था। अब बाउंड्रीबॉल बन जाने से कॉलेज स्टाफ और छात्राओं ने भी राहत की सांस ली है। नगर परिषद अध्यक्ष सुनिता हरिनारायण चौहान ने बताया कि कॉलेज में पढ़ने वाली हमारी बेटियां खूब पढ़े, आगे बढ़े। हम सब यही चाहते हैं लेकि न पहले बाउंड्रीबॉल नहीं होने से छात्राओं की शिकायत भी मेरे पास तक आई थी लेकि न बाउंड्रीबॉल बनने के बाद मुझे भी बहुत अच्छा लग रहा है कि छात्राएं अब सुरक्षित रहकर अपनी पढ़ाई कॉलेज में करेंगी। और अपना मुकाम हासिल कर अपने जीवन का निर्माण करेंगी। कॉलेज मैदान को समतल बनाने के लिए यहां कईं ट्रक मिट्टी पड़ी हुई है। जिनके ढेर जगह -जगह लगे हुए हैं। यहां मिट्टी के ढेर लगे होने से और मैदान समतल नहीं होने से बरसात के दिनों में यहां पानी भर जाता है।