सीहोर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। शनिवार को जिले को तीन आंकड़ों ने डरा दिया। इन आंकड़ों को देखकर आने वाली भयावाह स्थिति का अंदाजा भी लगाया जा सकता है। इसके बाद भी हम लापरवाही बरत रहे हैं। हालांकि जो आंकडे शनिवार को स्वास्थ विभाग ने सार्वजनिक किए हैं। वे शुक्रवार देर रात आई रिपोर्ट के हैं। शनिवार की रिपोर्ट के आंकड़े खबर लिखे जाने तक नहीं मिले थे। शुक्रवार देर रात तक प्राप्त रिपोर्ट में 100 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पाजिटिव प्राप्त हुई है। जिसके बाद जिले में कुल सक्रिय केस 243 हो चुके हैं। वहीं अकेले सीहोर शहर में 58 पाजिटिव मिले हैं। वहीं बुदनी में 28 संक्रमित मिले हैं।

जानकारी अनुसार जिले में 100 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पाजिटिव प्राप्त हुई है। प्राप्त रिपोर्ट में 58 सीहोर शहरी क्षेत्र के है। संक्रमित व्यक्ति दुल्हा बादशाह, इंग्लिशपुरा, मंडी, सुभाष नगर, जनता कालोनी, चाणक्यपुरी, बिजासन धाम, दुर्गा कालोनी, मुर्ली मोहल्ला, कलेक्ट्रेट परिक्षेत्र, कस्बा, पुलिस लाईन, देवनगर, गंगा आश्रम, सत्य सांई परिसर क्षेत्र, चाणक्यपुरी, अमर टाकीज, नेहरू कालोनी, फीगंज, दांगी स्टेट, गल्ला मण्डी, शिकारपुर, पचामा क्षेत्र के निवासी हैं। बुदनी विकासखण्ड से 28 व्यक्ति संक्रमित है। जो बदनी नगरीय क्षेत्र तथा वर्धमान कालोनी, रेहटी कैम्पस, इटारसी, नकटी तलाई शाहगंज ट्रायडेंट कंपनी, वार्ड नंबर 10 रेहटी के निवासी है। आष्टा क्षेत्र से चार की रिपोर्ट पाजिटिव हैं। जो पार्वती थाना क्षेत्र, दरजीपुरा, सिविल कोर्ट परिसर के रहने वाले हैं। नसरुल्लागंज क्षेत्र से चार व्यक्ति संक्रमित मिले हैं जो इटावा कला, वासुदेव व नसरुल्लागंज के निवासी हैं। श्यामपुर विकासखण्ड से तीन व्यक्ति बिल्किसगंज, श्यामपुर व पाटनी के रहने वाले है। इछावर के चार व्यक्ति धामंदा, बलोण्डिया, भाउखेड़ी, जीवनताल के रहने वाले है। जिले में सक्रिय केस की संख्या बढ़कर वर्तमान में 243 हो गई है। अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 10 हजार 392 है। चार व्यक्ति रिकवर हुए है। अब तक कुल स्वस्थ व्यक्तियों की संख्या 10 हजार 26 है। कोरोना संक्रमण से मृत्यु की संख्या 123 है।

1234 सैंपल की रिपोर्ट आज मिलेगी

शनिवार को जिले से कुल 1234 सैम्पल लिए गए थे, जिनकी रिपोर्ट आज शाम तक प्राप्त होगी। सीहोर शहरी क्षेत्र से 278 सैंपल लिए गए, श्यामपुर से 200, नसरुल्लागंज से 275, विकासखंड आष्टा से 247, विकासखण्ड बुदनी के 107 इछावर 127 सैम्पल शामिल हैं।

स्वास्थ विभाग पाजिटिवों को पहुंचा रहा दवाई

जिले में मिल रहे कोरोना पाजिटिवों तक फिलहाल घर-घर कोरोन किट पहुंचाई जा रही है। स्वास्थ अमला लगातार लोगों को रिपोर्ट आने पर घर पर कोविड किट भेजकर उन्हें होम आइसोलेशन की सलाह दे रहा है। वहीं पिछली लहर में भी इसी तरह की व्यवस्था बनाई गई थी। जबकि जब हालात बेकाबू होने लगे थे तो स्वास्थ विभाग ने पाजिटिव के ठीक होने या उसके साथ अनहोनी होने के बाद उस तक दवाइयां पहुंचाई थी।

बुधनी में 100 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं को लगाया गया प्रिकाशन डोज

प्रदेश के साथ ही जिले में भी 10 जनवरी से हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंट लाईन वर्कर व 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए धकोविड-19 वैक्सीनेशन प्रिकाशन डोजध शुरू किया गया है। बुदनी में 100 आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं को प्रिकाशन डोज लगाया गया। प्रिकाशन डोज नागरिकों को कोविड-19 के द्वितीय डोज के नौ माह का समय पूरा होने के बाद ही लगाया जाना है। नागरिकों को प्रिकाशन डोज के लिए पंजीयन की प्रक्रिया पूर्व की तरह ही है।

कितने तैयार हम

कैसी हैं स्वास्थ्य व्यवस्थाएं, कितने तैयार हैं हम

संक्रमितों की बढ़ती संख्या ने जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के भी होश उड़ा दिए हैं अब प्रशासनिक स्तर पर कोविड सेंटरों में तैयारियों काफी तेज कर दी गई हैं। सीहोर सीएमएचओ सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि ब्लाक आष्टा, इछावर, बुदनी, नसरुल्लागंज, सीहोर में एक- एक कोविड सेंटर बनाया जाएगा, तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। जिला मुख्यालय पर नवीन आवासीय छात्रावास भवन में 100 बिस्तर का कोविड सेंटर तैयार हो गया है। जहां पर पंलग और बिस्तर लगा दिए गए हैं। अभी मरीजों को होम आइसोलेट किया जा रहा है। वहीं सीहोर जिला अस्पताल में 30,आष्टा 10, नसरुल्लागंज में 10 बिस्तर का आइसीयू बनकर तैयार है।

जागरूकता के साथ जुर्माना भी

संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए जिला प्रशासन और नगरपालिका अमले द्वारा सयुंक्त कार्रवाई की जा रही है। शनिवार को नगर के विभिन्ना स्थानों पर मास्क न लगाने वालों के खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई की गई, इस दौरान सीहोर एसडीएम बृजेश सक्सेना, नगरपालिका स्वच्छता शाखा प्रभारी अमित यादव सहित अमला मौजूद रहा। श्री यादव ने बताया कि बिना मास्क के घूम रहे लोग और दुकानदारों के चालान बनाए गए, शनिवार को कुल चार हजार रुपए जुर्माना वसूला गया। एसडीएम बृजेश सक्सेना ने यह भी बताया कि जरुरत के मुताबिक मिनि कंटेंमेंट बनाए जा रहे हैं। जिन घरों में ज्यादा संक्रमित मरीज निकल रहे हैं वहीं पर बेरिकेटिंग की जा रही है, मरीजों को मेडिकल कीट देकर घरों में रहने की हिदायत दी गई है, रोजाना फोन पर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली जाती है। किसी को ज्यादा दिक्कत हो उस मरीज को ही कोविड सेंटर या फिर अस्पताल में रखा जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local