आष्टा (नवदुनिया न्यूज)। 18 जनवरी को शासकीय उचित मूल्य दुकान बेदाखेड़ी दुकान कोड 2902008 की शिकायत प्राप्त होने पर राजस्व अधिकारी, खाद्य अधिकारी एवं सहकारिता अधिकारी द्वारा जांच की गई थी, जांच में गंभीर अनियमितता मिली। साथ ही राशन कालाबाजारी व गबन किए जाने के संबंध में शासकीय उचित मूल्य दुकान बेदाखेड़ी प्रबंधक, विक्रेता एवं सहायक विक्रेता सेल्समैन के विरुद्ध आष्टा थाना अंतर्गत एफआइआर दर्ज करवाई गई।

कोरोना काल में गरीबों को भरपेट भोजन मिले, कोई भी गरीब इस काल में आए आर्थिक संकट के कारण खाली पेट न सोये। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एवं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीबों के लिए निशुल्क राशन की व्यवस्था की। उक्त राशन सोसायटियों, शासकीय उचित मूल्य की दुकानों से गरीबों को एवं पात्र हितग्राहियों को मिलना था, लेकिन इन संस्थाओं में किस तरह का बड़ा गोलमाल हुआ है। इसका कल बेदाखेड़ी सोसायटी की जांच हुई और शिकायतों में भांडा फूट गया।

जांच रिपोर्ट में यह गड़बड़ी आइ सामने

कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी रेशमा भांबोर द्वारा 18 पन्नाों की आष्टा पुलिस को की गई शिकायत के बाद आष्टा थाना पुलिस ने प्राथमिक कृषि साख सेवा सहकारी समिति उचित मूल्य दुकान बेदाखेड़ी के प्रबंधक जगदीश शर्मा पिता भंवरलाल शर्मा, सेल्समैन सुरेश कुमार झाला, पिता मांगीलाल झाला,स हायक सेल्समैन महेन्द्र मेवाड़ा पिता देवकरण मेवाड़ा के खिलाफ भादंसं की 1860 की धारा 490, आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3,7 के तहत प्रकरण दर्ज किया है। कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी ने पुलिस को जो शिकायत सौंपी, उसमें बताया कि एसडीएम के निर्देश पर सहकारिता निरीक्षक आरके रायचूर, नायब तहसीलदार अंकिता वाजपेयी, अतुल शर्मा, कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी रेशमा भांबोर ने की जांच उपरांत पाया कि सोसायटी में 22.70 क्विंटल गेहूं स्टॉक में ज्यादा पाया गया। 4.19 क्विंटल नमक अधिक पाया गया, 32 किलो शक्कर कम पाई गई, केरोसीन 376 लीटर कम पाया गया। इसके अलावा जांच में कई गम्भीर अनियमितता पाई गई। वहीं उपभोक्ताओं ने बताया कि उन्हें बेदाखेड़ी सोसायटी से माह दिसम्बर का प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का जो निश्शुल्क अन्ना मिलना था वो दिया ही नहीं। जबकि मुख्यमंत्री अन्नापूर्णा योजना का पैसों से मिलने वाला अनाज दिया गया। मौके पर कई उपभोक्ताओं ने बयान भी दर्ज कराए। इस मामले में सेल्समैन सुरेश झाला को हटा दिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local