फोटो 18 जावर। नीता जैन।

जावर। प्रर्यूषण पर्व के दौरान नगर के दिगंबर समाज द्वारा अनेक कार्यक्रम आयोजित किए गए। नीता जैन ने पांच दिनों तक निर्जला रहकर उपवास कि ए। शनिवार को बैंड-बांजों के साथ जुलूस निकाला जाएगा। जुलूस दिगंबर जैन मंदिर से प्रांरभ होगा जो नगर के मुख्य मार्ग महावीर मार्ग, गांधी चौक होता हुए दिगम्बर जैन धर्मषाला पहुंचा। इसके पूर्व जहां भगवान महावीर स्वामी व श्रीजी की विधिविधान के साथ पूजा अर्चना की जाएगी। ज्ञात रहे कि ओमप्रकाश जैन की बहू नीता जैन ने प्रयुर्षण पर्व के उपलक्ष्य मे पांच दिनों तक निर्जला रहकर पांच कठिन उपवास कि ए थे।

0000000000000

पुलिया पर चार फीट पानी, गर्भवती को खटिया पर लिटाकर पार कराई नदी

-नगर के हालात जानकर भी अन्जान बना शासन-प्रशासन, दो भागो में बंटा जावर नगर

फोटो 19 जावर। कु छ इस तरह महिला को खाट पर लिटाकर नदी पार कराते लोग। नवदुनिया

फोटो 20 जावर। गर्भवती को खाट पर नदी पार कर स्वास्थ्य के न्द्र पहुंचाते नागरिक। नवदुनिया

जावर। नवदुनिया न्यूज

एक सप्ताह से लगातार हो रही भारी बारिश से नेवज नदी उफान पर है। इससे लोग काफी परेशान हैं। गुरुवार को भी नेवज नदी के उफान पर रही। इस बीच नगर के राजेश राव की पत्नी को प्रसव के लिए अस्पताल तक ले जाना था, लेकि न नाईपुरा के पास स्थित पुलिया पर पानी होने के कारण गर्भवती को निकालना मुश्किल हो रहा था। हिंदू उत्सव समिति के अध्यक्ष मदन विश्वकर्मा, नप उपाध्यक्ष शिवम सोनी, तैराक लाखन मोगिया, भवानी शंकर वर्मा, धर्मेन्द्र सिंह, मांगीलाल, दयाराम, संजु शर्मा आदि ने उस पार से पलंग की व्यवस्था कर गर्भवती जो नगर के गड़ी क्षेत्र वार्ड क्रमांक 1 की थी। महिला को पलंग पर लिटाकर सभी ने मिलकर पुलिया पार करवाई व नदी कि नारे पर ही खडी 108 वाहन मे अस्पताल तक ले जाया गया।

राजेश राव ने बताया कि गुरुवार शाम को 6 बजे के करीब पत्नी को दर्द होने लगा। इस पर उसे अस्पताल तक पहुंचाने के लिए नदी के कि नारे पर ले कर आया था, लेकि न पुलिया पर पानी होने के कारण असमंजस की स्थिति बन गई थी। इसी बीच मेरी मदद के लिए लाखनसिंह, हिउस के अध्यक्ष, नप उपाध्यक्ष व अन्य लोग आगे आए। उन्होंने मोहल्ले से पलंग की व्यवस्था की और पलंग पर लिटाकर पुलिया पर करीब तीन से चार फीट पानी होने के बावजूद हिम्मत का काम करते हुए मेरी पत्नी को पुलिया के पार करवाया। इसी बीच नदी के कि नारे पर सूचना देने के बाद 108 एंबुलेंस मौके पर पहुंच गई थी और उसमे लिटाकर तत्काल अस्पताल पहुंचाया।

वैकल्पिक व्यवस्था नहीं होने से नाराजगी

नगर में पिछले एक सप्ताह से हो रही भारी बारिश के चलते नेवज नदी एक सप्ताह से लगातार उफान पर है। जिसके कारण एक सप्ताह से जावर नगर दो भागों में विभाजित हो गया है। नगर में कोई भी बीमार होता है तो उसे समय पर उपचार भी नहीं मिल पा रहा है। पूर्व में कलेक्टर, एसपी नें 9 सितंबर को जावर नाईपुरा स्थित पुलिया पर पहुंचकर निरिक्षण भी कि या था, लेकि न चार दिन बाद भी मरीजों व नागरिको के लिए तहसीलदार व जिला प्रशासन द्वारा कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई, जिससे अब लोगों का शासन-प्रशासन के खिलाफ आक्रोश में बदलने लगा है।

सात दिन में दो बार नीचे आया पानी

नगर में मुख्य पुल निर्माणाधीन है। ठेके दार द्वारा डायवर्ड मार्ग पर बनाई गई पुलिया 4 बार नेवज नदी में बह चुकी है। नगर परिषद द्वारा नाईपुरा पर बनाई गई पुलिया ही लोगों का एक मात्र सहारा है। वह भी क्षतिग्रस्त हालत में है। एक सप्ताह से हो रही भारी बारिश के कारण पुलिया से नेवज नदी का पानी सात दिनों में मात्र दो बार ही उतरा है, जिससे लोगों की परेशानी और बढ़ गई है और लोग आक्रोशित होते जा रहे हैं।

लोगों का कहना है कि भारी बारिश के कारण नेवज नदी लगातार उफान पर है। नाईपुरा स्थित पुलिया पर पानी होने के कारण मार्ग घंटो तक बंद हो जाता है। इस दौरान गंभीर बिमार मरीज भी होता है तो उसे समय पर उपचार नही मिल पाता है। पूर्व में भी नगर के गंजपुरा निवासी एक व्यक्ति को समय पर उपचार नही मिलने से मौत हो चुकी है। जिला प्रशासन को गंभीर रुप से पिडित मरीजों व नागरिको के लिए नगर के निर्माणाधीन मुख्य पुल पर रस्सी पुल बनाकर या कोई भी अन्य वैकल्पिक व्यवस्था करना चाहिए, जिससे मरीजों को समय पर उपचार मिल सके और उनकी जान बचाई जा सके ।

000000

भगवान गणेशजी की प्रतिमाओं का किया विसर्जन

-चल समारोह में अखाडे के उस्तादों ने दिखाए हेरतंगेज करतब

फोटो 21 जावर। गणेश जी का विसर्जन करते हुई समिति के सदस्यगण। नवदुनिया

फोटो 22 जावर। चल समारोह के दौरान बेलगाडी पर सवार होकर निकले भगवान श्रीगणेश। नवदुनिया

जावर। नवदुनिया न्यूज

नगर में दस दिनो से चल रहे गणेशोत्सव का पर्व अंनत चतुर्दशी के अवसर पर गुरुवार को श्री गणेश की प्रतिमाओं के विसर्जन जुलूस के साथ सम्पन्न् हुआ। अंनत चतुर्दशी के अवसर पर नगर के कई स्थानो पर गणेश उत्सव समितियो ने अपने-अपने स्थलो पर स्थाई आकर्षक झांकि यों का प्रदर्शन कि या।

नगर में अंनत चतुर्दशी के अवसर पर नगर के न्यू विट्ठल गणेश उत्सव समिति के नेतृत्व मे एक भव्य चल समारोह नगर में निकाला गया। जिसमें ढोल-ढमाकों व डीजे की धुन पर लोग झूमते हुए नजर आए। शिव व्यायाम शाला के कलाकारों, उस्तादों द्वारा अनेक प्रदर्शन कि ए गए। अखाड़े के उस्ताद दलेपसिंह, खलीफा उस्ताद विजेन्द्रसिंह, नारायणसिंह के नेतृत्व में अखाड़े का प्रदर्शन कि या गया। चल समारोह नगर के गांधी चौक से प्रारंभ हुआ, जो नगर के मुख्य मार्ग श्रीराम मंदिर, पिपली बाजार, गंजपुरा, माता चौक, महावीर मार्ग, बस स्टैंड, शिवाजी नगर होता हुआ बसस्टैंड पहुंचा। यहां से विर्सजन जुलूस कजलास पहुंचा जहां पर स्थित तालाब पर श्री गणेश की विशेष पूजा अर्चना कर अंतिम विदाई दी गई। चल समारोह में न्यू विठ्ल गणेश उत्सव समिति, सिद्धी विनायक गणेश मण्डल, राम मंदिरए शिवाजी नगर, मालीपुरा, पिपली बाजार, आनन्द नगर, नाईपुरा, कृष्ण मंदिर आदि समितिया शामिल थी। नगर मे विसर्जन के दौरान गणेश मण्डलो द्वारा भी जुलूस मे गणपति बप्पा मोरिया अगले बरस तू जल्दी आ के घोष लगाते नजर आए, वहीं नगर में चल समारोह देखने नगर सहित क्षेत्र के लोग सैकडों की संख्या में नजर आए। चल समारोह का नगर के कई संगठनो द्वारा फु ल की बौछार के साथ स्वागत कि या गया।

मेहतवाड़ा मे कि या विसर्जन

ग्राम में दस दिनो से चल रहे गणेशोत्सव का पर्व अंनत चतुर्दशी के अवसर पर श्री गणेश की प्रतिमाओं के विसर्जन जुलूस के साथ सम्पन्न हुआ। अंनत चतुर्दशी के अवसर पर ग्राम में श्री गणेश उत्सव समिति तीन बत्ती चौराहा, अष्ट विनायक गणेश उत्सव समिति, सोनी मोहल्ला, महाकाल गणेश उत्सव समिति, बिलपान चौराहा, इमली पुरा, पटेल मोहल्ला, नेहरू कॉलोनी, लालपुरा आदि समितियों द्वारा आकर्षक झाकि यों का प्रदर्शन कर चल समारोह निकाला गया।

000000000

महावीर स्वामी के जयकारों के साथ निकली शोभायात्रा

-पर्यूषण पर्व पर शोभायात्रा का कि या जगह-जगह पूजन

फोटो 23 जावर। पर्यूषण पर्व के समापन पर निकली शोभायात्रा में शामिल समाज के लोग। नवदुनिया

फोटो 24 जावर। भजनों पर नृत्य करती समाज की युवतियां। नवदुनिया

फोटो 25 जावर। चल समारोह के दौरान चांदी के रथ पर सवार भगवान महावीर। नवदुनिया

जावर। नवदुनिया न्यूज

दिगम्बर जैन समाज के दस लक्षण पर्यूषण पर्व के चलते दसवें दिन समापन के अवसर पर शुक्रवार को जैन समाज द्वारा स्थानीय दिगंम्बर जैन मंदिर से भव्य शोभायात्रा निकाली गई। जिसमे विशेष चांदी के रथ मे भगवान पाश्र्‌वनाथ विराजमान थे। शोभायात्रा दिगम्बर जैन मंदिर से बैड-बाजा व ढोल-ढमाको व भजन कीर्तन के साथ प्रारम्भ हुई जो नगर के मुख्य मार्गो से होती हुई महावीर मार्ग, गांधी चौक, बस स्टैंड, जैन धर्मशाला पहुंची। इस दौरान शोभायात्रा का नगर के कई संगठनों द्वारा स्वागत कि या गया। वहीं जुलूस मे महिलाएं के शरिया साडी व पुरुष सफे द वस्त्र पहने जुलूस मे आर्कषक का के न्द्र रहे। जुलूस के जैन धर्मषाला पहुंचने पर भगवान श्रीजी का जल अभिषेक कर विशेष पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद जल कलश की बोली लगाई गई। शोभायात्रा पुन? धर्मशाला से दिगम्बर जैन मंदिर पहुंची, जहां महाआरती कर महाप्रसादी वितरित की गई।

शोभायात्रा का कि या पूजन

दिगंबर जैन समाज के पर्यूषण पर्व के अंतिम दिन निकाली गई शोभायात्रा में रथ पर सवार भगवान महावीर का समाज के लोगों व नगर के संत श्री रामदास बाबा सेवा समिति, हिंदू उत्सव समिति द्वारा पूजन कर समाज के वरिष्ठजनों का स्वागत कि या गया। इस अवसर पर समाज के अध्यक्ष सुमत लाल जैन, नुतन कु मार जैन, कमलकु मार जैन, देवकु मार जैन, हुकमचन्द्र जैन, मनोहर लाल जैन, मूलचन्द्र जैन, शांतिलाल जैन, राजेश जैन, दिलीप जैन, अनोखीलाल जैन, संतोष जैन, सुनील जैन, सुशील जैन, विजेन्द्र जैन, सजंय जैन, मनोज जैन, विनोद जैन, अजय जैन, मनीष जैन, अभीषेक जैन, संदीप जैन, जिनेश जैन, कमलेश जैन, संजय जैन, छोटू जैन, मुके श जैन, जितेश जैन, शुभम जैन, सेन्की जैन, अनुज जैन, प्रवेश जैन, रचित जैन, सर्वेश जैन, मिलिन जैन, श्रेष्ठ जैन, आर्जव जैन, अर्पित जैन, सुयश जैन, शैलेष जैन, प्रफु ल जैन सहित महिलाएं व बच्चे शामिल थे।