सीहोर। जिले में मौसम का मिजाज बदल हुआ है। बीते दिनों हुई बारिश के बाद से ही धुंध छाई हुई है। बीते सप्ताह के अंत में बारिश हुई। इसके बाद निरंतर रात को बारिश होती है। मावठे की इस बारिश से किसानों को फायदा हो रहा है। वहीं ठिठुरन लगातार बढ़ती जा रही है। ठिठुरन के कारण इस मौसम में पहली बार नपा ने अलाव जलवाए। वहीं किसानों को उम्मीद है कि इस ठंड से गेहूं की फसल को फायदा होगा और पैदावार भी बढ़ेगी। वहीं ज्यादा ठंड से अन्य फसलों को नुकसान हो सकता है। जब तापमान 4 डिग्री के आसपास होगा तो पाला पड़ सकता है। फिलहाल जिले में फसलों को क्षति को लेकर कोई सूचना नहीं हैं। आने वाले दिनों में यदि तामपान ऐसा ही रहता है तो फायदा होगा और यदि ओलावृष्टी या पारा गिरता है तो परेशानी हो सकती है। गया है।

जानकारी अनुसार में शीत लहर का प्रकोप जारी है जो पूरे सप्ताह रहेगा। मंगलवार को जिले का न्युनतम तापमान 5.8 डिग्री और अधिकतम तापमान 19.8 डिग्री दर्ज किया गया। इस तरह का मौसम लगातार 16 जनवरी तक बने रहने की संभावना जताई जा रही है। आने वाले सप्ताह से कुछ परिवर्तन होंगे, लेकिन फिलहाल ठंड से राहत नहीं मलेगी। दिन और रात के समय ठिठुरन बनी रहेगी। वहीं अब बारिश होने की संभावना न के बराबर है, लेकिन बादल खाए रहेंगे। वहीं किसानों के लिए एक अच्छी खबर यह है कि फिलहाल ओलावृष्टी की संभावना न के बराबर है। क्योंकि सप्ताह भर बादर तो छाए रहेंगे, लेकिन बारिश नहीं होगी। इसके साथ ही मौसम विशेषज्ञ एसएस तोमर ने बताया कि फिलहाल उत्तर और पूर्व-उत्तर से चल रही हैं। आगामी समय में बादल हैं, पर बारिश नहीं है। आगामी शुक्रवार तक मौसम इसी तरह का बना रहेगा। उसके बाद बादल छटेंगे। साथ ही यदि हवाओं की दिशा बदलती है तो भी मौसम मेें परिवर्तन हो सकता है। बीते सप्ताह हुई बारिश के बाद तापमान में तेजी से गिरावट दर्ज की गई है। बारिश के बाद कड़ाके की ठंड ने किसानों के चेहरे पर मुस्कान ला दी है। बेमौसम बारिश से किसानों के खेत मे लगी सरसो, गेहूँ, चने जैसी फ़सलो को सबसे ज्यादा फायदा पहुंचा है।

सजग रहें किसान

आरएके कालेज स्थित कृषि मौसम विशेषज्ञ एसएस तोमर ने बताया कि आने वाले दिनों में कड़ाके की ठंड पड़ने और घना कोहरा छाने की संभावना को देखते हुए किसानों को फसलों को पाले से बचाने के लिए भी तैयारियां कर लेनी चाहिए। ठंड बढ़ने पर वहां खेतों की मेढ़ पर शाम के समय धुंआ अवश्य करें, ताकि फसलों को संभावित पाले से बचाया जा सके। तोमर के अनुसार अधिकतम तापमान 19.8 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। आने वाले दिनों में घना कोहरा छाने और दृश्यता कम होने की आशंका भी बन रही है।

नपा ने जलवाए अलाव

बढ़ती ठिठुरन और शीत लहर के चलते नपा ने मंगलवार को शहर के कई चौराहों और मुख्य स्थानों पर अलाव जलवाए गए। जिससे लोगों को राहत मिली। वहीं कई लोग दिन भर ठिठुरते रहे। कई लोगों ने दिन में भी ठंड से राहत पाने के लिए अलाव जलाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local