सीहोर, नवदुनिया प्रतिनिधि। अवकाश का दिन और सप्तमी तिथि एक साथ होने से रविवार को सलकनपुर में भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा। करीब डेढ़ लाख से ज्यादा श्रद्धालु मां विजयासन के दर्शन के लिए सलकनपुर पहुंचे। इसके कारण कई बार जाम की स्थिति भी बनी। दोपहर बाद तो स्थिति ऐसी बन गई कि मुख्य मार्ग पर तीन से चार घंटे तक वाहन फंसे रहे। इस दौरान ऊपर जाने वाला सड़क मार्ग भी पुलिस को कई बार बंद करना पड़ा और यात्रियों को पैदल ही दर्शन के लिए जाना पड़ा। रोपवे पर भी दर्शनार्थियों की लंबी-लंबी कतारें लगी रही, वहीं सीढ़ी मार्ग से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्त मातारानी के दर्शन के लिए पहुंचे। भक्तों के आने का सिलसिला रातभर चलता रहा। महानिशा पूजा होने के कारण रात भर भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंचेंगे। ज्यादातर पदयात्री रात में यहां पहुंचे। सुबह से वाहनों की लाइनें भी लगने लगी। पुलिस ने अवकाश के चलते व्यवस्थाएं पहले से तय कर रखी थी।

भोपाल व भैरुंदा की तरफ से आने वाले भारी वाहनों को मालीबायां से अंदर नहीं जाने दिया। यहां पर पुलिस ने बैरीकेट्स लगा दिए थे। इसी तरह बुदनी से भी भारी वाहनों का प्रवेश बंद कर दिया था। केवल छोटे चार पहिया व दो पहिया वाहनों को ही प्रवेश दिया जा रहा था। यात्रियों की सुविधाओं के लिए बसों को अंदर जाने दिया। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस प्रशासन ने चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात किया था। जगह-जगह पुलिस ने बैरीकेेट्स लगाकर ट्रैफिक को डायवर्ड किया। पार्किंग के लिए मेला ग्राउंड के अलावा मालीबायां की तरफ से आने वाले वाहनों को खेतों में खड़ा करवाया गया, वहीं बुदनी की तरफ से आने वाले वाहनों के लिए भी इटारसी के आसपास पार्किंग बनाई गईं।

उपर जाने वाला मार्ग भी करना पड़ा बंद

मंदिर तक वाहन जाने वाला सड़क मार्ग भी पुलिस को कई बार बंद करना पड़ा। सुबह से ही चार व दो पहिया वाहन उपर जाने लगे थे, लेकिन उपर भी पार्किंग फुल हो गई। वाहनों की कतार मार्ग में लगने लगी तो पुलिस को यह रास्ता भी बंद करना पड़ा। इसी तरह आंवलीघाट की तरफ भी पुलिस ने पार्किंग व्यवस्था की थी। मंदिर परिसर में भी लोगों को धक्का-मुक्की खाना पड़ी। ज्यादा भीड़ बढ़ने के कारण वहां पर लोग भी नहीं समां रहे थे। पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी भी जाम में फंस गए थे।

चारों दिशाओं से हो रही पदयात्रा

शारदीय नवरात्र के एक दिन पहले पितृमोक्ष, भूतड़ी अमावस्या पर लाखों की भीड़ मां विजयासन दरबार में जमा थी। इसके बाद से लगातार भीड़ पहुंच रही है। शनिवार को भी हजारों लोग पहुंचे थे। औसतन प्रतिदिन 50 हजार से ज्यादा लोग नवरात्र में सलकनपुर दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। रविवार को पदयात्रा करने वाले माता के भक्त चारों दिशाओं से माता का ध्वज हाथ में लिए और टोलियों में माता के भजन गाते सलकनपुर पहुंच रहे हैं।

रोप-वे पर भारी भीड़

माता के दरबार में रोप-वे से जाने वाले भक्तों को रोप-वे पर भारी भीड़ होने से उन्हें घंटों रोप-वे से जाने के लिए इंतजार करना पड़ रहा था। रोप-वे से जाने वालों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई थी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close