सीहोर, नवदुनिया प्रतिनिधि। बुधवार को ग्रामीण और नगरी चुनाव के लिए आरक्षण प्रक्रिया पूरी की गई। इस प्रक्रिया को लेकर पार्टियों के कार्यकर्ताओं में कई सवाल हैं। वहीं आरक्षण के बाद कई दावेदारों के चेहरे खिल गए तो कई मायूस हो गए। चुनाव लड़ने की आस लगाए बैठे कई दावेदारों की आस ही खत्म हो गई तो कईयों की लाटरी लग गई। ओबीसी आरक्षण को लेकर लंबे समय से चली आ रही कवायद ने भी ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों को झटका दिया है। हालांकि उनके लिए अनारक्षित सीटों पर चुनाव लड़ने का विकल्प खुला हुआ है, लेकिन उन्हें आस थी कि ओबीसी को अच्छा आरक्षण मिलेगा। दावेदारों को आस थी की जो आरक्षण पूर्व में किया गया था।

उसमें थोड़ा बहुत बदलाव ही किया जाएगा। बाकि सब पूर्व की तरह ही रहेगा, लेकिन आरक्षण में बहुत बदलाव आया है। आरक्षण की प्रक्रिया पूरी होने पर ओबीसी वर्ग में ज्यादा असंतुष्टी है। जिसका विरोध फिलहाल आवेदन, ज्ञापन या किसी अन्य माध्यम से तो ओबीसी ने नहीं किया है, लेकिन इंटरनेट मीडिया पर विरोध दिखाई दे रहा है। वहीं महिला आरक्षण को लेकर भी नगरीय निकाय में कुछ संशय है कि जहां विषम संख्या में सीट थीं। वहां कहीं ज्यादा तो कहीं कम सीट पर महिलाओं को आरक्षण दिया गया। इन सब कारणों के चलते आरक्षण के बाद बाद मीडिया पर भाजपा सरकार के खिलाफ विरोध के स्वर भी सामने आने लगे।

नगरीय निकायों में इन बातों पर संशय और विरोध

- वार्ड दो जो हमेशा अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है उस वार्ड में कभी महिला को मौका नहीं दिया गया। हालांकि जहां किसी वर्ग विशेष की एक सीट होती है वहां आरक्षण की प्रक्रिया लागू नहीं होती, लेकिन कभी भी अनुसूचित जनजाति को मौका नहीं दिया जाना वर्ग की महिलाओं की अनदेखी है।

- सीहोर का वार्ड 6 पहले भी महिला और अब भी महिला के लिए आरक्षति और वार्ड 15 पहले भी पुरुष ओर अब भी पुरुष के लिए आरक्षित नहीं किया रोटेशन

- नगर परिषद आरक्षण में इछवार और कोठरी में महिलाओं की भागीदारी ज्यादा, तो वहीं पांच नगर परिषद में कम

सीहोर नगर पालिका वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-अनारक्षित महिला

2-अनुसूचित जनजाति

3-अनुसूचित जाति

4-ओबीसी

5-ओबीसी

6-ओबीसी महिला

7-अनारक्षित महिला

8-ओबीसी महिला

9-अनारक्षित

10-अनारक्षित

11-अनुसूचित जाति

12-अनारक्षित महिला

13-अनारक्षित महिला

14-अनुसूचित जाति

15-अनारक्षित

16-अनारक्षित

17-अनुसूचित जाति महिला

18-अनारक्षित

19-ओबीसी

20-अनुसूचित जाति महिला

21-ओबीसी महिला

22-अनारक्षित महिला

23-अनारक्षित महिला

24-अनारक्षित

25-अनारक्षित

26-ओबीसी महिला

27-ओबीसी

28-ओबीसी महिला

29-अनारक्षित महिला

30-अनारक्षित

31-अनारक्षित

32-ओबीसी

33-अनारक्षित महिला

34-अनारक्षित महिला

35-अनुसूचित जाति महिला

आष्टा नगर पालिका के वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-ओबीसी

2-अनारक्षित

3-अनुसूचित जाति

4-अनारक्षित

5-अनारक्षित महिला

6-ओबीसी

7-ओबीसी महिला

8-अनारक्षित महिला

9-ओबीसी महिला

10-अनारक्षित महिला

11-अनारक्षित

12-ओबीसी

13-ओबीसी महिला

14-अनुसूचित जाति महिला

15-अनारक्षित

16-अनारक्षित

17-अनारक्षित महिला

18-अनारक्षित महिला

नगर परिषद जावर का वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-अनारक्षित

2-अनुसूचित जाति

3-अनुसूचित जाति महिला

4-अनारक्षित महिला

5-अनारक्षित महिला

6-अनारक्षित

7-ओबीसी महिला

8-अनुसूचित जाति

9-अनुसूचित जाति महिला

10-ओबीसी

11-अनारक्षित महिला

12-अनारक्षित

13-अनारक्षित

14-ओबीसी महिला

15-अनारक्षित

नगर परिषद रेहटी के वार्डो का आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-अनारक्षित

2-ओबीसी महिला

3-ओबीसी

4-अनुसूचित जाति

5-अनारक्षित महिला

6-ओबीसी

7-ओबीसी महिला

8-अनारक्षित

9-ओबीसी महिला

10-अनारक्षित महिला

11-अनारक्षित

12-अनारक्षित

13-अनारक्षित महिला

14-अनारक्षित महिला

15-अनुसूचित जनजाति

नगर परिषद बुधनी वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-अनुसूचित जाति महिला

2-अनारक्षित

3-ओबीसी महिला

4-अनारक्षित महिला

5-अनारक्षित

6-अनारक्षित महिला

7-अनारक्षित

8-ओबीसी

9-अनारक्षित

10-अनारक्षित

11-अनुसूचित जनजाति

12-अनुसूचित जाति

13-अनारक्षित महिला

14-अनुसूचित जनजाति महिला

15-अनुसूचित जाति महिला

नगर परिषद कोठरी वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-अनारक्षित महिला

2-ओबीसी महिला

3-अनारक्षित

4-अनारक्षित

5-ओबीसी

6-अनारक्षित महिला

7-अनुसूचित जाति

8-ओबीसी

9-अनारक्षित महिला

10-अनारक्षित

11-अनारक्षित

12-अनारक्षित महिला

13-ओबीसी महिला

14-अनुसूचित जाति महिला

15-अनुसूचित जाति महिला

नगर परिषद इछावर वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-अनारक्षित

2-ओबीसी महिला

3-ओबीसी

4-अनारक्षित

5-अनारक्षित

6-अनारक्षित महिला

7-अनारक्षित महिला

8-अनारक्षित महिला

9-अनारक्षित

10-अनुसूचित जाति

11-अनुसूचित जाति महिला

12-अनुसूचित जाति महिला

13-अनारक्षित

14-ओबीसी महिला

15-ओबीसी

नगर परिषद शाहगंज वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-ओबीसी

2-ओबीसी महिला

3-अनारक्षित

4-अनुसूचित जाति

5-अनुसूचित जाति महिला

6-अनारक्षित महिला

7-अनारक्षित महिला

8-अनारक्षित महिला

9-अनारक्षित महिला

10-ओबीसी महिला

11-अनारक्षित

12-अनारक्षित

13-ओबीसी

14-अनारक्षित

15-अनुसूचित जनजाति

नगर परिषद नसरुल्लागंज वार्ड आरक्षण

वार्ड- आरक्षण की स्थिति

1-अनुसूचित जाति महिला

2-अनुसूचित जनजाति

3-अनारक्षित महिला

4-ओबीसी

5-अनारक्षित

6-ओबीसी महिला

7-अनारक्षित महिला

8-ओबीसी

9-अनारक्षित

10-अनुसूचित जनजाति

11-अनारक्षित महिला

12-अनारक्षित महिला

13-अनारक्षित

14-ओबीसी महिला

15-अनारक्षित

आरक्षण को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी हो रहा विरोध इंटरनेट पर दिख रहा विरोध

बुधवार को जिला पंचायत कार्यालय में सबसे पहले जिला पंचायत सदस्यों का आरक्षण हुआ। इसके बाद जनपद पंचायत के अध्यक्षों के आरक्षण की प्रक्रिया हुई। दोपहर बाद नगर पालिका व नगर पंचायतों के अध्यक्षों व वार्डों के आरक्षण की प्रक्रिया को किया गया। इस दौरान कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुरए सीइओ जिला पंचायत हर्ष सिंह, एडीएम गुंचा सनोबर, डिप्टी कलेक्टर ब्रजेश सक्सेना, नगर पालिका सीहोर के सीएमओ संदीप श्रीवास्तव, रेहटी नगर पालिका सीएमओ वैभव देशमुख सहित अन्य नगर पंचायतों के सीएमओ, जनप्रतिनिधि सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

इंटरनेट मीडिया पर शुरू हुआ विरोध

पंचायत चुनाव के लिए हुए आरक्षण को लेकर इंटरनेट मीडिया पर ज्यादा विरोध है। जिसको लेकर लोग लिख भी रहे हैं। आष्टा के एक व्यक्ति ने इंटरनेट मीडिया पर लिखा है कि सरकार ने ओबीसी वर्ग के साथ छलावा किया है। आष्टा विधानसभा में पहले 47 सरपंच ओबीसी के थे अब केवर 18 बनेंगे। इस तरह की कई पोस्ट डाली जा रही है।

ये है आरक्षण की स्थिति

जिला पंचायत सीहोर का वार्डवॉर आरक्षण .

वार्ड-आरक्षण की स्थित

1-अनारक्षित

2-अनारक्षित

3-अनारक्षित महिला

4-अनारक्षित महिला

5-ओबीसी महिला

6-अनारक्षित

7-एससी महिला

8-एससी

9-एससी

10-एससी महिला

11-अनारक्षित

12-एसटी महिला

13-ओबीसी

14-अनारक्षित महिला

15-एसटी

16-अनारक्षित महिला

17-अनारक्षित महिला

जनपद अध्यक्ष के आरक्षण की स्थिति

जपं-आरक्षण की स्थिति

आष्टा-एससी महिला

सीहोर-एसटी महिला

इछावर-अनारक्षित महिला

नसरुल्लागंज-अनारक्षित

बुदनी-अनारक्षित

परिसीमन को लेकर आया विरोध

परिसीमन को लेकर पूर्व पार्षद मुकेश मेवाड़ा और अनुप चौधरी ने आपत्ति दर्ज कराई है। उन्होंने लिखा है कि परिसिमन कराए जाने को लेकर पूर्व में कई बार आवेदन दिया है। जिसके बाद भी परिसीमन नहीं किया गया। उपरोक्त गंभीर आपत्तियों का कोई भी निराकरण किया गया है। जिस कारण दुखी होकर फिर से चुनाव प्रक्रिया को रोके जाने को लेकर आवेदन दिया है। वहीं इस संबंध में कोर्ट में याचिका दायर की गई है। इसके बाद भी चुनाव की प्रक्रिया की जा रही है। जिसका आवेदक विरोध करते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close