सीहोर। कोरोना महामारी से बचाने के लिए सरकार द्वारा टीकाकरण कराया जा रहा है, इसी क्रम में जिले में अब तक 18 लाख से ज्यादा टीके लगाए जा चुके हैं। पहली डोज 100 फीसद से ज्यादा लगाई गई थी। वहीं दूसरी डोज भी 100 फीसद को छूने वाली है। वहीं किशोरों को भी टीके लगाए जा रहे हैं। जिसका लक्ष्‌य 98 हजार से ज्यादा था। जबकि अब तक 50 हजार से ज्यादा किशोरों को भी टीके लगाए जा चुके हैं। वहीं अब कई तरह की लापरवाही भी सामने आने लगी हैं। हाल ही में एक मामला एसा भी सामने आया है जिसमें एक मृत व्यक्ति को उसकी मौत के एक माह बाद टीका लगाया गया। मामला शहर के हाउसिंग बोर्ड कालोनी का है जहां हीरालाल गुप्ता की मौत के महिने भर बाद उनका कोरोना वैक्सीन का सर्टिफिकेट जारी किया गया। हीरालाल गुप्ता की मौत 26 अप्रैल को हुई थी। इसके बाद उनके नंबर पर एक मेसेज आया कि उन्हें कोरोना की दूसरी डोज लगाई गई है। इस तरह की कई लापरवाही बरती जा रही है। वहीं कई ऐसे भी हैं जिन्होंने केवल वैक्सीन का पहली डोज ही लगवाया है, लेकिन दूसरे डोज पूरे होने की जानकारी पोर्टल पर नजर आ रही है।

गड़बडी आई सामने

टीकाकरण के दौरान बडी गडबड़ी सामने आई है, जहां मंडी क्षेत्र में रहने वाली गृहणी अनीता चक्रधर ने बताया कि उन्होंने 9 सितम्बर को कोरोना का पहली डोज लगवाई थी और तीन माह के भीतर दूसरा वैक्सीन का डोज उन्हें लगवाना था, लेकिन किन्ही कारणों के चलते वह वैक्सीन नहीं लगवा पाई, बुधवार को कोविन एप पर रजिस्टेशन के लिए उन्होंने जब देखा तो दोनों डोजों का प्रमाण पत्र जारी हो चुका था। प्रमाण पत्र में दूसरे डोज की तारीख 28 दिसम्बर दर्ज थी। श्रीमति चक्रधर का कहना है कि इस दिनांक में वह वैक्सीनेशन सेंटर गई ही नहीं फिर भी वैक्सीन लगने का प्रमाण पत्र जारी हो गया। प्रमाण पत्र में वैक्सीन लगने का स्थान वार्ड 33 दर्शाया गया है।

अब तक वैक्सीनेशन की स्थिति

जिले में अभी तक 18 लाख 95 हजार 16 कुल डोज लगाए जा चुके हैं, जिनमें से नौ लाख 98 हजार 705 लोगों को प्रथम डोज लगाया गया है। जबकि दूसरी डोज आठ लाख 96 हजार 311 लोगों को दूसरी डोज लगाया है। इसके साथ किशोर किशारियों को वैक्सीन स्कूलों में बनाये गए सेंटरों पर लगाए जा रहे हैं। अभी तक 43 हजार 19 किशोर और युवाओं को वैक्सीन लगाई गई है। जबकि जिले में कक्षा 9 से 12 वी तक 79 हजार 891 का कुल विद्यार्थी दर्ज है।

कोविन एप पर दर्ज करने के दौरान गलती हुई होगी, यह तकनीकी गलती यदि किसी को वैक्सीनेशन में समस्या आ रही है तो वह संपर्क कर सकता है।

- एमके चंदेल, जिला टीकाकरण अधिकारी सीहोर

नपा ने की चालानी कार्रवाई

शहर में लगातार रोको-टोको अभियान के तहत कार्रवाई की जा रही है। जिसके तहत शनिवार को नगर पालिका अमले ने नदी चौराहे पर कार्रवाई करते हुए बिना मास्क वाले लोगों को रोका और चालानी कार्रवाई की। कार्रवाई के दौरान बिना मास्क वालों के खिलाफ 2100 रुपये की चालानी कार्रवाई की गई।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local