सीहोर। सीहोर स्थित ग्राम बकतल के शासकीय माध्यमिक विद्यालय में लगभग 120 बच्चों को युवाओं ने व्यावहारिक शिक्षा और कि ताबी ज्ञान के साथ प्रत्येक विषय की व्यावहारिक समझ के बारे में जागरूक कि या।

अभियान के संचालक उमेश पंसारी ने युवा गीत और हिंदी भाषा की कविता के माध्यम से सतत विकास के महत्व को समझाया। निहारिका व निधि ने प्रेरक कहानियों से स्वच्छता और साहस का परिचय दिया। अभियान में विशेषकर तरुण, शैलेन्द्र, आशीष, स्वाति, देव और कि रण सहित 20 युवा मुख्य समूह में उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि रासेयो व उत्कृष्ट विद्यालय सीहोर द्वारा समर्थित धयूथ फॉर ट्रांस्फोर्मिंग एजुके शन 2019 ग्लोबल एसडीजी पोर्टल पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा ग्लोबल वीक टू एक्ट फॉर एसडीजी के तहत पंजीकृत कि या जा चुका है। नेपाल के वैश्विक सम्मलेन से लौटे युवा नेतृत्वकर्ता उमेश ने यह अभियान क्वालिटी एजुके शन के लिए चलाया है।

खुश रहने के दिए मूल मंत्र

रोटरी क्लब सीहोर द्वारा रोटरी भवन सीहोर मे काव्य गोष्ठी मे मालवा माटी के सपूत हास्य कवि हजारी हवलदार ने अपने हास्य-व्यंग्य से सभी रोटेरियन को खूब गुदगुदाया। साथ ही स्वस्थ रहो, निरोगी रहो, हंसते रहो, हंसाते हुए समाज की सेवा करने के मूलमंत्र भी दिए। इससे पूर्व रोटरी क्लब सीहोर ने आगामी 2 अक्टुबर को गांधी जयंती से पॉलीथिन के खिलाफ जागरूकता का कार्य करने निर्णय भी लिया गया। कार्यक्रम मे अध्यक्षीय उद्बोधन शैलेंद्र श्रीवास्तव ने दिया व मंच का संचालक राजेंद्र चौधरी ने कि या। सभी का आभार सचिव जौली कु रियन ने व्यक्त कि या। इस अवसर पर हास्य कवि हजारी हवलदार को शाल श्रीफल से सम्मानित रोटेरियन राजेंद्र रैना, सुदर्शन महाजन, प्रवीण शास्त्री, बाबूभाई मिस्री, ङॉ. गट्टानी डॉ. पंकज जैन ने कि या। कार्यक्रम में इन्हरव्हील क्लब की अध्यक्षा शशि विजयवर्गीय, सचिव नीति ठकराल, नवनीता श्रीवास्तव रेणु शास्त्री सहित रोटेरियन व इनरव्हील क्लब सपरिवारों उपस्थित होकर हास्य-व्यंग्य का आनंद लिया।

0000000000000

जब नपा ने नहीं दिया ध्यान तो महिलाओं ने खुद उठाया सफाई का बीड़ा

नालियां चोक होने और सड़कों की सफाई नहीं होने से लोग परेशान

फोटो 09 सीहोर। नालियों की सफाई करते हुए। नवदुनिया

सीहोर। सीहोर नगरपालिका के तहत वार्ड 20 लुनिया चौराहा गली नंबर 1 में नाली व सड़कों की सफाई न होने के कारण नागरिकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, जिससे क्षेत्र में गंदगी, कचरा का ढेर लगने के कारण मच्छर जैसे कई जीव-जंतु पैदा हो रहे हैं। नागरिकों द्वारा क्षेत्रीय वार्ड पार्षद से कई बार शिकायत की गई, लेकि न सफाई नहीं होने का खामियाजा रहवासियों को भुगतना पड़ रहा है। बार-बार शिकायत करने के बाद भी सफाई नहीं होने के कारण क्षेत्रीय महिलाओं ने स्वयं साफ-सफाई की और कहा कि वार्ड में महिनों से नालियों की सफाई नहीं हुई है, जिसके कारण वह पूरी तरह से चोक पड़ी हुई हैं, जिससे पानी सड़कों पर बह रहा है और मच्छरों के प्रकोप से लोगों में कई तरह बीमारियां हो रही हैं, जिसके कारण पीड़ित लोगों को अस्पताल प्रतिदिन जाना पड़ रहा है। इसके चलते क्षेत्र की महिलाओं ने स्वयं साफ-सफाई कर स्वच्छता का संदेश दिया व प्रशासन और नपा परिषद से सफाई कराए जाने की मांग की। सफाई करने वालों में मीना कौशल, गुलाबवंती, ममता कौशल, ममता चौहान सहित अनेक क्षेत्रीय महिलाएं शामिल थीं।

0000000000000000

प्रेरक कहानियों से कि या जागरूक

सीहोर। प्रदेश के पहले सतत विकास लक्ष्य अभियान धयूथ फॉर ट्रांस्फोर्मिंग एजुके शन 2019 के तहत सीहोर स्थित ग्राम बकतल के शासकीय माध्यमिक विद्यालय में लगभग 120 बच्चों को युवाओं ने व्यावहारिक शिक्षा और कि ताबी ज्ञान के साथ प्रत्येक विषय की व्यावहारिक समझ के बारे में जागरूक कि या। अभियान के संचालक उमेश पंसारी ने युवा गीत और हिंदी भाषा की कविता के माध्यम से सतत विकास के महत्व को समझाया। निहारिका व निधि ने प्रेरक कहानियों से स्वच्छता और साहस का परिचय दिया। अभियान में विशेषकर तरुण, शैलेन्द्र, आशीष, स्वाति, देव और कि रण सहित 20 युवा मुख्य समूह में उपस्थित थे।

000000000000000

वर्षों से अधूरा पड़ा सड़का निर्माण, पेंचवर्क भी नहीं करवा रहा प्रशासन

- अधूरे निर्माणाधीन भोपाल-ब्यावरा मार्ग के निर्माण संबंधित एजेंसी के अधिकारियों की लापरवाही के चलते आम जन को हो रही परेशान।

- लापरवाही के चलते कई वाहनों की हादसों में जान गवा चुके हैं, निर्माण स्थल सुरक्षा के इंतजाम तक नहीं।

फोटो 10 सीहोर।

सीहोर। भोपाल-ब्यावरा सड़क के चौड़ीकरण का निर्माण कार्य पिछले कई वर्षों से चल रहा है। निर्माण कार्य में बरती जा रही लापरवाही के चलते स्थानीय लोगों के साथ गुजरने वाले वाहन चालकों को परेशानियों से दो चार होना पड़ रहा है। अधूरे मार्ग पर हुए गड्ढों की वजह से राहगीरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा मुश्किल सड़क पर बड़े गड्ढे हैं। रोड के दोनों और कि नारे पर अधूरी नाली नालियां अधिक परेशानी का कारण बनी हुई हैं। अधूरी नालियों के घटिया निर्माण के चलते इन की हालत भी खराब हैं। ऐसे में स्थानीय लोगों को क्षतिग्रस्त जर्जर नालियों के बीच से जान खतरे में डालकर नालियों के बीच से होकर निकलना मजबूरी बनी हुई। स्थानीय रहवासी ने बताया कि पिछले कई महीनों से उन्होंने जिला प्रशासन व स्थानीय जिम्मेदार अधिकारियों के समक्ष परेशानी लेकर पहुंच चुके हैं। लेकि न जिम्मेदार अधिकारियों ने हमारी समस्या को गंभीरता से नहीं लिया गया।

बस स्टैंड के बुरे हाल

तहसील मुख्यालय पर पुल का निर्माण पिछले कई महीनों से लापरवाही पूर्वक कार्य चल रहा है। यहा पर संबंधित एजेंसी के अधिकारियों द्वारा लोगों की सुुरक्षा को लेकर कि सी तरह के इंतजाम नहीं कि ए गए हैं। पुल में लगने वाली सामग्री रोड पर बिखरी पड़ी रहने से वाहन चालकों सहित लोगों को पैदल चलना भी दूभर हो रहा है।

गड्ढों से परेशानी

दूसरी ओर सड़कों की भी हालत ठीक नहीं हैं बस स्टैंड के मुहाने पर बड़े गड्ढे लोगों को परेशानी की वजह है। एजेंसी द्वारा मार्ग में पड़े गड्ढों को भरने के लिए हमेशा पर काम चलाऊ पेंचवर्क कि या जा रहा हैं। हरवार रोड पर पिछले गड्ढों में मिट्टी भरवाई जाती है। बाद में जैसे ही बारिश हुई, सारी मिट्टी कीचड़ में तब्दील हो जाती है। इससे लोगों को सुविधा मिलने की बजाय उनकी परेशानी बढ़ रही है।

अधूरी सड़क से हो रहे हादसे

भोपाल ब्यावरा हाइवे मार्ग के अधूरे के चलते श्यामपुर के सीमा क्षेत्र की हालत खराब हैं। इससे स्थानीय लोगों के साथ वाहन चालकों को मुश्किलें आ रही हैं। सावधानी सूचक व दिशा सूचक बोर्ड नहीं लगाने से सड़क पर दुर्घटनाओं में कई वाहन चालकों मौत हो चुकी है। जबकी दर्जनों घायल हो चुके हैं। इसके बारे में कई बार प्रशासन को सूचना दी गई हैं, लेकि न अब तक कोई सुधार नहीं कि या गया है।

सुरक्षा का ध्यान रखा जाएगा

सुरक्षा की दृष्टि से शीघ्र ही निर्माण कार्य कराया जाएगा। जहां पर निर्माण कार्य के चलते सावधानी का ध्यान नहीं रखा जा रहा है वहां पर सुरक्षा का इंतजाम कराया जाएगा। श्यामपुर में बरती जा रही लापरवाही के चलते हो रही परेशानी को ध्यान में रखते हुए लोगों की सुविधा का ध्यान रखने आदेश जिम्मेदार कर्मचारियों को दिए गए है।

बलकार सिंह, प्रोजेक्ट मैनेजर

000000000000

सुबह से शाम तक खेतों में खराब फसलों का कर रहे आंकलन

सीहारे। इस बार भी जिन कि सानों के खेतों में खड़ी फसलें हैं उनकी लागत भी निकलना मुश्किल दिखाई दे रहा है। यहीं कारण है की कि सानों को खेती अब घाटे का सौदा साबित होता जा रहा है। पहले तो अधिकतर कि सानों की बारिश के चलते दो तीन बार बोवनी करनी पड़ी थी। इसके बाद भी अधिकतर कि सानों की बोवनी बिगड़ गई। जिन कि सानों की जैसे तैसे बोवनी अंकु रित हुई, तो वह ठीक प्रकार से ग्रोथ नहीं कर पाई। बारिश के चलते जिन कि सानों की फसलें ठीक तरह से अंकु रित हुई, तो वह खेतों में खड़ी फसलों की सही देखभाल नहीं कर पाए। ऐसे कि सानों के खेतों में अधिकतर सोयाबीन से ज्यादा खरपतरबार नजर आ रहा है। यह बातें प्रभावित फसलों का आंकलन करने खेत -खेत पहुंच रहे प्रधानमंत्री फसल बीमा कंपनी के एजेंट व राजस्व के संबंधित हल्का पटवारियों के खेतों में पहुंचने पर सामने आ रही है। इन दिनों सुबह से ही फसल बीमा कंपनी के एजेंट, राजस्व विभाग के दल प्रभावित फसलों के आंकलन के लिए क्षेत्र में पहुंच रहे हैं। इस दौरान दर्जनों गांव के खेत खेत पहुंचकर फसलों को दल के सदस्यों ने आंकलन कि या। दल आंकलन के दौरान क्षेत्र के कि सानों में खेतों सोयाबीन के स्थान पर खरपतवार खड़ा मिली। इस दौरान दल के सदस्यों ने उपस्थित कि सानों से चर्चा भी की।

इन गांव में फसलों का आंकलन कि या

संयुक्त दल के सदस्यों ने सीहोर रोड के खजूरिया बंगला, खंडवा, सिराड़ी, कादराबााद, रावणखेड़ा, सरखेड़ा, निवारिया, मूंजखेड़ा, श्यामपुर, बैरागढ़ खुमान, बर्‌री, हिंगोनी, बमूलिया दोराहा, पड?ाला, अरनिया सुल्तानपुरा, भैरापुरा, पीलूखेडी, चरनाल, छतरपुरा, रावतखेड़ा, आच्छारोही, हसनपुरा तिनोनिया, सांकला, गुंदी, बनखेड़ा, अहमदपुर, पाड़ल्या, बरखेड़ा हसन, बाजार गांव, नाईहेड़ी, सुआखेड़ी, मंडखेड़ा, पीपलखेड़ा, रसूलपुरा, खाईखेड़ा, महुआखेड़ा, बरखेड़ा देवा, दोराहा, झरखेड़ा सहित दर्जनों गांव में पहुंचकर फसलों को आकलन कि या।

20 हजार प्रति एकड़ बोवनी की लागत

कि सानों को एक एकड़ में सोयाबीन की लागत करीब 15 से 20 हजार रुपए आई थी। इसके अलावा कई कि सानों की बोवनी बिगड़ गई थी। इस पर दो तीन बार बोवनी करना पड़ी थी। इन कि सानों को दो से तीन गुना लागत उठानी पड़ी थी। जबकि अच्छी पैदावार हो तो एक एकड़ में करीब छह क्विंटल सोयाबीन का उत्पादन होता है।

प्रभावित फसलों का आकलन करने पहुंचे सर्वे के दौरान, सिराड़ी सरपंच राजेंद्र मीना, गजराज विश्वकर्मा, सचिव दीपक पाठक, सरपंच बद्री, खंडवा सरपंच रामओजार जाट, गुलाब लोधी, चांदबढ़ जागीर सरपंच गिरीश सोलंकी, आछारोही सरपंच राजेंद्र लालू बना, सीलखेड़ा सरपंच हेमराज मीना सहित बड़ी संख्या में क्षेत्र के कि सान उपस्थित थे।

000000000000000000000000000

भाजपा संगठन चुनाव को लेकर हुई बैठक

सीहोर। शनिवार को क्षेत्र के अहमदपुर भाजपा ग्रामीण मंडल संगठन के चुनाव को लेकर मंडल चुनाव प्रभारी भाजपा कि सान मोर्चा जिला अध्यक्ष व जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मीनारायण वर्मा व सहप्रभारी आशोक वर्मा की उपस्थित में बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता सीहोर विधान सभा प्रभारी मायाराम गौर द्वारा की गई। बैठके के दौरान मंडल के तहत आने वाले छह ग्राम कें द्रों के तीन तीन चुनाव प्रभारी बनाए गए। संगठन के चुनाव के बैठक के दौरान उपस्थित भाजपाइयों ने संगठन चुनाव प्रभारी श्री वर्मा व सहप्रभारी अशोक वर्मा का पुुष्पहारों के साथ स्वागत कि या गया। स्वागत भाषण मांगीलाल मझेड़ा द्वारा कि या गया। बैठक का संचालन अहमदपुर भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष गिरीश सोलंकी द्वारा कि या गया। इस दौरान प्रमुख वरिष्ठ भाजपा नेता श्यामलाल शर्मा, जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि आजाद गुर्जर, सदस्यता प्रभारी अशीष मेबाढ़ा, सरपंच महेश गौर, सरपंच द्वारका प्रसाद मीणा, जनपद सदस्य हेमराज लोधी, जनपद सस्दय अहमदपु भाजपा युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष प्रीतम गौर, जनपद सदस्य मनोहर शर्मा, ज्ञान सिंह गुर्जर, सरपंच हेमराज मीना, पूर्व सरपंच शैलेंद्र जाट, सरपंच सजन सिंह, पूर्व सरपंच राजवी सिंह, कालूराम नेता, धर्मेंद्र बैरागी, पूर्व सरपंच रमेश लोधी, राम सिंह गौर, ईश्वर प्रसाद पचौरी, विजय भार्गव, खेमचंद्र लोधी, नारायण लोधी, विपत सिंह सहित क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

इन्हें बनाया संगठन चुनाव प्रभारी

बैठक के दौरान अहदमपुर क्षेत्र के तहत आने वाले चांदबढ़ जगीर ग्राम कें द्र चुनाव प्रभारी मायाराम गौर, अहमदपुर भाजपा मंडल अध्यक्ष गिरीश सोलंकी, पूर्व सरपंच राधेशम गौर, मगरदा चुनाव प्रभारी सरपंच हेमराज मीना, ज्ञान सिंह गुर्जर, जनपद सदस्य प्रीतम गौर, बरखेड़ा हसन कें द्र प्रभारी जनपद सदस्य हेमराज लोधी, पूर्व सरपंच शैलेंद्र जाट, अहमदपुर के कें द्र प्रभारी जिला पंचायत सदस्य आजाद गुर्जर, जनपद सदस्य मनोजर शर्मा, ईश्वर प्रसाद पचौरी, चरनाल प्रभारी सरपंच महेश गौर, सरपंच द्वारका प्रसाद मीणा, दोराहा ग्राम कें द्र चुनाव प्रभारी धर्मेद्र बैरागी, सरपंच मोहन माली, अशीष मेबाढ़ा विधायक प्रतिनिधि रफीक उल्ला आदि को नियुक्त कि या गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना