जावर (नवदुनिया न्यूज)। तहसील मुख्यालय पर बेसहारा मवेशियों को उचित स्थान नहीं मिलने से प्रतिदिन दुर्घटनाओं का शिकार हो रही हैं। नगर का मुख्य मार्ग हो या इंदौर-भोपाल राजमार्ग जहां देखो वहां बेसहारा मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है। जो दुर्घटनाओं का सबब भी बन रहे हैं इंदौर-भोपाल मार्ग पर कई वाहन चालकों द्वारा कई मवेशियों की वाहन की टक्कर से मौत हो गई। वहीं वाहन चालक इन मवेशियों को बचाने में खुद दुर्घटनाग्रस्त हो चुके हैं। इतना सब कुछ होने के बाद भी स्थानीय प्रशासन व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि इस और ध्यान नहीं दे रहे हैं।

इन दिनों इंदौर-भोपाल हाईवे पर सैंकड़ों की संख्या में बेसहारा मवेशी मोजूद हैं जो की गौशाला निर्माण नहीं होने के कारण हाईवे पर बैठी रहती हैं। जिसके कारण यह अब दुर्घटनाओं का शिकार होने लगी हैं। मंगलवार को दोपहर को एक अज्ञात वाहन की टक्कर से गाय को गंभीर चोटे आई जावरजोड़ पर स्थित कुछ लोगों ने चोटिल हुई गाय के उपचार के लिए तुंरत पषुचिकित्सक डॉ. मालवीय को सूचना दी जिसके बाद गाय का उपचार किया गया। नगर के पशु चिकित्सक डॉ. डीके मालवीय अस्पताल में तो जानवरों का इलाज कर ही रहे हैं। साथ ही अस्पताल के बाद अपनी ड्युटी पूरी कर नगर व क्षेत्र में बेसहारा, घायल, अपाहिज, बूढे और असमर्थ जानवरों की चिकित्सा सेवा मुहैया कराते हैं।

नगर के मुख्य मार्गों पर मवेशियों का जमावड़ा

नगर के अम्बिका नगर, मुख्य बाजार व इंदौर-भोपाल राजमार्ग रोड के बीचो-बीच मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है। जिससे वाहन चालक इन मवेशियों को बचाने मे कई बार दुर्घटना के शिकार हो गए। प्रशासन इन आवारा मवेशियों की जानकारी जानने के बाद भी अंजान बने हुए है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local