सीहोर। अब जिले में जन संसद संवाद करेगी। इसके जरिए वह प्रदेश के लोगों के बीच जाएगी और केंद्र एवं प्रदेश सरकार की गलत नीतियों का प्रचार-प्रसार करेगी। इसके लिए मध्यप्रदेश कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के द्वारा इस अभियान को गति देने के लिए आगामी 12 अगस्त को जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस पिछड़ा वर्ग के जिलाध्यक्ष राजेश भूरा यादव के नेतृत्व में शहर के गल्ला मंडी स्थित तुलावट संघ के कार्यालय में किसानों और जनता से चर्चा की गई।

इस संबंध में जानकारी देते हुए मध्यप्रदेश पिछड़ा वर्ग के जिला महामंत्री हरीश आर्य ने बताया कि इस अभियान की जिम्मेदारी प्रदेश कांग्रेस के पिछड़ा वर्ग को सौंपी गई है। यह आयोजन वार्ड स्तर तक करने का प्लान तैयार किया जा रहा है। जन संसद संवाद चार महीने तक चलेगा। कांग्रेस श्जन संसद संवाद्य में जनता की सीधे जुड़ते हुए भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों के संबंध में बताएगी, जिसमें आरोप लगाया जाएगा कि देश के सामने कई चुनैतियां खड़ी हुई हैं, जिसमें महंगाई, भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, गिरती अर्थव्यवस्था, नोटबंदी, कृषि कानून, पेट्रोल डीजल के मूल्यों में बढ़ोतरी के साथ ही ओबीसी आरक्षण नहीं बढ़ाने के मुद्दे उठाए जाएंगे। जन संसद संवाद में इन मुद्दों पर कांग्रेस जनता के बीच में जाकर खुली चर्चा करेगी। इसमें जनता से सरकार की नीतियों के विरोध मुखर करने के सुझाव भी लिए जाएंगे। प्रदेश सरकार के मुद्दे भी जन संसद संवाद में उठाए जाएंगे। करोना से मृत्यु होने पर 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की मांग, महंगाई कम करने, स्मार्ट सिटी के विकास जैसे सरकार के वादों को लेकर भी इसमें जनता से बातचीत करने का दावा कांग्रेस कर रही है।

चार माह चलेगा अभियान

कांग्रेसजनों ने बताया कि मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी पिछड़ा वर्ग विभाग के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल ने बताया कि मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी पिछड़ा वर्ग विभाग पूरे प्रदेश में जन संसद संवाद कार्यक्रम का आयोजन करने का निर्णय लिया है, जो चार महीने तक चलेगा प्रत्येक जिला मुख्यालय में 12 अगस्त से चालू होगा और 12 नवम्बर तक तक चलेगा प्रत्येक महीने की 12 तारीख को प्रत्येक जिले में जिलास्तर पर जन संसद संवाद का आयोजन किया जाएगा। उसके बाद जिला संगठन के द्वारा प्रत्येक जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में तथा शहर के वार्ड स्तर तक कार्यक्रम का आयोजन चार महीने तक चलता रहेगा। बैठक के दौरान जिला सद्भावना प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष संतोष बैस, तुलावट संघ के अध्यक्ष रामकृष्ण शर्मा, कैलाश सूर्यवंशी, बाबूलाल सूर्यवंशी, सचिव जवन यादव, छोटेलाल यादव, अजमेरी भाई, धनराज मेवाड़ा, हीरालाल यादव, ओम प्रकाश रैकवार, राजाराम, भगवान दास याद और विनोद यादव आदि शामिल थे।

00000000000

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local