सीहोर। ग्राम पंचायत हतियाखेड़ा के नजदीक चतरावाली बस्ती के लोग कई सालों से परेशान है। बिजली कंपनी के कर्मचारियों ने बिजली लाइन तक नहीं डाली वहां के लोगों को बिल थमाने का कारनामा कर दिखाया है। ग्रामीणों को बिजली उपलब्ध कराने के लिए दो साल पहले से बिजली के बिल थमाना शुरू कर दिया। जबकि हैरत की बात यह है कि क्षेत्र में पोल और बिजली की लाइन और मीटर तक नहीं है। इस तरह की मनमानी से क्षेत्रवासी कई दिक्कतों का सामना कर रहे है।

इस संबंध में श्यामपुर क्षेत्र के कांग्रेस नेता खुमान सिंह गुर्जर के नेतृत्व अनेक क्षेत्रवासियों ने एक ज्ञापन भी सौंपा है। श्री गुर्जर ने बताया कि ग्राम चतरावाली पंचायत इथियाखेड़ा तहसील श्यामपुर के क्षेत्रवासी को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, उन्होंने बताया कि करीब दो वर्ष पूर्व क्षेत्रवासियों के इनके नाम पर बिल भी दिए जा रहे है। जबकि गांव में लाइट नहीं पहुंचाई गई है। लाइट नहीं न होने से ग्रामीणों को कई परेशानी हो रही है। क्षेत्रवासियों का कहना है कि बिना करंट के ही बिजली के बिल देना उचित नहीं है, उन्होंने कहा कि शीघ्र ग्रामीण क्षेत्र में पोलए लाइन और घरों पर मीटर लगाकर ग्रामीणों को परेशानी से निराकरण किया जाए। श्री गुर्जर का कहना है कि श्यामपुर क्षेत्र में जनसमस्याओं का अंबार है और ऊपर से बिजली विभाग की लापरवाही साफ दिखाई दे रही है। गांव में कई जगह से तार झूलते नजर आते हैं। जबकि गांव वाले ने इसके लिए कई बार विभाग को भी अवगत कराया, लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं। अनेक गांवों में बिजली व्यवस्था खस्ताहाल है। देर रात्रि को स्वयं प्रदेश के ऊर्जा मंत्री निरीक्षण किया था, तब भी उनको बिजली कटौती का सामना करना पड़ था। ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली विभाग के अफसरों की लापरवाही के चलते जर्जर तार आए दिन हादसों का कारण बने हुए है। कई ब्लाकों में तार इतने जर्जर है कि आए दिन टूटते है, जिससे जहां एक ओर गांवों की सप्लाई बाधित होती है, वहीं दूसरी ओर ग्रामीणों को बिजली तारों से होने वाले हादसों से जूझना पड़ता है। सब कुछ जानने के बाद भी बिजली विभाग के अधिकारी हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं और किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहे हैं। बारिश के दिनों में हर कभी फ्लाट हो जाता है। इसके अलावा डीपी खराब हो रही है। इस ओर संबंधित अधिकारियों को ध्यान देना चाहिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local