सीहोर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश शासन की कैबिनेट की बैठक में जिले को स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ी सौगात मिली हैं। लंबे समय से जिला अस्पताल को 200 से 300 बिस्तर का करने की मांग की जा रही थी। जिसे इस कैबिनेट की बैठक में मंजूरी मिल ई। यह जिले के लिए बड़ी सौगात है।

जिला अस्पताल को 300 बिस्तर का करने के साथ ही गुलाना के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उन्नाायन करने की मंजूरी दी गई है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में जिले को कई सुविधाएं मिलने जा रही हैं। जिसके तहत अस्पतालों को उन्नायन किया जा रहा है वहीं पांच नए अस्पतालों की स्थापना की जाएगी। एक ही बैठक में जिले के लिए इतने जनहितकारी निर्णय होना बड़ी उपलब्धि है। नई सौगात और सुविधाओं से जिले की स्वास्थ्य सेवाएं सुदृढ़ होंगी। बैठक में मिली मंजूरियों पर जल्द ही अमल हो इसके लिए भी प्रयास शासन और स्थानीय स्तर पर किए जाएंगे।

हर दिन एक हजार के लगभग मरीज

जिला अस्पताल में हर दिन औसत एक हजार मरीज उपचार के लिए पहुंचते हैं। इनमें से कई को भर्ती भी करना पड़ता है। अधिकांश समय अस्पताल की क्षमता से अधिक मरीज यहां भर्ती रहते हैं। स्टाफ और संसाधन पर्याप्त नहीं होने से सेवाओं पर विपरीत असर पड़ता है। 300 बिस्तर का होने से अस्पताल को स्टाफ और संसाधन भी मिलेंगे, जिससे यहां की व्यवस्थाओं में सुधार होगा।

क्षमता बढ़ने से स्टाफ और संसाधन भी बढ़ेंगे

यदि अस्पताल की क्षमता 300 बिस्तर की होने से इसी के मान से स्टाफ और संसाधन भी मिलेंगे। अस्पताल के लिए बजट भी बढ़ेगा। वर्तमान में अस्पताल के पास 200 बिस्तर के मापदंड के अनुसार स्टाफ और संसाधन हैं। बिस्तरों की क्षमता बढ़ने से अब सुविधा और संसाधनों में भी वृद्धि होगी।

जिले में पांच नए अस्पताल खुलेंगे

जिले में तीन अस्पतालों के उन्नायन और पांच अस्पतालों की स्थापना की मंजूरी मिली है। जिसके तहत जिला अस्पताल के 200 बिस्तर के अस्पताल को 300 किए जाने, नसरुल्लागंज अस्पताल को 50 से 100 बिस्तर का और बकतरा के छह बिस्तर के प्राथमिक स्वास्थ केंद्र का उन्नायन कर 30 बिस्तर का सामुदायिक स्वास्थ केंद्र किए जाने की मंजूरी मिली है। वहीं जैत और मुस्कुरा में छह-छह बिस्तर को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और खटपुरा, सतपीपलिया और झिलेला में उप स्वास्थ केंद्र की स्थापना किए जाने की मंजूरी मिली है।

जिले के अस्पतालों के उन्नायन और नए अस्पतालों की स्थापना की मंजूरी कैबिनेट की बैठक में मिली है। इसको लेकर जल्द कार्रवाई की जाएगी।

डॉ. सुधीर डेहरिया, सीएमएचओ

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local