जावर। संत रामदास बाबा की स्मृति मे मनाया जाने वाला दशहरा पर्व प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी रंगारंग कार्यक्रमों के साथ उमंग और उल्लासमय वातावरण के साथ मनाया जाएगा। दशहरा पर्व पर रामदास बाबा की समाधि स्थल पर महाआरती का आयोजन दोपहर 12 बजे होगा। जिसमें महाप्रसादी वितरित की जाएगी। हर वर्ष की तरह दशहरा पर्व हिन्दु उत्सव समिति के तत्वावधान में आयोजित हो रहा है। हिन्दु उत्सव समिति अध्यक्ष धर्मेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि इस वर्ष समिति द्वारा विशालकाय इक्कावन फीट रावण का निर्माण कलात्मकता के साथ आकर्षक वेशभुषा मे अनुठे अंदाज मे आकर्षक का केन्द्र है। दशहरा पर्व पर भगवान श्रीराम की शोभायात्रा निकाली जाएगी। दोपहर 1 बजे श्रीराम मंदिर से प्रांरभ होगी जो नगर के मुख्य मार्गो से होती हुई बस स्टेण्ड स्थित राम चबुतरे पर पहुंचेगी। विशाल शोभायात्रा मे शाही रथ बुलवाया गया है। बैण्ड, अखाडों का प्रदर्शन, गरबा नृत्य, तासे नगाड़े, ढोल-ढमाको, तोप, घोड़े इस विशाल शोभायात्रा मे सम्मिलित होकर जुलूस को भव्यता प्रदान करेंगे। दशहरा पर्व पर तीन दिवसीय मेले मे नगर पंचायत द्वारा व्यापारियों व बाहर से आने वाले लोगों के लिए विशेष सुविधाएं दी जाएगी। इस बार भी मेले मे झुले, अखाडा प्रदर्शन, घोड़े, तोप, आतिशबाजी व राम-रावण युद्ध व अंत में विशालकाय 51 फीट रावण का आतिशबाजी के साथ दहन किया जाएगा।

तीन दिनों तक होगा रावण दहन

क्षेत्र में दशहरा पर्व को लेकर एक अनुठा रिवाज जो सालों से चला आ रहा है। तहसील क्षेत्र में दशहरा तीन दिनों तक मनाया जाता है। दषमीं पर जावर में रावण दहन होने के बाद ग्यारस पर ग्राम खडी में रावण का दहन किया जाता है। जहां कई जनप्रतिनिधि भी शामिल होते हैं। वहीं बारस को ग्राम कजलास में रावण का दहन रामलीला मंचन के साथ किया जाता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local