सीहोर, नवदुनिया प्रतिनिधि। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दूल्हों पर फूलों की वर्षा की और बेटियों का कन्यादान किया। वे बुदनी विधानसभा के पिपलानी में मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रम में पहुंचे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार ने हमेशा से आदिवासी वर्ग की चिंता की है और आगे भी करती रहेगी। सामूहिक विवाह कार्यक्रम में करीब 410 जोड़ों का विवाह संपन्न हुआ। इसमें 100 कोरकू समाज, 300 गौंड समाज सहित अन्य जोड़ें शामिल रहे।

भेरूंदा विकासखंड के आदिवासी ग्राम पिपलानी का नजारा शनिवार को बेहद बदला हुआ था। पिछले करीब एक सप्ताह से चल रही सामूहिक विवाह कार्यक्रम की तैयारियों में जुटे अधिकारी-कर्मचारी भी सुबह से ही तैनात थे। वे यहां आने वाले लोगों का स्वागत-सत्कार करने में जुटे हुए थे। सुबह से वर-वधु पक्ष के लोगों के आने का सिलसिला शुरू हो गया। सबसे पहले उनका रजिस्ट्रेशन किया गया एवं उन्हें कूपर बांटे गए। इसके बाद उन्हें दजेह की सामग्री दी गई। इसके बाद पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित अन्य नेताओं, कार्यकर्ताओं ने दूल्हों पर फूलों की वर्षा की। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना पुन: प्रारंभ की गई है। इस तरह के सामूहिक विवाह कार्यक्रम आगे भी जारी रहेंगे। यहां बता दें कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत जिले के भैरुंदा के बाद अब जिले के ग्राम पिपलानी में दूसरा बड़ा सामूहिक विवाह समारोह आयोजित किया गया है। सामूहिक विवाह समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए तथा नव दंपत्तियों को आशीर्वाद दिया।

बेटियों को दिए गए उपहार

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में बेटियों को उपहार भी दिए गए। इस दौरान उन्हें 11-11 हजार रुपए चेक दिए गए तो वहीं 37 हजार रुपए का गृहस्थी का सामान दिया गया। 6 हजार रुपए की राशि शादी के खर्च के लिए दी गई। इस दौरान वर-वधु पक्ष के लोगों को भोजन भी कराया गया।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local