आष्टा। करीब एक पखवाड़े पहले कन्नाौद रोड़ पर एचडीएफसी बैंक के सामने रहने वाले गल्ला व्यापारी पीयूष देशलहरा सुपुत्र स्वर्गीय संतोष कुमार देशलहरा के मकान में अज्ञात चोर ने चोरी की वारदात की थी। पुलिस को इसमें सफलता मिली है। पुलिस ने इस चोरी के प्रकरण का खुलासा आज किया। इसमें उज्जैन का एक सर्राफा व्यापारी और एक अभिभाषक अर्थात वकील भी हैं। जिन्होंने चोरी के जेवर खरीदें है।चोर के साथ सर्राफा व्यापारी को तो पुलिस पकड़ लाई है। सूत्रों के अनुसार वकील फरार है।

पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी के निर्देशन एवं अति.पुलिस अधीक्षक गीतेश गर्ग एवं अनु विभागीय अधिकारी पुलिस मोहन सारवान के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी अनिल यादव के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा चोरी की वारदात का पर्दाफाश करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर करीब तीन लाख 75 हजार का मशरूका जब्त करने में सफलता प्राप्त की है। चोर सहित तीनों मनोहरलाल सेन, गिरीश लोधी एवं मोहन सोनी को न्यायाधीश रिचा सिंह रजावत के न्यायालय में पेश किया। न्यायाधीश रजावत ने पुलिस को इन तीनों के लिए दो दिन का पुलिस रिमांड दिया है।

एक आरोपित की तलाश जारी

फरियादी पीयूष देशलहरा निवासी एचडीएफसी बैंक के सामने कन्नाौद रोड आष्टा द्वारा रिपोर्ट की कि 3 मई के सुबह करीबन 5.30 बजे में अपने घर पर ताला लगाकर परिवार सहित इन्दौर गया था। चार मई को सुबह करीब 9.30 बजे पड़ोसी अनूप देशलहरा द्वारा फोन पर बताया कि तुम्हारे घर के उपर का दरवाजा खुला पडा है। फिर तुरन्त इन्दौर से अपने घर आया। बाहर का ताला खोलकर सामान चेक किया तो जेवर व नगदी कुल 10 लाख का मशरूका कोई अज्ञात चोर चोरी कर ले गया है। रिपोर्ट पर थाना आष्टा पर अपराध कायम कर विवेचना मे लिया गया। दौराने विवेचना सीसीटीवी फुटेज व सायबर सेल की मदद से आरोपियों की तलाश कि गई। तलाश करते अपराध में तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर आरोपित से कुल 3 लाख 75 हजार रुपये का मशरुका जब्त किया गया। एक फरार आरोपी की तलाश जारी है ।

इन आरोपितों से जब्त किया गया मशरुका

एक सोने की चैन, एक मंगलसजत्र, एक जोडी सोने के टाप्स, दो नग सोने के सिक्के, तीन जोडी चांदी की पायजेब, एक चांदी की चूड़ी, चार मोबाईल व नगदी 15000 रुपये कुल कीमती 3 लाख 75 हजार रुपये का मशरुका आरोपितों के कब्जे से जब्त किया गया। आरोपितों में मनोहर सेन पिता मांगीलाल सेन जाति नाई उम्र 45 साल निवासी कृष्णा परिसर उज्जैन थाना नानाखेडा जिला उज्जैन, मोहन सोनी पिता बसन्त राम सोनी उम्र 43 साल निवासी फ्रीगंज अलखघाम नगर उज्जैन, गिरीश उर्फ पप्पू पिता नन्दकिशोर लोधी उम्र 43 साल निवासी शास्त्री नगर उज्जैन हैं। आरोपित पकड़ने में थाना प्रभारी आष्टा अनिल कुमार यादव, उनि चन्द्रशेखर डीगा उनि प्रवीण जाधव, उनि दिनेश यादव, उनि चुन्नाीलाल रायकवार आदि की भूमिका रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close