भैरुंदा(नसरुल्लागंज)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश को वर्ष 2022 में स्वच्छता सर्वेक्षण में देश में प्रथम स्थान पर लाने के लिए स्थानीय निकाय, प्रत्येक नगर और ग्राम में सार्वजनिक स्वच्छता, सौंदर्यीकरण और कचरा प्रबंधन के कार्यों के लिए ईमानदार प्रयास करें। वर्ष 2021 के स्वच्छ सर्वेक्षण में मध्यप्रदेश देश में तीसरे क्रम पर रहा है, उन्होंने वीडियो कान्फ्रेंस द्वारा अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी कलेक्टर यह प्रयास करें कि शहरों की स्वच्छता में बेहतर रैंकिंग हो। स्वच्छता को जन-आन्दोलन बनाया जाए।

अच्छी हों सड़कें, मेंटेनेंस भी किया जाए

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि सभी नगरों में सड़कें बेहतर हों। नगरीय क्षेत्र की सड़कों तथा अन्य सभी प्रकार के सड़क मार्गों के मेंटेनेंस (संधारण) पर भी ध्यान दिया जाए। मुख्यमंत्री चौहान ने समीक्षा के दौरान कहा कि जहाँ आवश्यक हो, सीमेंट और कांक्रीट का उपयोग कर बेहतर एवं टिकाऊ सड़कें बनाएँ। कॉलोनियों की भीतरी सड़कें भी अच्छी हों। उन्होंने कहा कि उन्होंने कुछ मिनी स्मार्ट सिटी के कार्य देखे हैं। इनमें सुधार की जरूरत है।

सीवरेज योजनाओं के कार्य समय पर पूरे हों

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में नगरों में सीवरेज परियोजनाओं के कार्य समय पर पूरे किए जाएं। मुख्यमंत्री ने नर्मदा किनारे के सीवर प्रोजेक्ट के कार्यों पर विशेष ध्यान देने को कहा। कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि प्रदेश में 50 निकायों के लिए 54 सीवरेज योजना मंजूर की गई हैं। इनमें से 12 का कार्य पूरा हो गया है। जून 2022 तक भोपाल की शाहपुरा, भोज वेटलैंड और कोलार सीवरेज योजनाओं नसरुल्लागंज, योजनाओं को पूरा करने का लक्ष्‌य है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local