आष्टा। शनिवार को सुबह रेंजर को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई की गुराडिया रूपचंद-बड़झिरी मार्ग की ओर से अवैध सागौन से भरा एक पिकअप वाहन आष्टा की ओर आ रहा है। सूचना मिलते ही रेंजर राजेश चौहान के मार्गदर्शन में आष्टा से एक शस्त्र युक्त वन अमले की टीम को रवाना किया गया। बताएं गए मार्ग पर पहुंचे वन अमले ने उक्त वाहन को एक आरोपित सहित गिरफ्तार किया। इसी दौरान चकमा देकर एक आरोपित भागने में सफल हुआ।

रेंजर राजेश चौहान ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को सुबह मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई थी, उनके द्वारा बताया गया था कि गुराडिया रूपचंद-बड़झिरी मार्ग से एक सागौन से भरा वाहन जा रहा है। सूचना मिलते ही सशस्त्र वन अमले को आष्टा से रवाना किया। बताए गए उक्त मार्ग पर वाहन को पकड़ा तथा एक आरोपित जिसका नाम जितेंद्र राठौर पिता मदनलाल राठौर निवासी बाबूलाल नगर पालदा इंदौर को उक्त वाहन सहित पकड़ा। आरोपित ने बताया कि मेरा एक साथी और था जो पहचान के अभाव में भाग गया, उसकी भी तलाश की जा रही है। उक्त वाहन में लगभग 100 से 120 नग सागौन की कीमती सिल्लियां भरी है, जिसकी कीमत लगभग ढाई लाख रुपये व जब्त वाहन की कीमत करीब डेढ़ लाख कुल मशरूका करीब चार लाख का जब्त किया है। वाहन में करीब ढाई घन मीटर लकड़ी है। रेंजर श्री चौहान ने बताया कि पकड़े गए आरोपित से प्रारंभिक पूछताछ में उसने बताया कि यह माल दौलतपुर से भराया था तथा इंदौर ले जाया जा रहा था। आगे और पूछताछ की जाएगी तथा ज्ञात किया जाएगा कि यह माल दौलतपुर में कहां से भराया था तथा इंदौर में कहां जा रहा था। रेंजर राजेश चौहान ने बताया कि उक्त मामले में वन अधिनियम, अवैध परिवहन की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है तथा जो आरोपित भागा है, उसकी भी तलाश की जा रही है। मिली सफलता में डिप्टी रेंजर राजू गाढ़े, मनीष मोहन पांडे, शैलेष कुमार सिंह, घनश्याम पांडे, कैलाश चालक, कपिल यादव आदि की बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local