सीहोर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। विवादित बुल्ली बाई एप तैयार करने के मामले में दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपित नीरज बिश्नोई को वेल्लोर इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलाजी (वीआइटी) विश्वविद्यालय ने गुरुवार को निष्कासित कर दिया। नीरज यहां बी.टेक. (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग) द्वितीय वर्ष का छात्र था। यह जानकारी विश्वविद्यालय के सूचना अधिकारी अमित कुमार ने दी। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय में दाखिले के बाद से नीरज कभी संस्थान में नहीं आया।

कोरोना संक्रमण के कारण संस्थान ने आनलाइन कक्षाएं व परीक्षाएं आयोजित की थीं। वह उनमें शामिल हुआ था। वह संस्थान के होशियार विद्यार्थियों में शामिल था। प्रवेश परीक्षा में भी अच्छी रैंकिंग थी और उसका वार्षिक परीक्षा परिणाम भी अच्छा रहा है। नीरज की गिरफ्तारी को लेकर अभी जिला प्रशासन या पुलिस ने संस्थान से कोई जानकारी नहीं मांगी है। संस्थान को भी मीडिया के माध्यम से ही गिरफ्तारी की जानकारी मिली। एएसपी समीर यादव ने बताया कि इस मामले को लेकर स्थानीय पुलिस से कोई जानकारी नहीं मांगी गई है। News Updating...

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local