सीहोर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना महामारी से बचाव के लिए 15 से 18 आयुवर्ग के किशोर बालक-बालिकाओं का टीकाकरण अभियान 3 जनवरी से प्रारंभ किया गया है। उत्कृष्ट विद्यालय सीहोर में कक्षा 11 वीं में अध्ययनरत छात्रा दीक्षा वर्मा ने उत्कृष्ट विद्यालय में बनाए गए टीकाकरण केन्द्र में कोविड का टीका लगवा लिया है। टीका लगवाने के बाद प्रसन्नाता व्यक्त करते हुए दीक्षा ने कहा कि मैं सुरक्षित महसूस कर रही हूं। दीक्षा ने बताया कि टीका लगने के बाद मैं पूर्णतः स्वस्थ्य हूं। टीके को लेकर पहले मन मे थोड़ा भ्रम था, लेकिन टीका लगने के बाद सभी भ्रम दूर हो गये है। दीक्षा ने कहा कि हमारी सुरक्षा के लिए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा टीकाकरण अभियान चला रही है। दीक्षा ने सभी 15 से 18 वर्ष की आयुवर्ग के साथियों से भी अपील की है कि वे भी आगें आकर कोविड-19 से बचने के लिए टीकाकरण कराए। वहीं कक्षा 12वीं के रोहित पालिया ने बताया कि वे चहाते थे कि उन्हें टीका पहले दिन ही लगे। टीका लगवाने के लिए उन्होंने लंबा इंतजार किया है। जब उन्हें टीका नहीं लगा था तब तक वे लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित कर रहे थे। वहीं कक्षा 12वी की ही अंजली कुशवाह ने बताया कि उन्होंने अपने माता-पिता को प्रेरित किया था कि वे वैक्सीन जरूर लगवाएं। उन्होंने भी सोच लिया था कि जब भी उनकी आयु वर्ग के लोगों को टीका लगेगा वे जरूर टीका लगवाएंगी।

जिले में 15 से 18 आयुवर्ग के किशोर बालक-बालिकाओं के कोविड टीकाकरण अभियान में पहले दिन बच्चों ने भारी उत्साह दिखाया। शाम 5.30 बजे तक प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में 25 हजार 66 किशोर बालक-बालिकाओं का कोविड टीकाकरण किया गया। जिले में 255 टीकाकरण केन्द्र बनाए गए थे। कलेक्टर चंद्र मोहन ठाकुर ने बताया कि जिले को टीकाकरण के लिए मिले 25 हजार के लक्ष्य के विरूद्ध 25 हजार 66 किशोर बालक-बालिकाओं का टीकाकरण किया गया। कलेक्टर श्री ठाकुर ने जिला प्रशासन, जनप्रतिनिधियों, समाजसेवियों, कोरोना वालेंटियर्स, मीडिया, रचनाकारों, प्रबुद्ध नागरिकों, खिलाड़ियों के सक्रिय सहयोग से अभियान के पहले दिन टीकाकरण के लिए सभी आभार व्यक्त किया। सुबह 9 बजे से ही बड़ी संख्या में बच्चे स्कूलों में बनाए गए कोविड टीकाकरण केन्द्रों में टीका लगवाने के लिए बालक-बालिकाओं का आना शुरू हो गया था। टीकाकरण के लिए आने वाले बच्चों को कोई परेशानी न हो इसके लिए टीकाकरण केन्द्र पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं की गई थी। टीका लगाने को लेकर बच्चे और अभिभावक जागरूक दिखे।

जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति

जिले में कुल 25 हजार 66 किशोर बालक-बालिकाओं का टीकाकरण किया गया। जिले के सभी विकास खंडों में कुल 255 टीकाकरण केन्द्र आयोजित किए गए। आष्टा में 5767, बुदनी में 3385, इछावर में 3310, नसरुल्लागंज में 3894, श्यामपुर में 5056 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 3654 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।

जनप्रतिनिधियों व समाजसेवियों ने किया शुभारंभ

जिले में अलग-अलग स्थानों पर बनाए गए टीकाकरण केन्द्रों में टीकाकरण का शुभारंभ जनप्रतिनिधियों व समाजसेवियों तथा प्रशानिक अधिकारियों द्वारा किया गया। उन्होंने टीका लगवाने वाले बच्चों का माला पहनाकर स्वागत किया। इस मौके पर उन्होंने बच्चों से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग कोविड का टीका अवश्य लगवाएं व अपने आसपास के लोगों को भी टीकाकरण केन्द्रों पर लेकर आएं और उन्हें भी कोविड का टीका लगवाएं। सांसद रमाकांत भार्गव, इछावर विधायक करण सिंह वर्मा, आष्टा विधायक रघुनाथ सिंह मालवीय तथा सीहोर विधायक सुदेश राय ने टीकाकरण केन्द्रों पर जाकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया। साथ ही उन्होंने टीकाकरण केन्द्रों की व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया।

टीकाकरण केन्द्रों को सजाया गया

टीकाकरण महाअभियान के शुभारंभ अवसर पर जिले में बनाए गए टीकाकरण केन्द्रों को सजाया गया, ताकि बच्चों को अपनी बारी आने तक प्रतीक्षा करने में अरूची न हो। टीकाकरण केन्द्रों को बैलून, फूलों और रंगोली से सजाया गया। जो दिनभर आकर्षण का केन्द्र बने रहे। टीका लगवाने के लिए आने वाले बच्चों ने केंद्र पर की गई व्यवस्थाओं की सराहना की। लोगों में जागरुकता व टीका लगवाने की प्रेरणा भी देखी गई। टीका लगवा चुके बच्चों ने भी आस-पड़ोस के अन्य लोगों को कोविड का टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया।

कलेक्टर ने किया नगर के अनेक वैक्सीनेशन सेंटर्स का निरीक्षण

जिले में 15 से 18 आयुवर्ग के किशोर बालक-बालिकाओं का कोरोना महामारी से बचाव के लिए कोविड-19 वैक्सीनेशन स्कूलों में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर्स पर किया जा रहा है। कलेक्टर चन्द्र मोहन ठाकुर ने जिला मुख्यालय के उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-1, शासकीय सुभाष स्कूल गंज तथा शासकीय हाई स्कूल पचामा सहित कई स्कूलों में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर्सं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री ठाकुर ने वैक्सीनेशन कराने आए बच्चों का उत्साह वर्धन करते हुए कहा कि सभी बच्चे उत्साह व उमंग के साथ कोविड-19 का टीका लगवाए। इसके साथ अपने-अपने घर, परिवार, रिश्तेदार, चिर परिचितों के बच्चों को भी टीकाकरण कराने प्रेरित करें। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए कोविड-19 के दोनों टीके तथा कोविड अनुकूल व्यवहार, मास्क का उपयोग, फिजिकल डिस्टेसिंग तथा साबुन व सैनिटाइजर से बार-बार हाथ धोना जीवन का सुरक्षा कवच है। इसे सभी को आत्मसात करना होगा और अपने दिनचर्या में शामिल करना होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local