लोगो लगाए----------

राजगढ़ (नवदुनिया प्रतिनिधि)।

जिले में वन क्षेत्र की स्थिति नगण्य है। राजगढ़ जिले का क्षेत्रफल 6 हजार 154 स्क्वायर किमी. हैं। इसमें से महज 2.80 फीसद यानि172.31 वर्ग किमी. भूमि वन विभाग के अधीन है। इस भूमि में से महज 61.54 स्क्वायर किमी. भू-भाग पर ही पेड़-पौधे लगे हुए हैं। जिले में वनाच्छादित क्षेत्र मौजूद कुल भू-भाग का महज 1 फीसद होने से यह प्रदेश स्तर पर काफी पीछे है।

बता दें कि प्रदेश में कुल भू-भाग का 21 फीसद वन क्षेत्र है। इंडियन स्टेट फॉरेस्ट सर्वे रिपोर्ट 2019 के अनुसार राजगढ़ जिले में 6 हजार 154 स्क्वायर किलोमीटर के भू-भाग में से 2.80 फीसद क्षेत्र वन के लिए उपलब्ध हैं। विभाग के एसडीओ राजीव दुबे के अनुसार जिले के कुल भू-भाग में से 1 फीसद पर ही पेड़-पौधे स्थित है। शेष भूमि रिक्त पड़ी हुई है।

पौधों की देखभाल भी ठीक से हो

सचित्र आरएजे 16 डॉ. मो. लुकमान मंसूरी।

जंतु एवं वनस्पति शास्त्र के जानकार डॉ. मोहम्मद लुकमान मंसूरी के अनुसार जिले का वनाच्छादित क्षेत्र कुल जनसंख्या के मान से बेहद अल्प होकर चिंतनीय है। उन्होंने कहा कि शासन को प्रत्येक शासकीय कर्मचारी, शासकीय योजनाओं से लाभान्वित होने वाले हितग्राहियों एवं आम व्यक्तियों की पौधरोपण एवं उनकी देखरेख के प्रति जिम्मेदारी सुनिश्चित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रतिवर्ष लगाए जाने वाले पौधों की देखभाल भी ठीक से की जाना चाहिए, ताकि यहां का वनाच्छादित क्षेत्र का रकबा संतोषजनक स्थिति तक बढ़ाया जा सके।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags