सीहोर। नगर से इंदौर पहुंचे एक युवक ने अपने रिश्तेदार को फोन लगा शव को ठिकाने लगाने पैसे मांगे, जिसकी सूचना रिश्तेदार ने एमआइजी थाना इंदौर को दी, तो पुलिस ने मौके से मुख्य आरोपित व उसके सहयोगी दोनो को गिरफ्तार कर सख्ती से पूछताछ कि तो पता चला कि सीहोर में एक युवक की हत्या कर आया है। आरोपित की बताए गए स्थान की सूचना मिलने पर शव को कोतवाली पुलिस ने बरामद कर लिया है, जिससे मोहल्ले में सनसनी फैल गई, वहीं दोनो आरोपित को इंदौर से लाने कोतवाली पुलिस दल रवाना किया गया है। बुधवार की सुबह 11 बजे कोतवाली टीआई के पास एमआइजी थाना इंदौर से फोन आया कि हमने दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है, जो सीहोर के आराकस मोहल्ले में एक युवक की हत्या कर कमरे में बंद करके आए है, जो इंदौर आकर अपने रिश्तेदार से शव को ठिकाने लगाने पैसे मांग रहे थे, जिनकी सूचना पर हमने दोनो को गिरफ्तार किया है। जब कोतवाली पुलिस बताए गए पते पर आराकस मोहल्ले पहुंची, तो बताए हुए घर में ताला लगा था, जिसे खोलकर देखने पर पता चला कि युवक मृत अवस्था में पड़ा हुआ है, जिसकी पहचान गोलू बार्डर पिता रमेश 27 वर्ष नगारची मोहल्ले के रूप में की गई। इसके बाद कोतवाली टीआइ ने पुलिस दल को इंदौर एमआइजी थाना दोनो आरोपितों को लेने रवाना कर दिया। आरोपितों को लेकर देर रात तक आने की संभावना है।

मृतक पर 28 अपराधिक मामले दर्ज

बताया जा रहा है कि मृतक गोलू बार्डर नगारची मोहल्ला निवासी था, जो आराकस मोहल्ले में आरोपित अंशुल इरजरिया के घर सोमवार की रात गया था, जहां शराब पीने के बाद अंशुल 19 वर्ष व अरमान 21 वर्ष से गोलू बार्डर का विवाद हुआ, तो गोलू ने अंशुल को डंडे से मार दिया, जिसने डंडा छीन लिया और अंशुल व अरमान ने गोलू पर हमला कर घायल अवस्था में अंशुल ने अपने ही कमरे में बाहर से ताला डालकर बंद कर दिया। इसके बाद अरमान के साथ इंदौर रवाना हो गया, जहां एमआइजी थाना पुलिस ने दोनो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। कोतवाली पुलिस ने बताया कि मृतक पर अलग-अलग 28 मामले कोतवाली थाने में दर्ज हैं। कोतवाली टीआइ नलिन बुधोलिया ने बताया कि दो आरोपित हैं, अंशुल व अरमान दोनो को गिरफ्तार करने दल को इंदौर रवाना किया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close