सिवनी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा एनएच 44 पर सिवनी-नागपुर के बीच मोहगांव से खवासा की 29 किमी सड़क का निर्माण 968 करोड़ रुपये की लागत से कराया है। 16 सितंबर शाम 7 से 9 बजे के बीच सड़क का वर्चुअल तरीके से लोकार्पण किया जाएगा। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गड़करी इस फोरलेन सड़क का लोकार्पण वर्चुअल तरीके से करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान करेंगे। हैरानी की बात यह है कि लंबे संघर्ष के बाद इस फोरलेन सड़क निर्माण को वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने हरी झंडी दी थी। वहीं वन्यप्राणियों के अनुकूल देश का पहला नेशनल हाइवे बनाया गया है। जिसमें कई किमी के अंडरपास बनाने के साथ ही साऊंड वेरियर व हैड लाइट रिड्युजर लगाए गए हैं।

हाईटेक टैक्नॉलिजी से बनाए गए नेशनल हाइवे पर एनएचएआई ने चार गुना राशि निर्माण पर खर्च की है। इसके बावजूद हाइवे के लोकार्पण में जिले के जनप्रतिनिधियों व क्षेत्रवासियों की उपस्थिति का भी ध्यान नहीं रखा गया है। मंत्रालय से जारी कार्यक्रम के अनुसार खवासा टोल प्लाजा के पहले स्थित एक रिसॉर्ट से इस योजना का लोकार्पण किया जाएगा। जिसमें बालाघाट-सिवनी सांसद ढालसिंह बिसेन व बरघाट के क्षेत्रीय विधायक अर्जुन सिंह काकोड़िया को आमंत्रित किया गया है। इसके अलावा कार्यक्रम में केंद्रीय इस्पात व ग्रामीण विकास राज्यमंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते, केंद्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद पटेल, केंद्रीय मंत्री ज्योतरादित्य सिंधिया, डॉ वीरेंद्र कुमार, नरेंद्र सिंह तोमर, केंद्रीय राज्यमंत्री डॉ वीके सिंह भी वर्चुअल तरीके से जुड़ेंगे।

लंबी लड़ाई के बाद मिली थी स्वीकृति- साल 2007-08 में सिवनी-नागपुर फोरलेन निर्माण में अवरोध उत्पन्ना होने के बाद जिले के तत्कालीन व वर्तमान जनप्रतिनिधियों सहित आम नागरिकों, स्वयंसेवी संगठनों व मीडिया ने इस मामले को प्रमुखता से उठाया था। कई आंदोलन व लंबी कानूनी लड़ाई के बाद इस फोरलेन सड़क के निर्माण को 2017-18 में स्वीकृति दी गई थी। जिले वासियों व जनप्रतिनिधियों को उम्मीद थी कि उत्तर से दक्षिण को जोड़ने वाले इस फोरलेन सड़क का निर्माण पूर्ण होने की उपलब्धि का लोकार्पण भव्य तरीके से किया जाएगा, लेकिन अचानक एनएचएआई ने फोरलेन के लोकार्पण का कार्यक्रम जारी कर सभी को हैरान कर दिया। जिले के अधिकांश जनप्रतिनिधियों को तो फोरलेन लोकार्पण कार्यक्रम की जानकारी भी नहीं है।

तेंदुए के हमले से मृतका के स्वजन को दी सांत्वना राशि

पांडियाछपारा। केवलारी वन परिक्षेत्र वन विकास निगम उगली के मोहगांव में गत दिवस तेंदुए के हमले से 50 वर्षीय रंजीता गिलरिया की मौत हो गई थी। महिला का अंतिम संस्कार स्वजनों, वन क्षेत्राधिकारी, पुलिस प्रशासन, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि व ग्रामीणों की उपस्थिति में किया गया। मृत महिला के स्वजनों में 15 वर्षीय पुत्र को सांत्वना व आर्थिक सहायता के रूप में विभाग द्वारा 20 हजार रुपये की नकद राशि क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य वीरेंद्र राज पप्पु ठाकुर की उपस्थिति में सौंपी गई। महिला के अंतिम संस्कार में केवलारी वन परिक्षेत्र अधिकारी डीएम रामटेके, एचएल दाहिया, एसके बनवाले, जेएल जम्भारे, जनप्रतिनिधि क्षेत्रीय ग्रामीणजन, उगली थाना प्रभारी एसएस भारद्वाज, एसआई सीएल सिंगमारे, आरक्षक सरविंद उइके गणेश हनवत उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local