सिवनी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के कुरई थाना अंतर्गत बादलपार चौकी के पतरई गांव में रविवार सुबह अवसाद (तनाव) में आकर एक 30 वर्षीय युवक संतोष पुत्र सुखदास भलावी ने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर रही है। स्वजनों के मुताबिक मिर्गी की बीमारी से पीड़ित मृतक युवक शादी नहीं होने से वह परेशान था। 22 नवंबर रविवार की सुबह घर के कमरे के मलगे पर युवक का शव गमछे से बनाए गए फंदे में लटका मिला।

बादलपार चौकी प्रभारी डीएस शरणागत ने बताया कि मां ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि मृतक संतोष भलावी (30) की बचपन में ही मौत हो गई थी। मिर्गी की बीमारी से पीड़ित संतोष का कई बार इलाज कराया गया, लेकिन कोई सुधार नहीं हुआ। इसी कारण संतोष की शादी (रिश्ता) तय नहीं हो पा रहा था। जबकि संतोष की छोटी बहिन की पांच साल पहले शादी हो चुकी हैं। विवाह ना होने से संतोष परेशान था, इसके बारे में मामा को भी संतोष ने कई बार बताया था।

चौकी प्रभारी शरणागत ने बताया कि मृतक की मां अपनी बेटी के घर बालाघाट के जाम गांव गई थी। शनिवार-रविवार की रात घर में मृतक व उसकी 80 वर्षीय नानी ही मौजूद थे। इसी दौरान अवसादग्रस्त युवक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। सुबह नानी ने संतोष का शव फंदे पर देखकर इसकी सूचना पड़ोसियों व पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई के बाद शव को पीएम के लिए भेज दिया हैं। मर्ग कायम कर प्रकरण में विस्तृत जांच की जा रही हैं।

पत्नी घर वापस नहीं आई तो पति ने ससुर को मौत के घाट उतारा

पत्नी के मायके से वापस घर नहीं आने से आक्रोशित पति ने शनिवार की रात ससुर को धार-दार बके से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद से आरोपित फरार है। धूमा पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपित की तलाश शुरू कर दी है।

दूज का पर्व मनाने मायके गई थी पत्नी- घूमा थाना प्रभारी एमएल राहंगडाले ने बताया है कि थाना क्षेत्र के गांव भोरगढ़ी निवासी नरेंद्र पुत्र वीरन यहके (30) की पत्नी दूज का पर्व मनाने के लिए 17 नवंबर को अपने मायके खामी गांव गई थी। तीन दिन बाद पति नरेंद्र ने पत्नी को फोन कर आज के आज घर वापस आने की बात कही थी।

फोन पर ही दी थी ससुर को मारने की धमकी- पुलिस के मुताबिक नरेंद्र के फोन करने पर पत्नी ने शाम होने व गांव वापस आने का साधन नहीं होने की बात कहकर दूसरे दिन घर आने की बात कही थी। इससे नाराज होकर पति ने फोन पर ही पत्नी के पिता को जान से मारने की धमकी दी थी। इस धमकी से डर कर पत्नी दूसरे दिन भी पति के पास नहीं लौटी।

घर में सोते समय मुर्गा काटने वाले बके से ससुर की कर दी हत्या- थाना प्रभारी ने बताया है कि पत्नी के दूसरे दिन भी घर वापस नहीं आने से पति नरेंद्र आक्रोश में आ गया। मौका देखकर वह शनिवार की रात अपने ससुराल गया और घर में सो रहे अपने ससुर सहसराम पुत्र नन्हेलाल काकोड़िया (50) पर धार दार मुर्गा काटने वाले बके से हमला कर दिया। हमले से ससुर की मौके पर ही मौत हो गई। हत्या करने के बाद आरोपित मौके से फरार हो गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस