सिवनी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। भवन निर्माण के समय विकास शुल्क की वसूली के साथ मकान टैक्स वसूले जाने के बाद भी विकास की बाटजोह रहे हैं। कबीर वार्ड के रामनगर कॉलोनी वासियों को विकास की आस है। नगरीय चुनाव हो या फिर विधानसभा के यहां विकास कार्य किए जाने का आश्वासन जनप्रतिनिधियों ने दिए चुनाव निकल जाने के बाद सभी ने मुहं फेर लिया। जनप्रतिनिधियों ने जहां विकास के नाम पर कुछ नहीं किया वहीं टैक्स की राशि वसूलने के बाद भी नगरीय प्रशासन विकास व सुविधाओं से दूरी बनाए हुए हैं। कालोनी में जगह-जगह जलभराव, खुले प्लाट में कचरे का ढेर, गाजरघास से रहवासी परेशान हैं।

नहीं बनी अभी तक पक्की सड़क : रामनगर कॉलोनी में कई सालों बाद बिजली मुहैया तो कराई गई लेकिन कच्ची सड़क, नाली से लोग परेशान हैं। रहवासियों ने बताया कि बीसों सालों से कॉलोनी की सड़कें कच्ची है। बारिश के दिनों में कच्ची सड़कों में जगह-जगह कीचड़ भर जाता है। दलदल कीचड़ से सनी सड़क पर पैदल राहगीर व बाइक चालकों से आवागमन में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। वहीं निचले इलाकों की सड़क पर बड़ी मात्रा में पानी भर जाने से लोगों को घूम कर अन्य मार्गों से जाना-आना पड़ता है। सड़क पर बिछाई गई गिट्टी भी उखड़कर बहार निकल गई है। वाहनों की आवाजाही से कच्ची सड़क ओर भी खराब हो रही है।

पेयजल समस्या बरकरार : पाइप लाइन बिछी पर पेयजल की किल्लत बरकरार है। रामनगर कॉलोनी में नल से पीने का पानी लोगों को नहीं मिल रहा है। रहवासियों ने बताया कि यहां पाइप लाइन तो बिछाई गई है लेकिन नल कनेक्शन नहीं किए जाने से पानी की समस्या पूर्ववत बनी हुई है। लोगों ने बताया कि कबीर वार्ड में साल भर सबसे ज्यादा समस्या पानी की रहती है। पेयजल के नाम पर शासन-प्रशासन के गंभीरता से काम नहीं किया। अधिकांश लोगों ने अपने घरों में बोर कर पानी की व्यवस्था बना रखे हैं।

जगह-जगह गाजर घास का अंबार : वार्ड की अनेक कॉलोनियों में मकान निर्माण ना होने से जगह-जगह कचरे की झाड़ियां व गाजर घास उग आई है। इन कचरे के पौधों की कटाई ना होने से इनमें जहरीले जीव जंतु अक्सर निकलते रहते हैं। वार्डवासियों का कहना है कि इन स्थानों पर सफाई करा दी जाए तो उन्हें काफी हद तक राहत मिल जाएगी। वहीं रिक्त पड़े प्लाटों में बारिश का पानी जाम रहता है। जलभराव के कारण मच्छर, मक्खी की संख्या में इजाफ हो रहा है। जिसके कारण लोगों के स्वास्थ्य पर भी विपरीत असर पड़ रहा है।

क्षतिग्रस्त नालियों से सड़क में बहता रहता है पानी : कॉलोनी की क्षतिग्रस्त नालियों में हमेशा घरों से निकलने वाला पानी भरा रहता है। वहीं नाली में अधिक पानी जमा रहने से आसपास सड़क तक पानी भरा रहता है। सड़क तक पानी पहुंचने से सड़क संकीर्ण हो रही है। वहीं सड़क से गंदा पानी बहने के कारण लोगों को जाने-जाने में भी असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है। रहवासियों ने बताया कि यहां वर्ष 2001 से बसाहट है और वर्तमान में 150 से अधिक घर बन चुके हैं। मकान निर्माण के समय विकास शुल्क 15 प्रतिशत लिया गया। वहीं मकान टैक्स वसूले जाने के बाद भी कच्ची सड़क, कच्ची नाली से लोगों को मुक्ति नहीं मिली है। नागरिकों ने कलेक्टर, नगर पालिका अधिकारी से मांग की है कि शीघ्र ही कॉलोनी में पक्की सड़क, नाली बनाई जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local