सिवनी (नईदुनिया प्रतिनिधि)। 35-40 टन वजनी डोलामाइट के ट्रक द्वारा कुरई पीपरवानी के हाथीगढ़ गांव की ग्रामीण सड़कों को बर्बाद करने का मामला 19 अप्रैल सोमवार को नईदुनिया में प्रकाशित होने के बाद खनिज विभाग का अमला व कुरई पुलिस टीम ने डोलामाइट खदान का दौरा कर हैवी ब्लास्टिंग पर अंकुश लगाने के निर्देश संबंधितों को दिए हैं। इस दौरान हाथीगढ़ के ग्रामीणों व सरपंच पति ने धनराज कर्वेती ने डोलामाइट के 14-16 चका ट्रकों में हो रही ओवर लोडिंग व हैवी ब्लास्टिंग से घरों को हो रहे नुकसान से अधिकारियों को अवगत कराया। खनिज निरीक्षक शिवपाल चैधरी व पुलिस अमला डोलामाइट पत्थर का खनन कर रही कंपनी के संचालक व कर्मचारियों को समझाइश देकर वापस लौट गया। इससे ग्रामीण भड़क गए, ग्रामीणों का कहना है कि यदि खदान से पत्थर की ओवर लोडिंग व हैवी ब्लास्टिंग नहीं रोकी गई, तो ग्रामवासियों को आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा।

छत तोड़कर घरों में गिर रहे पत्थरः पूर्व सरपंच व वर्तमान सरपंच पति धनराज कर्वेती ने बताया कि खदान में दिन-रात 24 घंटे पत्थर का खनन रायपुर की आइरन एनर्जी कंपनी के संचालक संजय अग्रवाल द्वारा कराया जा रहा है। रात में हैवी ब्लास्टिंग होने से ग्रामीणों का सोना मुश्किल हो गया है। दिन हो या रात हैवी ब्लास्टिंग से खदान से पत्थर उछल कर ग्रामीणों के घर की छत तोड़कर अंदर गिर रहे हैं। ऐसे में कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। बीते दिनों ब्लास्टिंग से उछले पत्थरों से एक ग्रामीण के घर का टायलेट धराशाही हो गया। वहीं एक घर में पत्थर छत को तोड़ता हुआ कूलर में जा गिरा। इससे घर में मौजूद ग्रामीण बाल-बाल बच गए। हैवी ब्लास्गि के चलते कभी भी ग्रामीणों के साथ कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

अधिकारियों से निकलवाए ट्रकः ग्रामीणों का आरोप है कि मौके पर पहुंचे खनिज व पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में 35-40 टन वजनी ओवर लोड ट्रक वाहनों को खदान से रवाना किया गया। वहीं ट्रक ड्रायवरों से रायल्टी मांगने पर कोई भी रायल्टी दिखाने तैयार नहीं हुआ। इस मामले में खनिज अधिकारियों का कहना है कि खनन व परिवहन पर किसी तरह की रोक नहीं लगाई गई है। ऐसे में ग्रामीणों द्वारा रविवार से खदान में डोलामाइट से भरे ट्रकों को निकलने से रोका जा रहा था, जो अवैधानिक है। हैवी ब्लास्टिंग व ओवर लोर्डिंग से हो रहे नुकसान पर लिखित शिकायत संबंधित विभाग में दर्ज कराने की समझाइश ग्रामीणों को दी हैं।

पंचायत ने कुरई एसडीएम व थाना प्रभारी को भेजा था पत्रः कुरई के पीपरवानी क्षेत्र की हाथीगढ़ डोलामाइट पत्थर खदान में 35-40 टन वजनी ट्रकों के परिवहन से ग्रामीण सड़कें बर्बाद होने के मामले में हाथीगढ़ पंचायत ने ओवर लोड ट्रकों पर अंकुश लगाने की मांग करते हुए पत्र कुरई एसडीएम व थाना प्रभारी को भेजा था। इसमें सरपंच ज्योति धनराज कर्वेती व सचिव ने कहा था कि ओवर लोडिंग के कारण क्षेत्रवासियों का सड़क पर चलना भी मुश्किल हो गया है। हर दिन कंपनी के 15 से 20 ट्रक डोलामाइट का परिवहन कर रहे हैं। 35-40 टन वजनी ट्रकों की आवाजाही से सड़कें चकनाचूर हो गई हैं। हाथीगढ़ से जटामा तक बनाई गई मुख्यमंत्री सड़क, जटामा से पीपरवानी तक बनी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की सड़क बर्बाद गई है। 8 से 10 टन वजनी वाहनों के परिवहन की क्षमता वाली सड़कों पर चार गुना ओवर लोड वाहनों की हर दिन आवाजाही हो रही है। इससे सड़कें क्षतिग्रस्त हो चुकी है। जिससे ग्राम जटामा, सिल्लारी, हाथीगढ़ के आम नागरिकों का सड़क पर चलना मुश्किल हो गया है।

अधिकारी नहीं कर रहे सुनवाईः ग्रामीणों का कहना है कि कोरोना महामारी में रायपुर व महाराष्ट्र से वाहन में आए हुए चालकों व उनके सहायक 30 से 40 की संख्या में हाथीगढ़ खदान पहुंच रहे हैं। ऐसे में क्षेत्र में कोरोना संक्रमण फैल सकता है। सरपंच पति धनराज कर्वेती का आरोप है कि अधिकारियों द्वारा खदान संचालक पर कार्रवाई करने की बजाए ग्रामीणों समझाइश दी जा रही है। खनिज अधिकारी ओवर लोर्डिंग से बर्बाद हो रही सड़क के मामले में अपना पल्ला झाड़कर कलेक्टर से शिकायत की बात कह रहे हैं। साथ ही ओवर लोड ट्रकों को रोकने पर पुलिस प्रकरण दर्ज करने की धमकी दी जा रही है।

इनका कहना है

डोलामाइट खदान संचालक को समझाइश देकर परिवहन में लगे ट्रकों की संख्या कम करने, कंट्रोल ब्लास्टिंग करने की समझाइश दी गई है, ताकि हाथीगढ़ के ग्रामीणों को परेशानी का सामना ना करना पड़े। ओवर लोडिंग का मामला हमारे दायरे में नहीं आता है। सोमवार को खदान से निकाले गए ट्रकों में रायल्टी मौजूद थी। ग्रामीणों को समझाइश दी गई है ट्रक वाहनों को ना रोका जाए, यदि किसी के घर में ब्लास्टिंग से नुकसान हुआ है, तो इसकी लिखित शिकायत पुलिस अथवा खनिज विभाग में दें, इस पर कार्रवाई की जाएगी।

शिवपाल चौधरी

खनिज निरीक्षक सिवनी

खनिज अमले के साथ कुरई पुलिस टीम को मौके में सहयोग के लिए भेजा गया था। खनिज विभाग मामले में जांच कर कार्रवाई करेगा। ग्रामीणों व खदान संचालक को पुलिस की मौजूदगी समझाइश दी गई है।

मनोज गुप्ता

थाना प्रभारी कुरई

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags