सिवनी, नईदुनिया प्रतिनिधि। भीमगढ़ बांध की नहरों से सिंचाई का पानी नहीं मिलने से नाराज किसानों ने शनिवार दोपहर सिवनी-मंडला जिले की सीमा पर राजमार्ग पर खैररांजी के सालीवाड़ा के पास में जाम लगाकर प्रदर्शन किया। किसानों का कहना था कि, सिंचाई विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के चलते भीमगढ़ बांध के टेल क्षेत्र से जुड़े किसानों के खेतों में नहर से पानी नहीं पहुंच रहा है। 30 नवंबर तक टेल क्षेत्र के किसानों के खेतों तक पानी पहुंचाने का आश्वासन दिया गया था। लेकिन अभी तक सिंचाई का पानी नहीं पहुंचा है। हेड क्षेत्र के किसान मोटर पंप से नहर का पानी खींच रहे हैं। करीब दो से ढाई घंटे चले विरोध प्रदर्शन के दौरान क्षेत्र के किसानों ने सिंचाई का पानी उपलब्ध कराने की मांग रखी।

मौके पर पहुंचे केवलारी एसडीएम, एसडीओपी, तहसीलदार सहित बड़ी संख्या अनुविभाग के सभी थाना का पुलिस बल तैनात रहा। मौके पर पहुंचे सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने लिखित आश्वासन के बाद किसान माने और प्रदर्शन समाप्त किया। किसानों की मांग के अनुरूप नहर से टेल क्षेत्र में पानी पहुंचाना शुरू कर दिया गया है।वहीं किसानों को भरोसा दिलाया गया है, कि तब तक टेल क्षेत्र के किसानों की सिंचाई का कार्य पूरा नहीं होता है, तब तक नहरों को बंद नहीं किया जाएगा। किसानों की उपस्थिति में इस आशय का एक पंचनामा भी तैयार किया गया।

वाहनों की लगी कतारें- किसानों के प्रदर्शन व विरोध के कारण सिवनी-मंडला मार्ग पर दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। सूचना पर केवलारी एसडीएम एचसी घोरमारे, तहसीलदार नितिन गौंड़, एसडीओपी भगत गठोरिया, थाना प्रभारी किशोर बामनकर और सिंचाई विभाग के कार्यपालन यंत्री डीआर चौधरी की समझाइश के बाद किसानों ने अपना आंदोलन समाप्त किया।

इनका कहना है

टेल क्षेत्र के पानी पहुंचाने नहरों में लगे कुलावों को हटा दिया गया है।नहरों की सतत निगरानी की जा रही है, जहां भी मोटर पंप लगे मिल रहे हैं, उन्हें हटाने के साथ जब्त करने की कार्रवाई की जा रही है। डीआर चौधरी, कार्यपालन यंत्री, सिंचाई विभाग केवलारी

Posted By: Jitendra Richhariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close