सिवनी। मप्र यूनाइटेड फोरम फॉर पावर इप्लाइज व इंजीनियर्स के बैनरतले बिजली कंपनी के सिवनी वृत के अधिकारियों ने 26 नवंबर गुरूवार अधिकारियों-कर्मचारियों ने केंद्र के विद्युत सुधार बिल के विरोध काली पट्टी लगाकर काम किया। वृत कार्यालय गेट पर अधिकारियों व कर्मचारियों ने शाम 5.30 बजे अपनी मांगों के समर्थन में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में यूनाइटेड फोरम के क्षेत्रीय अध्यक्ष इंजी पीके मिश्रा, उपाध्यक्ष घनश्याम खंडेलवाल, जिला अध्यक्ष इंजी एमएल साहू, जिला संयोजक संतोष पटेल, जिला सचिव व्हीके इनवाती, इंजी सुनील त्रिवेदी लखनादौन, इंजी एसके त्रिपाठी, इंजी खुशीयाल शविवंशी, संगठन मंत्री दुर्गाप्रसाद शर्मा सहित वृत के सभी अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

मप्र यूनाइटेड फोरम फॉर पावर इप्लाईज व इंजीनियर्स द्वारा केंद्र सरकार के प्रस्तावित विद्युत सुधार बिल 2020 व एसबीडी को तुरंत वापस लेन की मांग की जा रही हैं। साथ ही प्रदेश व केंद्र शासित प्रदेशों में विद्युत कंपनी के निजीकरण को वापस लिया जाकर देश व प्रदेश में प्रायवेट लाइसेंसी, फेंचाइजी समाप्त करने की मांग यूनियन द्वारा विरोध प्रदर्शन के दौरान की गई।

प्रदेश में उत्पन्ना्‌ पारेषण व वितरण कंपनियों का केरल राज्य विद्युत बोर्ड की तरह एकीकरण, नई पेंशन को समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना लागू करने, अनिवार्य सेवानिवृत्ति को विद्युत क्षेत्र में समाप्त करने, संविदा कर्मियों के नियमतीकरण के साथ-साथ आउटसोर्स कर्मियो को तेलगांना शासन की तर्ज पर संविलियन कर अधोसंरचना के अनुरूप नए पद सर्जन कर उन्हें नियमित करने की मांग विरोध प्रदर्शन के दौरान की गई।

साथ ही प्रदेश व केंद्र शासित प्रदेशों में विद्युत कंपनी के निजीकरण को वापस लिया जाकर देश व प्रदेश में प्रायवेट लाइसेंसी, फेंचाइजी समाप्त करने की मांग यूनियन द्वारा विरोध प्रदर्शन के दौरान की गई।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस