सिवनी।गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के तत्वाधान में गुरूवार को न्याय अधिकारी रैली का आयोजन किया गया।इससे पूर्व पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर सिंह मरकाम, राष्ट्रीय महासचिव श्याम सिंह मरकाम व प्रदेश अध्यक्ष अमान सिंह पोरते सिमरिया गांव पहुंचे।यहां उन्होंने विगत दिनों हुए हत्याकांड के पीड़ित परिवार से मुलाकात की।

लगभग 6 बजे सिमरिया से सिवनी वापस आयए इन नेताओं ने मुख्यालय स्थित दशहरा मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित किया।राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आदिवासियों से अपील की कि अब समय आ गया है कि सब एकजुट हो जाएं। इस दौरान मंच पर उपस्थित नेताओं ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वे भारत के मूल निवासियों के अधिकारों की रक्षा नहीं कर पा रहे है। सिमरिया में हुई आदिवासियों की हत्या को लेकर तुलेश्वर मरकाम ने प्रदेश सरकार को चेतावनी दी कि जल्द से जल्द मामले से जुड़े सभी आरोपितों को कठोर दंड देने की प्रक्रिया पूर्ण की जाए, नहीं तो समाज पूरे प्रदेश में व्यापक आंदोलन करेगा।उन्होंने कहा कि जल, जमीन और जंगल की रक्षा करने वाले आदिवासियों पर लगातार हमले प्रदेश में हो रहे है,जो कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर रहे है। इस न्याय यात्रा के लिए कुरई, घंसौर, लखनादौन, बरघाट विकासखंडों से बड़ी संख्या में महिला व पुरूष मुख्यालय पहुंचे।

60 वर्ष की आयु में श्रमिकों को मिलेगी 3 हजार प्रतिमाह पेंशन, करें पंजीयन

सिवनी। भारत सरकार श्रम मंत्रालयच द्वारा वर्ष 2019 में प्रदेश के असंगठित श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित किए जाने को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना प्रारंभ की गई थी। इस पेंशन योजना के अंतर्गत 18 से 40 आयु वर्ग के समस्त असंगठित श्रमिक जिनकी मासिक आय 15 हजार व उससे कम है, इस योजना के पात्र होंगे। योजना का संचालन भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा किया जा रहा है। योजना के अंतर्गत 18 से 40 आयु वर्ग के असंगठित श्रमिकों को प्रतिमाह रुपये 55 से 200 रुपये तक प्रीमियन के रूप में जमा करना होगा। शेष 50 प्रतिशत प्रीमियन भारत सरकार, श्रम मंत्रालय द्वारा अदा किया जाएगा। 60 वर्ष की आयु पूर्ण हो जाने के बाद बीमित श्रमिकों को न्यूनतम रुपये 3000 मासिक पेंशन प्राप्त होगा। कोई भी इच्छुक श्रमिक अपने निकटतम कामन सर्विस सेंटर (सीएससी) पर जाकर प्रीमियम की प्रथम किश्त जमा कर अपना नामांकन करा सकते है।

असंगठित श्रमिकों और तेंदूपत्ता संग्राहकों का बल संबल 2.0 पुनः प्रारंभ

सिवनी। प्रदेश के असंगठित श्रमिकों की सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करने तथा उनके हित संरक्षण के उद्देश्य से राज्य शासन द्वारा संबल योजना को परिमार्जित करते हुए मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना 6 मई से प्रारंभ की गई। योजनांतर्गत ऐसे असंगठित श्रमिक जो नौकरी स्वरोजगार, वेतन के कार्य, घरों में नियोजन तेंदूपत्ता संग्रहण कार्य, अथवा किसी ऐसे कार्य में नियोजित हो जो एजेंसी, ठेकेदार के माध्यम से हो या प्रत्यक्ष रूप से कार्यरत हो व जिसे भविष्य निधि, कर्मचारी राज्य बीमा योजना, ग्रेज्युटी आदि सामाजिक सुरक्षा का लाभ प्राप्त नहीं होता हो पंजीयन के पात्र होंगे। पंजीयन की प्रक्रिया आनलाईइन होगी। इसकी तत्काल पोर्टल जनरेटेड रसीद आवेदक को प्राप्त होगी। जुलाई 2019 से संचालित सत्यापन अभियान में अपात्र घोषित व्यक्ति नवीन पंजीयन के लिए पोर्टल पर आवेदन दे सकते हैं। नवीन प्रक्रिया अनुसार जांच के बाद पात्र पाए जाने पर उनका पंजीयन किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close