छपारा (नईदुनिया न्यूज)। मूलभूत सुविधाओं को लेकर यूं तो नवगठित नगर परिषद करोड़ों के कार्य करने में लगी है।वहीं दूसरी ओर वर्षों से नगर की एक बड़ी समस्या सार्वजनिक शौचालय के लिए अब तक कोई प्रयास नहीं किए गए हैं।नगर में एक भी सार्वजनिक शौचालय नहीं होने के कारण क्षेत्र के लोगों के साथ यात्रियों को परेशान होना पड़ रहा है।

कई बार की जा चुकी है मांगः ग्रामीणों ने बताया है कि पूर्व में ग्राम पंचायत के कार्यकाल के दौरान भी सार्वजनिक शौचालय को लेकर कई बार मांग की जाती रही है, लेकिन ग्राम पंचायत के जिम्मेदारों की निष्क्रियता के चलते यह मांग पूरी नहीं हो पाई। अब नगर परिषद के अस्तित्व में आने के बाद भी इनकी कार्यप्रणाली का रवैया भी ग्राम पंचायत के स्तर का दिख रहा है।इससे लोगों में खासा आक्रोश व्याप्त है।

बाहर से आने वालों को होती है परेशानीः बसस्टैंड पर आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से प्रतिदिन लोग पहुंचते हैं।ऐसे स्थान पर भी साफ स्वच्छ शौचालय की कमी बरसो से खल रही है।इस पर सबसे अधिक परेशानी महिलाओं को उठानी पड़ती है जो यहां वहां जगह तलाश करने को मजबूर हैं।इसे लेकर नगर परिषद द्वारा इस परेशानी को नहीं समझा जा रहा है और ना ही इस और कोई कदम उठा रही है। इससे नगर परिषद के क्रियान्वयन होने के बावजूद नगर वासियों में उदासीनता है।

ग्रामीणों ने बताया है कि नगर के बस स्टैंड स्थित पंडित दीनदयाल काम्प्लेक्स पर सार्वजनिक सुलभ शौचालय स्थित है लेकिन सुलभ शौचालय पर आम जनों के लिए पेशाब घर नहीं है वहीं दूसरी ओर दुकानों के अंदर सिर्फ एक पुरुष पेशाब घर है जिसकी नियमित साफ-सफाई नहीं होने से वहां गंदगी और बदबू रहने के चलते पुरुष वर्ग मजबूरी में ही उसका उपयोग कर रहे हैं।महिला पेशाब घर नहीं होने के चलते नगरीय क्षेत्र होने के बावजूद व्यवस्थाओं को लेकर प्रश्नचिन्ह खड़े किए जा रहे हैं। जबकि अनेक बार जनप्रतिनिधियों व प्रशासन को नागरिकों ने लिखित रूप से आवेदन देकर इस ओर परेशानी से अवगत कराया है।इसके बाद भी आज दिनांक तक जमीनी रूप से सार्वजनिक शौचालय के निर्माण को लेकर और ना ही स्वच्छता परिसर के निर्माण के लिए नगर में कोई पहल नहीं किए जाने से परेशानी की स्थिति बनी हुई है।

इनका कहना है

नगर के बस स्टैंड, प्रज्ञा वार्ड, संजय कालोनी व नए पुल के पास सार्वजनिक शौचालय बनाने का प्लान है। जल्द ही इस दिशा में कार्रवाई कर निर्माण कराया जाएगा, ताकि लोंगों को दिक्कतों का सामना ना करना पड़े।

विक्रम झारिया, सीएमओ नगर परिषद छपारा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local