शहडोल, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहडोल जिले के नवगठित नगर परिषद बकहो में 53 पंचायत कर्मियों का नियम विरुद्ध संविलियन उजागर हुआ है। इस मामले में सोमवार रात भोपाल से एक पत्र जारी हुआ जिसमें जेडी सहित आठ लोगों को भर्ती घोटाले में संलिप्त पाया गया जिसमें 5 अधिकारी निलंबित कर दिए गए हैं।

आयुक्त नगरीय प्रशासन भोपाल के द्वारा यह कार्यवाही की गई है। इन सभी से 65 लाख की वसूली की जाएगी। नवगठित निकाय बकहो में 53 पंचायत कर्मियों का नियम विरुद्ध संविलियन कर दिया गया था । इसमें अधिकारियों के परिवार के लोग शामिल थे। जब यह मामला उजागर हुआ और इसकी शिकायतें की गई तो शिकायतों की गंभीरता से जांच की गई और इसके बाद जेडी समेत पांच अधिकारियों और तीन अन्य लोगों की मिलीभगत पाते हुए भोपाल से कार्यवाही की गई है। इन सभी से 65 लाख की वसूली के आदेश दिए गए हैं।

ग्राम पंचायत बकहो की संपत्तियों एवं दायित्व के हस्तांतरण तथा मूल कर्मचारियों का संविलियन तथा नगर परिषद को में किए जाने समिति का गठन किया गया था। समिति में शामिल अधिकारी और सदस्यों द्वारा नगर परिषद के गठन पर ग्राम पंचायतों में संविदा मानदेय पर कार्यरत 14 कर्मचारियों के साथ-साथ 39 कर्मचारियों जिनकी नियुक्ति मानदेय पर नगर परिषद के गठन की अधिसूचना प्रकाशित होने के बाद की गई ग्राम पंचायत के निवासी भी नहीं थे। इनकी सूची प्रपत्र में तैयार कर संचालक नगरीय प्रशासन एवं विकास शहडोल को सौंपी। कर्मचारियों के संबिलियन के लिए चयन समिति की बैठक आयोजित की गई थी जिसके बाद संविदा कर्मियों का संविलियन के नियमित पदों पर किया गया था।

नगर परिषद में हुई धांधली से नियमित रूप से नियमित पदों पर किए गए 53 कर्मचारियों को भुगतान किए गए वेतन भत्तों में निकाय को अक्टूबर 2021 तक की आर्थिक क्षति हुई है जिसके लिए भी संचालनालय नगरीय प्रशासन एवं विकास मध्यप्रदेश भोपाल सभी को जिम्मेदार माना है । पूरे मामले की जांच 3 सदस्य समिति ने की।

)इन अधिकारियों पर हुई कार्रवाई: नगर परिषद बकहो में हुए भर्ती घोटाला मामले में संयुक्त संचालक नगरीय प्रशासन एवं विकास शहडोल मकबूल खान , नगरपालिका अधिकारी धनपुरी रवि करण त्रिपाठी ,सीएमओ नगर परिषद बकहो जयदीप दीपांकर ,उपयंत्री अजीत रावत, तत्कालीन सरपंच फूलमती ग्राम पंचायत बकहो, तत्कालीन सचिव समय लाल सिंह, सहायक यंत्री राकेश तिवारी ,पाली के स्थाई कर्मी नगरपालिका सुरेश चंद्र शुक्ला शामिल हैं। जिनमें से जेडी मकबूल खान, सीएमओ धनपुरी रवि करण त्रिपाठी, सीएमओ बकहो जयदीप दीपांकर ,उपयंत्री एवं सहायक यंत्री को निलंबित कर दिया गया है । तत्कालीन सरपंच व सचिव के साथ-साथ स्थाई कर्मी के विरुद्ध कार्रवाई की अनुशंसा की गई है।

Posted By: Ravindra Suhane

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close