शहडोल, नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में एक बार फिर हाथियों का आतंक शुरू हो गया है। ब्यौहारी क्षेत्र में रविवार को हाथियों के हमले में एक ग्रामीण की मौत का मामला सामने आया है। पिछले 15 दिनों में हाथियों के तीन दल फिर शहडोल क्षेत्र के ब्यौहारी के जंगलों में पहुंचा है। यह दल ग्रामीण क्षेत्र में उत्पात मचा रहा है। मामले की जानकारी लगते ही वन अधिकारी, पुलिस और राजस्व का अमला निगरानी रख रहा है।

जानकारी के अनुसार ब्यौहारी ब्लाक के पपौंध थाना क्षेत्र के खारीबड़ी गांव के रहने वाले ग्रामीण मनीराम केवट 40 साल को माड़ानाला के पास रविवार की देर शाम हाथियों ने कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। वह मवेशी चराने जंगल में गया था, उसी समय हाथियों ने उसे दौड़ाकर कुचल दिया। हाथियों के उत्पात मचाने से ग्रामीणों में दहशत है। इस ग्रामीण हाथियों के दहशत में रतजगा कर रहे हैं।

पिछले सात महीने के अंदर हाथियों ने छह से अधिक लोगों को कुचलकर मौत के घाट उतार चुके हैं। ब्यौहारी ब्लाक के पपौंध पनपथा बफर जोन से पिछले कुछ दिनों से तीन अलग-अलग हाथियों का दल जंगल से लगे छतैनी, पटरहटा, छतवा, पपोढ़, खारी, धनेढ़, धनीड़ी, गोरीघाट, पटपरहटोला, बनासी, खुसरिया ग्रामीण क्षेत्रो में विचरण कर रहा है। हाथियों के उत्पात से गांव के लोग परेशान हैं। लोगों के खेती सहित मकानों को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं। इसके पहले जयसिहंगर वन परिक्षेत्र में हाथियों के दल ने पांच ग्रामीणों को कुचलकर मौत के घाट उतार दिया था। उसके बाद एक बार फिर हाथी के हमले में एक ग्रामीण की मौत हो गई है।

अनुविभागीय अधिकारी वन विद्या भूषण मिश्रा ने बताया कि बांधवगढ़ के बफर जोन से लगे ब्यौहार के जंगल में 30 हाथियों को दल घूम रहा है। रविवार को मनीराम केवट मवेशी चराने जंगल गया गया था। उसी समय हाथियों ने उसे कुचल दिया है। उसका शव मिल गया है और सोमवारा को पोस्टमार्टम के बाद स्वजनों को सौंप दिया गया है। मृतक के स्वजनों को चार लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close