Madhya Pradesh News: शहडोल/नईदुनिया प्रतिनिधि । रेल क्षेत्रीय प्रबंधक शहडोल (एआरएम ) यागवेंद्र सिंह भाटिया 30 वर्ष की गुरुवार की रात तकरीबन 9.00 बजे मेमो ट्रेन कटनी बिलासपुर से टकराने के कारण मौत हो गई है। यह घटना अमलाई रेलवे स्टेशन में हुई है। पुलिस के अनुसार एआरएम तीसरी रेलवे लाइन के लिए विद्युतीकरण कार्य कराने के लिए अमलाई रेलवे स्टेशन में मौजूद थे। मोबाइल से बात करते हुए स्टेशन की ओर गए और बात में इस तरह से खो गए कि उन्हें समझ में ही नहीं आया कि मेमो ट्रेन उनके नजदीक कब आ गई।

अचानक ट्रेन से टकरा गए और उनके सिर में गहरी चोट लगी। तत्काल उन्हें केंद्रीय चिकित्सालय धनपुरी में ले जाकर भर्ती किया गया लेकिन देखत ही डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मेमो ट्रेन कटनी से बिलासपुर की ओर जा रही थी।

जानकारी के अनुसार यागवेंद्र भाटी बैकुंठपुर में पदस्थ थे और शहडोल के अतिरिक्त प्रभार में काम कर रहे थे। वर्तमान में शहडोल में एआरएम का पद खाली था इसलिए इन्हें यह जिम्मेदारी दी गई थी। तीसरी लाइन के लिए विद्युतीकरण का कार्य चल रहा है और अमलाई स्टेशन के पास ही गुरुवार को काम चल रहा था जिसकी निगरानी के लिए यह वहां मौजूद थे।

पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने बताया कि रेलवे के अधिकारी की मौत हुई है। उन्हें केंद्रीय चिकित्सालय में तत्काल ले जाया गया है और अभी सूचना मिली है कि उनकी मृत्यु हो गई है। घटना कैसे हुई और पूरा मामला क्या है इसकी जांच के बाद ही स्पष्ट होगा।

अमलाई थाने की पुलिस मौके पर मौजूद है और जांच पड़ताल कर रही है। घटना की खबर लगते ही केंद्रीय चिकित्सालय में रेलवे के अधिकारी कर्मचारियों की भीड़ जमा हो गई। जानकारी के अनुसार यागवेंद्र की हाल ही में शादी हुई थी।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close