शहडोल(नईदुनिया प्रतिनिधि)।

जिले में गर्भवती महिलाओं को कोरोना की वैक्सीन लगाने की तैयारी है और 23 जुलाई शुक्रवार से एएनसी क्लीनिक में यह टीका लगना शुरू हो जाएगा। इस वैक्सीनेशन कार्यक्रम को लेकर गुरुवार को जिला प्रशिक्षण केन्द्र के सभागार में जूम मीडिया कार्यशाला आयोजित की गई जिसमें इस कार्यक्रम को लेकर विस्तार से मीडिया को बताया गया। यह भी बताया गया कि यदि बीस दिन के अंदर किसी तरह की दिक्कत होती है तो निगरानी के लिए टीम तैयार है।

यह हो सकती है परेशानी पर नहीं डरें

-हल्का बुखार और इंजेक्शन साइट पर हल्का दर्द।

-सांस लेने में तकलीफ और सीने में दर्द।

- हाथ व पैरों में सूजन अथवा दर्द का होना।

- उल्टी के साथ या बिना उल्टी के पेट दर्द होना।

-कमजोरी महसूस और सिर में तेज दर्द का होना।

गर्भवती महिलाएं वैक्सीन के बाद भी यह करें

यूनिसेफ के प्रशिक्षक द्वारा जूम के माध्यम से बताया गया कि गर्भवती महिलाएं वैक्सीन लगवाने के बाद भी कोरोना गाइड लाइन का पालन करें। दो गज की दूरी बनाकर रखें, मास्क का उपयोग करें और बार-बार साबुन से हाथ धोती रहें तो कोरोना से दूर रहेंगी और बच्चा पूरी तरह स्वस्थ्य होगा। शहडोल जिले में लगभग 38 हजार 255 गर्भवती महिलाएं जिनका इस अभियान के दौरान टीकाकरण किया जाएगा।

मीडिया कार्यशाला के आयोजक ही नदारद रहे

कार्यशाला में न तो सीएमएचओ पहुंचे और न ही टीकाकरण अधिकारी। कार्यशाला में सिर्फ जिला नोडल अधिकारी डॉ. पुनीत श्रीवास्तव, प्रभारी मीडिया अधिकारी धीरेन्द्र श्रीवास्तव, ईएमएनडी संदीप पटेल एवं प्रियंका गौतम ही मौजूद रहीं। इस संवेदनशील मुद्दे पर स्वास्थ्य विभाग के जिला स्तरीय अधिकारियों की मीडिया कार्यशाला आयोजित कर अनदेखी करना बेहद गंभीर लापरवाही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags