शहडोल, नईदुनिया प्रतिनिधि। शहडोल जिले में इन दिनों अपराधियों के हौसले कितने बुलंद है इसकी एक बानगी अमलाई थाना क्षेत्र में देखने को मिली। जहां चोरी के मामले के वारंटी को पकड़ने गई अमलाई पुलिस टीम पर वारंटी ने न केवल हमला कर दिया बल्कि पुलिस की वर्दी भी फाड़ दी और दांत से कई जगह काट दिया। हमले में एक एएसआइ व प्रधान आरक्षक घायल हो गए, इसके बाबजूद पुलिस कर्मियों ने उस वारंटी को पकड़ लिया। पकड़ा गया वारंटी आदतन अपराधी है। उस पर 43 मामले कायम है। पूर्व में भी उक्त आरोपित को पकड़ने गई पुलिस पार्टी पर हमला कर दांत से काटने की घटना को अंजाम दे चुका है।

वर्दी फाड़कर दांत से किया हमला : अमलाई थाने में पदस्थ एएसआइ महेंद्र सिंह व प्रधान आरक्षक मुकेश जायसवाल मुखबिर की सूचना पर 2017 में (457, 380) चोरी के मामले का फरार वारंटी रमाशंकर उर्फ गणेश लोनिया को पकड़ने उसके घर गए, जहां वो पुलिस को देख भागने का प्रयास किया जिसे पकड़ा तो पुलिस पर हमला कर दिया। इस झूमाझपटी में प्रधान आरक्षक मुकेश जैन की वर्दी फट गई, फिर आरोपित रमाशंकर प्रधान आरक्षक को दांत से काट दिया। कई जगह हमला कर दिया। इस बीच बचाव में एएसआइ महेंद्र सिंह के उंगली को काट दिया और हमला कर दिया। जिससे दोनों पुलिसकर्मी घायल हो गए। बावजूद इसके दोनों पुलिसकर्मियों ने उसे भागने नहीं दिया और पकड़कर थाने ले आए। जिसके बाद पुलिस पर हमला करने पर अमलाई पुलिस ने 353, 294, 506, 332, 186 के तहत मामला कायम कर लिया है।

43 अपराध कर चुका है आरोपित : अमलाई थाना क्षेत्र के उसलापुर छोटी अमलाई निवासी रमाशंकर उर्फ गणेश लोनिया वर्ष 2017 में चोरी के मामले में अमलाई पुकिस ने पकड़ा था, जिसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया था। जिसके बाद जमानत पर रिहा हुआ गणेश को न्यायालय ने 20 सितम्बर 2021 को गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। जिस पर अमलाई पुलिस पकड़ने गई थी, जहां उसने पुलिस पर हमला कर दिया।

अमलाई पुलिस पर हमला की दूसरी घटना : अमलाई पुलिस पर हमला करने की यह दूसरी घटना है। दो माह पहले उत्पात मचाकर कुछ युवकों को पकड़ने गई पुलिस पर गाड़ी चढ़ाकर मारने के प्रयास में एक आरक्षक को चोटें आई थी, यह दूसरी घटना सामने आई है।

Posted By: Brajesh Shukla

NaiDunia Local
NaiDunia Local