शहडोल। (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मासूमों की लगातार हो रही मौत के बीच अब निजी नर्सिंग होम की लापरवाही सामने आई है। शहर के एक निजी नर्सिंग होम में एक नवजात की मौत हो गई। निजी अस्पताल प्रबंधन ने स्वजनों को गुमराह करते हुए मृत नवजात को जिला अस्पताल के एसएनसीयू वार्ड में भर्ती करने का सुझाव दे दिया। परेशान स्वजन नवजात को लेकर जिला अस्पताल आ गए। जब एसएनसीयू के कर्मचारियों ने नवजात को देखा तो वह मृत अवस्था में था। सीएस ने बताया कि उक्त नवजात कटकोना गांव से एक निजी नर्सिंग होम में था। उसकी उम्र लगभग 3 माह की थी। उसका उपचाार पहले से उक्त नर्सिंग होम में चल रहा था।

बधाों की मौत के बाद हरकत में आया प्रशासन, दो महिला सुपरवाइजर को किया निलंबित

कुपोषित बच्चों को एनआरसी (पोषण पुनर्वास केंद्र) में भर्ती न कराने को लेकर लापरवाही बरतने और शहडोल जिला अस्पताल में लगातार हो रही बच्चों की मौत के बाद कलेक्टर डॉ सत्येंद्र सिंह ने दो सुपरवाइजरों को निलंबित किया है। बुढ़ार सुपरवाइजर दमयंती सिंह व जयसिंहनगर सुपरवाइजर चंद्रकली पटेल निलंबित किया गया है। जिले में 1328 कुपोषित बच्चों में से सिर्फ एनआरसी में 54 कुपोषित बच्चों को भर्ती कराया गया। बच्चों को भर्ती न कराने के मामले में कलेक्टर ने दोनों सुपरवाइजारों को निलंबित किया है।

एक बच्चा गंभीर मिला, उसे जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती

कलेक्टर डॉ सतेंद्र सिंह को सूचना मिली कि तुर्री और धनौरा गांव में कुछ बच्चे बीमार हैं। कलेक्टर ने इस मामले को गंभीरता से लिया और तत्काल बीएमओ की टीम को गांव जाने का आदेश दिया। कलेक्टर के निर्देश पर टीम तत्काल गांव की ओर रवाना हुई और बीमार बच्चों का उपचार किया। खंड चिकित्सा अधिकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिंहपुर और उनकी टीम द्वारा दूरस्थ ग्राम धनौरा के उप स्वास्थ्य केंद्र तुर्री में 15 बच्चों का उपचार किया गया एवं उन्हें चिकित्सकीय सुविधाएं प्रदान करते हुए उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव तथा कुपोषण से बचाव एवं शिशुओं की बीमारी में सजग रहने तथा तत्काल निकटतम अस्पताल में दिखाने की समझाइश दी गई एवं 1 बच्चा का स्वास्थ्य अधिक खराब होने पर उसे जिला चिकित्सालय शहडोल में भर्ती कराया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस