धनपुरी (नईदुनिया न्यूज) अतिक्रमण के खिलाफ जिला प्रशासन के द्वारा शुरू किए गए अभियान में धनपुरी नगर अछूता रह गया । यहां पर सालों से शासकीय जमीनों पर अतिक्रमण करके कहीं घर बने हैं तो कहीं पर दुकानों का निर्माण करा लिया गया है । इतना ही नहीं अभी भी खुलेआम अतिक्रमण किया जा रहा है और इन पर कार्यवाही दूर की बात लग रही है । अतिक्रमण को लेकर नगर पालिका धनपुरी हमेशा से उदासीन बनी रही है। कार्यवाही ना होने से जहां इनके हौसले बुलंद है तो वही शासकीय जमीनों पर अतिक्रमण को देखा जा सकता है । कुछ समय पहले तक अतिक्रमण के खिलाफ बडी कार्यवाही होने की बात कही जा रही थी जो अब कहीं ना कहीं लगता है ठंडे बस्ते में डाल दिया गया । यही कारण है कि अतिक्रमणकारियों के हौसले बुलंद है और वह अभी भी अतिक्रमण करने से पीछे नहीं हट रहे हैं।

आखिर कहां रूकी है कार्रवाई

वैसे तो नगर पालिका धनपुरी के द्वारा अतिक्रमण को लेकर उन लोगों को चिन्हित किया गया था जिन पर कार्यवाही की जानी थी लेकिन पता नहीं ऐसा क्या कारण है कि अभी तक इस पर कार्यवाही देखने को नहीं मिल रही है । नगर पालिका धनपुरी के ठीक पीछे झिरिया में सालों से अतिक्रमण काबिज है इसे हटाने को लेकर वार्ड के पूर्व पार्षद ने कई बार नगर पालिका को ज्ञापन भी दिया इतना ही नहीं कुछ माह पूर्व नगर पालिका धनपुरी के द्वारा यहां पर अतिक्रमण हटाने को लेकर कार्यवाही की जा रही थी जो किन्ही कारणवश रोक दी गई थी और कुछ समय की मोहलत दी गई थी लेकिन कई माह बीत चुके हैं मामला जस का तस है।

ज्ञापन देने के बाद भी कार्रवाई शून्य

नगर पालिका धनपुरी के द्वारा यहां पर विकास के काम को लेकर रूपरेखा तैयार की गई है लेकिन अतिक्रमण ने उस विकास कार्य को रोक दिया सवाल यह उठता है कि आखिर यहां से अतिक्रमण क्यों नहीं हटाया जा रहा है जबकि इसे हटाने को लेकर कई बार ज्ञापन दिए जा चुके हैं वही इसके ठीक सामने शासकीय स्कूल की जमीन पर भी अतिक्रमण देखा जा सकता है और ऐसे में अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन की उदासीनता इनके हौसले को बुलंद करने का काम कर रही है।

नगर की तस्वीर बिगड़ गई

अतिक्रमण के कारण ही आज नगर की तस्वीर बदल गई है । नोटिस दिए जाने के बाद जिस तरह से अतिक्रमण होते रहे वह कहीं ना कहीं प्रशासनिक उदासीनता का भी नतीजा है। सार्वजनिक स्थानों पर अतिक्रमण का सबसे अधिक प्रभाव देखा जा सकता है यहां पर जिस तरह से अतिक्रमण किया गया है उसे हटाने की लंबे समय से मांग की जा रही है क्योंकि यहां पर कई कार्यक्रमों का आयोजन होता है जोकि आप परेशानी का कारण बन रही है बाजार रंगमंच मैदान हो या फिर गोल बाजार कभी यहां पर मैदान का आकार बडा होता था लेकिन आज अतिक्रमण ने इन मैदानों की तस्वीर को ही बदल दिया।

जहां थी चौड़ी सड़कें अब सिकुड़ गया रास्ता

धनपुरी पोस्ट ऑफिस से लेकर बुढार साइडिंग तक सड़क के दोनों तरफ अतिक्रमण का हाल देखा जा सकता है। आगे बढ़ाकर कई ने मकानों और दुकानों का निर्माण करा दिया और नगर पालिका की कार्यवाही सिर्फ नोटिस तक ही सीमित रह गई यहां पर चौडी सड़कें सकरी देखने को मिलने लगी। बढ़ता यातायात अब लोगों के लिए भी परेशानी का कारण बनता जा रहा है लेकिन सवाल यह उठता है कि अतिक्रमण को लेकर कार्रवाई कब शुरू होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags