शहडोल, नईदुनिया प्रतिनिधि। जिले के बाणसागर बांध में तेजी से पानी की आवक होने के कारण लबालब पानी भर गया है और क्षमता के अधिक पानी की आवक होने एवं तेजी से जल स्तर बढ़ने के कारण बुधवार को तीन रेडियल गेट खोले गए हैं, जिनसे 500 क्यूमेक्स पानी बाहर निकाला जा रहा है। दोपहर 12.20 पर पहला गेट खोला गया। इसके बाद लगातार कुछ मिनट के अंतराल में दो औ गेट खोले गए हैं। फिलहाल तीनों गेट से पानी छोड़ा जा रहा है और अधिकारी नजर रखे हुए हैं। बांध के ऊपरी इलाकों में तेज वर्षा के कारण बांध में पानी आवक बढ़ने कारण गेट खोलने पड़े हैं। दो साल बाद बांध के गेट खोलने की जरुरत पड़ी है।

कार्यपालन यंत्री बाणसागर पक्का बांध संभाग क्रमांक-तीन पीके त्रिपाठी ने बुधवार की सुबह कलेक्टर शहडोल, सतना, सीधी और सिंगराैली लिखित सूचना देकर बता दिया था कि बुधवार की दोपहर 12.00 बजे तक बांध के गेट खोले जाएंगे, जिसकी तैयार चल रही है। उन्होंने बताया कि बुधवार की सुबह 8.00 बजे बांध पूरी तरह भर चुका है। बांध में क्षमता के अनुसार जल भराव रखने के लिए 500 क्यूमेक्स पानी रेडियल गेट से निकालने का निर्णय लिया गया है।जल की आवक को देखते हुए दोपहर 12.00 बजे गेट खोला जाएगा।

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक शहडोल, सतना, सीधी और सिंगरौली को भी सूचना दी गई है।साथ ही विभागीय मैदानी अमले को अलर्ट किया गया है। वहीं एक सप्ताह से जलभराव बढ़ रहा था और अलर्ट जारी किया गया था कि कभी गेट खोलने पड़ सकते है। इसकी मुनादी भी ग्रामीण क्षेत्रों में कराई गई है, ताकि लोग नदी व जल बहाव वाले क्षेत्र से दूर रहें। कार्यपालन यंत्री ने बताया कि बांध की कुल क्षमता 341.64 मीटर तक पानी सुरक्षित रखते हुए गेट खोल जा रहे हैं। बांध में क्षमता से अधिक पानी को निकाला जा रहा है। अभी बांध में जब तक जल भराव बढ़ेगा गेट खुले रहेंगे।

Posted By: Mukesh Vishwakarma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close