शहडोल(नईदुनिया प्रतिनिधि)।

बचपन में खिलौनों से नहीं खेला तो फिर बचपन कैसा । खिलौने से खेलने की सही उम्र जन्म से लेकर छह साल तक की होती है । जब बच्चे खिलौनों से खेलते हैं तो उनका मानसिक और बौद्धिक विकास होता है ।जिले के 1599 आंगनबाड़ी केंद्रों में खिलौनों की कमी है इस कमी को दूर करने के लिए केंद्रों में खिलौना बैंक तैयार किया गया है और लोगों से कहा जा रहा है कि अपने घर में जो खिलौने रखे हैं उनको दाान करें जिससे आंगनबाड़ी के बच्चे खेल सकें । एक तरह से खिलौना दान अभियान चलाया जा रहा है । 24 मई से इस खिलौना दान अभियान की शुरूआत हुई है । जो बच्चे बड़े हो गए हैं वे अपने खिलौने हंसकर दान कर रहे हैं जिससे आंगनबाड़ी में आने वाले बच्चे खेल सकें ।

जनसहयोग से चलाया जा रहा अभियानः खिलौना बैंक में खिलौने दान करने के लिए जिले के 186 शहरी और 1413 ग्रामीण आंगनबाड़ी केंद्रों में अभियान शुरू हो गया है । घर घर जाकर खिलौना दान करने के लिए लोगों को प्रेरित किया जा रहा है । पैसे से संपन्ना लोग बाजार से खिलौने खरीदकर खुद आंगनबाड़ी केंद्र जाकर दान कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि जब पर्याप्त खिलौने केंद्रों में होंगे तो बच्चों का खेल खेल में मानसिक व बौद्धिक विकास होगा । इससे बच्चों की उपस्थिति भी केंद्रों में बढ़ेगी ।ऐसे में बच्च्‌चों का मन लगेगा और उनका विकास होगा । अभी केंद्रों में खिलौने पर्याप्त मात्रा में नहीं हैं जिससे बच्चों का संपूर्ण विकास अवरूद्ध हो रहा है ।

लोग आएं आगे और दान करें खिलौनाः इस अभियान की शुरूआत में कलेक्टर ने जिले के लोगों को संदेश दिया है कि वे अपने घर में रखे अच्छे खिलौनों को दान करने आगे आएं । सही स्थिति वाले खिलौनों को ही दान करने कहा गया है । मंगलवार को इसकी शुरूआत हो गई है और इस अभियान को अच्छा रिस्पोंस मिल रहा है । आंगनबाड़ी कार्यकर्ता गीता मिश्रा बताती हैं कि उनको लोगों ने बुलाकर खिलौने दाान किए हैं और लोगों में इसको लेकर उत्साह है ।

....

यहां की गई है खिलौना बैंक की स्थापना

परियोजना कार्यालय का पता अधिकारी

शहरी शहडोल बाल विकास परियोजना कार्यालय पटेल नगर शहडोल आनंद अग्रवाल

सोहागपुर परियोजना कार्यालय सेंट्रल बैंक के पास कल्याणपुर आनंद अग्रवाल

बुढ़ार वार्ड नंबर सात अंबेडकर नगर बड़ा तालाब के पीछे एनएन खान

गोहपारू परियोजना कार्यालय पशु चिकित्सालय के पास गोहपारू सतवंत कौर हूरा

जयसिंहनगर परियोजना कार्यालय जनपद के पीछे बीआरसी के सामने दीप्ति द्विवेदी

ब्यौहारी परियोजना कार्यालय जनपद पंचायत परिसर ब्यौहारी सुनीता रजक

नोट :इन कार्यालयों के अलावा आसपास के आंगनबाड़ी केंद्रों में भी खिलौना बैंक तैयार किए गए हैं ।

.....

खिलौना बैंक में या आंगनबाड़ी केंद्रों में लोग अपने घर में रखे सही स्थिति वाले खिलौने दान कर सकते हैं । मंगलवार से खिलौना दान अभियान शुरू हो गया है । पहले ही दिन लोगों ने अच्छा रिस्पोंस दिया है और खिलौने दान किए हैं । जब आंगनबाड़ी केंद्रों में पर्याप्त खिलौने होंगे तो बच्चों का मन भी लगेगा ।

शालिनी तिवारी

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग शहडोल ।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close