शाजापुर। जिले में बुआई का काम तेजी से चल रहा है। अब तक 85 फीसद क्षेत्र में बुआई पूरी हो चुकी है। वर्तमान में कुछ जगहों पर गेहूं की ही बुआई बची है। वहीं मौसम की अनुकूल के चलते इस बार फसलों के बेहतर उत्पादन की उम्मीद है।

गुलाबी ठंड ने क्षेत्र में दस्तक दे दी हैं। सुबह व शाम को तो ठंड के चलते लोग गर्म कपड़े पहनने को मजबूर हैं। हालांकि दोपहर को हलकी गर्मी का अहसास जरूर होता है। वर्तमान का मौसम रबी फसलों की बुआई से लेकर बढ़वार सभी के लिए अनुकूल है। सरसों व चना फसल तो पहले ही लगाई जा चुकी है। जबकि गेहूं फसल की बुआई का कार्य चल रहा है। जिले में दो लाख 54 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में बुआई का काम हुआ है। इसमें से एक लाख 95 हजार हेक्टेयर गेहूं तो 38 हजार हेक्टेयर चना फसल की बुआई का रकबा है जबकि शेष में अन्य फसलें शामिल है। जिले में वर्तमान की स्थिति तक 85 फीसद क्षेत्र में बुआई का काम निपट चुका है। शेष 15 फीसद क्षेत्र में भी एक सप्ताह के भीतर बुआई पूरी हो जाएगी। इधर कृषि विशेषज्ञ किसानों को प्रमाणित बीज तथा बीजोपचार करके ही बुआई के लिए सलाह दे रहे हैं। उल्लेखनीय है कि बीजोपचार करके बुआई करने से कई तरह की समस्याओं से पौधा बच जाता है और स्वस्थ पौधे में उत्पादन भी ज्यादा होता है।

कमांड क्षेत्र में चल रहा काम

जहां एक तरफ जिले के अनेक गांवों में बुआई हुए 15 से 20 दिन हो गए हैं वहीं शाजापुर के आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में किसान बुआई का कार्य कर रहे है। चीलर डैम से निकली नहरों के माध्यम से मिल रहे पानी से बुआई का कार्य किया जा रहा हैं। डैम व निकली दोनों नहरों के माध्यम से क्षेत्र के 47 से ज्यादा गांवों के लोगों को बुआई के लिए पानी मिल रहा है। क्षेत्र में अधिकांशतः गेहूं की ही फसल लगाई गई है। उल्लेखनीय है कि अल्प भराव की स्थिति में जब भी नहरों से पानी नहीं दिया जाता है तब कमांड क्षेत्र के खेत खाली रहते हैं या इसमें कम पानी में उत्पादित होने वाली चना फसल लगाई जाती है। हालांकि इस बार तो डैम लबालब भरा होने से पूरे रबी सीजन में सिंचाई के लिए भरपूर पानी मिलेगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस