शाजापुर। तापमान में उतार-चढ़ाव का दौर चल रहा है। इधर मंगलवार को आसमान में हलके बादल भी छाए दिखे। इसके चलते गर्मी के साथ ही उमस का भी अहसास हुआ। मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल इसी तरह का माहौल रहेगा।

सोमवार की अपेक्षा मंगलवार को आसमान पर कुछ ज्यादा बादल दिखाई दिए। धूप व छांव का दौर चलता रहा। गर्मी व उमस दोनों से लोग पसीना-पसीना होते रहे। शाम को भी गर्म हवा चलती रही। इस दिन अधिकतम तापमान 41.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि न्यूनतम तापमान 23.3 डिग्री सेल्सियस रहा। गर्मी बढ़ने के साथ ही कई जगह पेयजल को लेकर समस्या आने लगी है। भूजल स्तर में गिरावट आने से कई हैंडपंपों ने पानी उगलना बंद कर दिया है। जहां हैंडपंप चल रहे हैं वहां पर लोगों का पानी भरने के लिए तांता लगा रहता है।

तापमान की स्थिति

तापमान की स्थिति की बात करें तो पिछले दो दिनों लगातार तापमान 40 डिग्री के नीचे रहा था। 22 मई को अधिकतम तापमान 39.9 डिग्री सेल्सियस था वहीं अगले दिन सोमवार 23 मई को तापमान 39.1 डिग्री था। वहीं 24 मई मंगलवार को तापमान 41.5 डिग्री हो गया। उल्लेखनीय है कि 19 एवं 20 मई दोनों ही दिन अधिकतम तापमान 44 डिग्री से ज्यादा रहा था। इस तरह तापमान में उतार चढ़ाव का दौर लगातार चल रहा है।

ज्यूस, आइसक्रीम सहित शीतलपेय की डिमांड

गर्मी के मौसम में हर कोई ठंडक पाना चाहता है। इन दिनों गन्नाा सहित फलों के ज्यूस की मांग बनी हुई है। बाजार में लोग तरबूज व खरबूज भी ग्रामीण क्षेत्रों से लाकर बेची जा रही है। शहर के विभिन्ना चौराहों सहित एबीरोड, बेरछा रोड पर कुछ किसान ट्रेक्टर ट्रालियों में यह फल लेकर विक्रय करते देखे जा सकते हैं। यहां पर ग्राहकों का भी तांता बना रहता है। इधर दोपहर से लेकर देर शाम तक आईसक्रीम, बर्फ गोला, शीतलपेय का लुत्फ लेने के लिए भी लोग दुकनों पर आते जाते रहते हैं। शाम के समय ग्राहकी काफी बढ़ जाती है। इधर फ्‌रिज, कूलर, पंखों की भी मांग बनी हुई है। विभिन्ना इलेक्ट्रानिक्स शोरूमों पर लोग इन सामग्री की खरीदी करते देखे जा सकते हैं तो कई लोग रिपेयर के लिए दुकानों पर पहुंचते हैं।

छाए बादल, हुई बूंदाबांदी

कालीसिंध। क्षेत्र में पिछले दिनों से बादलों ने डेरा डाले रखा है। इसी के चलते सोमवार की रात में और अलसुबह हल्की बूंदाबांदी हुई, जिससे सुबह कुछ समय हल्की ठंडी हवा से राहत मिली, बाद में फिर बादल छंटने पर तेज धूप खिली, दिनभर गर्मी का एहसास हुआ।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close