आगर मालवा (नईदुनिया न्यूज)। जिला मुख्यालय के समीप ग्राम कांकर में गरबा करने के लिए बाहर से बुलाई गई लड़कियों को लेकर विवाद हो गया। इसमें दोनों पक्षों के बीच जमकर लाठी- डंडे चले। गांव के दलित व दबंगों के बीच हुए इस विवाद में दोनों पक्षों के नौ लोग घायल हो गए। इस विवाद का किसी ने वीडियो बना लिया, जो सामने आया है। पुलिस ने दोनों पक्षों के आठ लोगों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है। संबंधित वीडियो में महिलाएं भी चप्पल, पत्थर व ईंट से हमला करती दिखाई दे रही हैं।

पुलिस के अनुसार ग्राम कांकर में अजा वर्ग के लोगों द्वारा अपनी बस्ती में दुर्गा प्रतिमा विराजित की गई हैं। शनिवार को यहां पर गरबा करने के लिए दो लड़कियों को बाहर से बुलाया गया था। बाहर से लड़कियां बुलाने की बात पर ही विवाद हुआ।

दबंगों का आरोप था कि माता के पण्डाल में लड़कियों द्वारा फूहड़ डांस किया जा रहा था। इसे रोकने के लिए हम बातचीत करने गए थे। इसी दौरान अजा वर्ग के लोग हम से मारपीट करने के लिए उतार हो गए। यहां तक कि महिलाओं ने भी चप्पल उठाकर मारी। जबकि मामले में कुछ लोगों का कहना है कि अजा वर्ग के लोगों द्वारा नचनिया लाकर जोर-जोर से स्पीकर बजाया जा रहा था। इसी बात को लेकर विवाद हुआ।

दूसरे पक्ष का आरोप- लड़कियों पर उड़ा रहे थे रुपये

अजा वर्ग के लोगों का कहना हैं कि गरबें के दौरान दबंग लोग नशे में धुत्त हो कर आए थे तथा वे लड़कियों पर रूपए उड़ा रहे थे। यही बात हमें बुरी लगी। इसी बात को लेकर विवाद हुआ। ज्ञात हो कि रात को जो विवाद हुआ था उसे तो जैसे-तैसे लोगों ने शांत करा दिया था, लेकिन रविवार सुबह फिर इसी बात को लेकर विवाद हुआ। जिसमें जमकर दोनों पक्षों ने एकदूसरे पर लाठी, डंडे का उपयोग किया। एएसपी नवल सिंह सिसौदिया ने बताया कि लड़कियों को बुलाने की बात पर विवाद हुआ हैं। दोनों पक्षों पर कार्रवाई की गई हैं।

नौ हुए घायल

विवाद में तूफान सिंह पिता नारायण सिंह, श्याम सिंह पिता जोरावर सिंह, मानसिंह पिता भुवान सिंह, बालक बाई पति नारायण सिंह घायल हो गए। वही दुसरे पक्ष के सुजान सिंह पिता भागीरथ, जगदीश पिता बगदु, प्रभु पिता चंदरलाल, रम्बाबाई पति मोहन, जगदीश पिता बापू घायल हुए। अजा वर्ग के लोगों ने अजाक थाने में सवर्ण वर्ग के तीन लोगों के विरूद्ध प्रकरण दर्ज कराया हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close