आगर मालवा। क्षेत्र में मकर संक्रांति पर्व उत्साह से मनाया गया। लोगों ने स्नान के बाद दान पुण्य किए तो बधाों व बड़ों तथा महिलाओं ने जमकर पतंगबाजी का आनन्द लिया। प्रसिद्घ बैजनाथ मंदिर में बाबा का आकर्षक श्रृंगार किया गया। मंदिर में दर्शनार्थियों की काफी भीड़ रही।

गायों को खिलाया चाराः मकर संक्रांति पर स्नान के बाद दान की भी परम्परा हैं। जिसके अन्तर्गत बड़ी संख्या में लोगों ने मंदिरों में दर्शन किए तथा वहा तिल्ली व गुड़ का दान करने के बाद गायों को चारा खिलाया। छावनी झंडा चौक, पुरान अस्पताल चौराहा व माधव गौशाला में बड़ी संख्या में लोग पहुंचे और गायों को चारा खिलाकर पुण्य प्राप्त किया। माधव गौशाला में गायों को चारा खिलाने के लिए आने वाले लोगों के लिए विशेष व्यवस्था की गई थी। कई स्थानों पर हरा चरा भी लोग गाय को खिलाते नजर आए। माधव गौशाला पहुंच कर बड़ी संख्या में महिलाओं ने गायों का पुजन भी किया।

दर्शन को उमड़े श्रद्धालुः मकर संक्रांति के अवसर पर बड़ी संख्या में लोग बाबा बैजनाथ के दर्शन करने पहुंचे। पर्व व त्यौहारों पर बैजनाथ महादेव मंदिर में काफी संख्या में दर्शनार्थी मंदिर जाते हैं। सुबह से ही दर्शनार्थी बैजनाथ पहुंचने लगे थे, दोपहर बाद मंदिर की साफ सफाई कर पूजारी भभूत पुरी गोस्वामी, पुर्व पार्षद मनीष सोलंकी व उनके साथियों ने बाबा बैजनाथ का आकर्षक श्रृंगार किया। गर्भगृह को फुलों तथा पतंग से सजाया। श्रृंगार के बाद बड़ी संख्या में लोगों ने बाबा के दर्शन किए। परिसर में स्थित अन्य मंदिरों में भी दर्शनार्थियों की भीड़ रही, वहा पर भी जा कर लोगों ने दान पुण्य किए।

मकर संक्रांति के एक दिन पुर्व से ही बधो व युवा पतंगबाजी करने लगे थे। शुक्रवार सुबह 4 बजे से ही बड़ी संख्या में लोग पतंग उड़ाने के लिए घर की छतों पर पहुंच गए और पतंगबाजी करने लगे। कई लोगों ने घरों की छत पर म्यूजिक सिस्टम भी लगा रख था। संगीत सुनते हुए लोग सुबह से शाम तक पतंगबाजी करते रहे। पतंग उडाने में बालक, बालिकाओं के साथ महिलाएं भी पीछे नही रही। अधिकांश घरों में मकर संक्रांति के अवसर पर तिल्ली व गुड़ से लड्डू व अन्य मिठाईयां बनाई गई थी। कई महिलाओं ने दुसरी सुहागन महिलाओं व युवतियों ने हल्दी व कुमकुम लगाकर श्रृंगार की सामग्री भी इस अवसर पर भेंट की।

हर्षोल्लास से मनाया मकर

सक्रांति का पर्व

सुसनेर। नगर सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र में शुक्रवार को मकर सक्रांति का त्योहार बड़े हर्षोँहल्लास के साथ मनाया जा रहा है। दिन भर छतों पर पतंग उडाने की धूम मची हुई थी। सुबह से ही बधो एवं युवक छतों पर पतंग उड;ाने में मशगुल रहे। रंगबिरंगी पतंगों से आकाश शरोबार हो गया। चारो और से काटा है काटा है कि आवाजे आती रही। शहर में दिन भर डीजे की धुन पर युवाओ ने पतंगबाजी का आनंद लिया गया। दिन भर वो काटा है ये काटा की आवाजें गुंजायमान रही। परंपरानुसार मकर संक्राति पर लोगों ने दान पुण्य भी किया। कई धर्मालु लोगों ने गायों को चारा डाला। वहीं महिलाओं ने वस्तुएं तिल के लड्डू देकर दान किया। छोटे छोटे बधाों के साथ बड़े भी कटी हुई पतंग लूटने में इधर उधर दौड़ लगाते रहे। वैसे कई लोगो के द्वारा आज भी मकर संक्रांति का त्यौहार मनाया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local