बड़ौद। आगर जिले के बड़ौद क्षेत्र में शुक्रवार दोपहर आकाशीय बिजली गिरने से दो बच्चों की मौत हो गई, जबकि तीन युवक गंभीर रूप से झूलस गए। घटना दोपहर 1 बजे ग्राम खेड़ा नारेला में हुई।

जानकारी के अनुसार प्रतापसिंह पिता सरदारसिंह (35), शिवसिंह पिता भगवानसिंह (23), बालूसिंह पिता शंकरसिंह (14), उमरावसिंह पिता बजेसिंह (10) सभी निवासी नारेला एवं कालू पिता पुरा (46) निवासी बड़ागांव, तहसील आलोट, जिला रतलाम जंगल स्थित खेत पर गए थे, तभी बारिश होने लगी। इससे बचने के लिए सभी बरगद के पेड़ के नीचे खड़े हो गए। इसी दौरान पेड़ पर बिजली गिरी और नीचे खड़े बालक व युवक चपेट में आ गए।

गंभीर युवक घसीटते-घसीटते पहुंचा गांव

बालू व उमराव ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि शेष तीन युवक गंभीर रूप से झूलस गए। कुछ देर में जब प्रतापसिंह को होश आया तो उसके आधे शरीर ने काम करना बंद कर दिया था। बावजूद इसके किसी तरह घसीटते-घसीटते वह गांव में पहुंचा और ग्रामीणों को घटना की जानकारी दी। इसके बाद सभी को बड़ौद के शासकीय अस्पताल लाया गया। जहां पर बालू एवं उमराव को मृत घोषित किया। पीएम के बाद लाश परिजनों को सौंप दी गई। शेष का इलाज चल रहा है।

कालापीपल में 15 मिनट झमाझम

शाजापुर/कालापीपल। शाजापुर व आगर जिले में प्री-मानसून सक्रिय है। शुक्रवार को कालापीपल में 15 मिनट झमाझम बारिश हुई। शाजापुर शहर में कुछ देर बूंदाबांदी हुई, जबकि आगर, बड़ौद, शुजालपुर, बेरछा, कानड़, नलखेड़ा, सुसनेर, सोयतकलां, तनोड़िया, अकोदिया, बोलाई में भी मौसम रूमानी रहा। पूरे दिन बादल छाए रहे। मौसम विशेषज्ञ के अनुसार दोनों जिलों में शनिवार से प्री-मानसून ज्यादा सक्रिय रहेगा। एक-दो दिन तक लगातार बारिश होगी। वहीं 20 जून के बाद मानसून का आगाज हो जाएगा।

कालापीपल में शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन बारिश हुई। इससे समूचा शहर तरबतर हो गया। यहां दिनभर उमस के बाद शाम 4 बजे तेज हवा के बाद जोरदार बारिश शुरू हो गई, जो 15 मिनट तक होती रही। इससे उमस एवं गर्मी से परेशान हो रहे लोगों ने राहत की सांस ली। तहसील कार्यालय में गुरुवार को सुबह 7 बजे बीते 24 घंटे में 24 मिमी बारिश दर्ज की गई। ग्राम बेहरावल में शाम को आसमान में छाए बादल बरस पड़े। नालियों का पानी सड़क तक आ गया। कुछ गलियों में तो अचानक हुई तेज बारिश से नाले जैसी स्थिति निर्मित हो गई। हालांकि, बारिश रूकने के बाद समूचा पानी निकल गया।

शाजापुर में दोपहर में बूंदाबांदी

इधर, शहर में दोपहर 1 बजे कुछ देर के लिए बूंदाबांदी हुई। तेज हवा के साथ बूंदाबांदी भी होती रही, जो 2.30 बजे तक जारी रही। इससे माहौल में ठंडक घुल गई। मौसम विशेषज्ञ सत्येंद्र धनोतिया ने बताया कि 13 व 14 जून को पूरे जिले में प्री-मानसून सक्रिय रहेगा। दिन में कई बार बारिश होने के आसार बन रहे हैं।

पारा और उमस बढ़ी

शुक्रवार को भले ही मौसम में ठंडक रही लेकिन पारे और उमस दोनों में ही बढ़ोतरी हुई। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को अधिकतम तापमान 36.2 डिग्री एवं न्यूनतम 24.7 डिग्री था, जबकि शुक्रवार को पारे में बढ़ोतरी हुई। अधिकतम 37.2 डिग्री एवं न्यूनतम 26.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं आर्द्रता सुबह 67 एवं शाम को 55 प्रतिशत रही।

रिमझिम बारिश से मिली राहत

तनोड़िया। शुक्रवार दोपहर में हुई रिमझिम बारिश से गर्मी में आमजन को राहत मिली। किसान भी वर्षा पूर्व खेती की बुआई की तैयारियों में जुटने लग गए।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close