Navratri 2021: शाजापुर। नवरात्र के दौरान श्रद्धालु शक्ति की भक्ति में डूबे हुए हैं। माता मंदिरों में दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं का तांता सा लगा हुआ है। ऐसा ही एक मंदिर जिले के कालापीपल के समीप है। मां पार्वती का यह मंदिर भक्तों की आस्था का केंद्र है। मंदिर की विशेषता यह है कि यह दो नदियों के बीच स्थित है। इस मंदिर की सीढ़ियां सीहोर जिले में है तो मंदिर शाजापुर जिले में है। मान्यता है कि यहां पर मां पार्वती ने तपस्या की थी इसीलिए मां की देहरी मानकर इस स्थल का नाम देहरीघाट पड़ा।

मंदिर में मां पार्वती, सिंह वाहिनी मां दुर्गा तथा मां लक्ष्मी तीन देवियां विराजमान है। मंदिर के पीछे माता पार्वती नदी शांत भाव से बहती है तो मंदिर के सामने अजनाल नदी है। मंदिर की उत्तर दिशा में दोनों नदियों का संगम होता है। मां के मंदिर की दांई और भगवान भोलेनाथ का शिवालय तो बांई और पंचमखी हनुमान तथा मध्य में प्रमुख नवग्रह शनि मंदिर है।

नवरात्र के दौरान यहां पर दर्शनों के लिए आने वाले भक्तों की संख्या काफी ज्यादा रहती है। माता मंदिर के सामने काशी विश्वनाथ का त्रिदेव भैरव मंदिर स्थित है। इस प्रसिद्ध देहरीघाट स्थल पर सोमवती अमावस्या, शनिचरी अमावस्या सहित अन्य तीज त्योहारों पर पवित्र पार्वती नदी में स्नान ध्यान के लिए भक्त आते हैं। इस स्थल प्राकृतिक सौंदर्य भी देखने योग्य है। यहां पर धार्मिक पर्यटन को लेकर संभावनाएं हैं। News Updating...

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local